Hindi News »Punjab »Jalandhar» Five Killed On The Spot In A Collision Between Car And Tractor

इतना भयानक हादसा कि ट्राली के नीचे घुसी कार, एक ही फैमिली की निकली 5 लाशें

दरबार साहिब में माथा टेकने कार में जा रहे एक ही परिवार के पांच लोगों की एक्सीडेंट में मौत हो गई।

Bhaskar News | Last Modified - Jan 02, 2018, 06:57 AM IST

  • इतना भयानक हादसा कि ट्राली के नीचे घुसी कार, एक ही फैमिली की निकली 5 लाशें
    +7और स्लाइड देखें
    पुल पर एकदम ट्रॉली सामने आने के कारण कार ट्रॉली के पीछे जा घुसी।

    जालंधर.दरबार साहिब में माथा टेकने कार में जा रहे एक ही परिवार के पांच लोगों की एक्सीडेंट में मौत हो गई। यह हादसा सोमवार दोपहर डेढ़ बजे के करीब व्यास के पास हुआ। प्रीत नगर के रहने वाले सुरजीत सिंह सोमवार दोपहर 12 बजे के करीब कार में फैमिली को साथ लेकर निकले थे। कार बेटा रविंदर सिंह चला था। जब कार ब्यास पहुंची थी और फ्लाईओवर पर चढ़ने ही वाली थी कि कार से गन्ने से भरी ट्रॉली टकराने के बाद नीचे घुस गई।

    कार में फंसे परिवार को लोगों ने निकाला

    सुरजीत सिंह ड्राइवर के साथ वाली सीट पर बैठे थे। उन्होंने पोते नूर और नाती जपनजोत को गोद में बैठा रखा था। सिम्मी, दिल्ली से आई गुरप्रीत कौर, प्रेम कौर और पिंकी पीछे बैठी थी। रविंदर सिंह और पिंकी जख्मी हो गए। ट्रॉली टकराने से सुरजीत सिंह, सिम्मी, गुरप्रीत कौर कार में फंस गए। लोगों ने सुरजीत को बाहर निकाला। गोद में बैठे दोनों मासूम तब तक दम तोड़ चुके थे। सिम्मी और सुरजीत सिंह की मौके पर ही मौत हो गई थी। गुरप्रीत कौर और प्रेम कौर बुरी तरह से जख्मी हो गए। प्रेम को अमृतसर तो गुरप्रीत कौर को जालंधर के सत्यम अस्पताल में भर्ती करवाया गया जहां पर रात 9 बजे गुरप्रीत ने दम तोड़ दिया। घर पर नूर के पापा भूपिंदर सिंह बोले, मैंने मन्नतें मांगकर नूर को भगवान से मांगा था। शादी के 7 साल बाद घर में नूर का जन्म हुआ। तीन साल के बेटे नूर को खोकर मां बेसुध थी। नूर का चाचा रविंदर सिंह खुद को कोसते हुए कह रहा था।

    हंसते-हंसते चले गए
    जपनजोत की दादी इंदरजीत कौर बोली- उसकी आदर्श बहू चली गई। जब कार में जा रहे थे तो दोनों इतने खुश थे कि उन्हें देखकर मन खुश हो गया था। शाम को खबर आई कि सिम्मी और दोनों बच्चे उन्हें छोड़कर चले गए। जपनजोत के पापा गुरप्रीत सिंह कुछ बोल नहीं रहे थे। गुरप्रीत का प्रीत नगर में कनफेक्शनरी स्टोर है। गुरप्रीत सिम्मी के ससुर भजन सिंह का मंडी रोड पर बरदाने का बिजनेस है।

    मेडिकल स्टूडेंट गुरप्रीत ने पापा के सामने दम तोड़ा

    सुरजीत की साली पिंकी की शादी दिल्ली के प्रॉपर्टी डीलर कमलजीत सिंह के साथ हुई है। दो दिन पहले ही 19 साल की गुरप्रीत कौर मां पिंकी के साथ प्रीत नगर आई थी। गुरप्रीत मेडिकल स्टूडेंट है। पिता कमलजीत सिंह ने बड़ी बेटी के साथ दरबार साहिब में माथा टेकना था। पिंकी को कहा था कि वह सोमवार दोपहर सिटी रेलवे स्टेशन पर मिले ताकि साथ शाने-ए-पंजाब में जाएं। ट्रेन साढ़े 4 घंटे लेट थी। प्रेम कौर ने बहन पिंकी से कहा था कि वह भी कार में श्री दरबार साहिब जाने वाले हैं। कमलजीत ट्रेन में थे जब उन्हें बेटी के एक्सीडेंट का पता चला। ब्यास से गुरप्रीत कौर को सत्यम हॉस्पिटल में लाया गया। रात 7 बजकर 18 मिनट पर कमलजीत सीधे अस्पताल आए। रात 8.30 बजे गुरप्रीत की हालत और बिगड़ गई। डाॅक्टर ने पिता को आईसीयू में बुलाया। यहां पर 9 बजे गुरप्रीत पापा के सामने दम तोड़ गई।

  • इतना भयानक हादसा कि ट्राली के नीचे घुसी कार, एक ही फैमिली की निकली 5 लाशें
    +7और स्लाइड देखें
    हादसे में जान गंवाने वाली फैमिली दरबार साहिब दर्शन करने जा रही थी।
  • इतना भयानक हादसा कि ट्राली के नीचे घुसी कार, एक ही फैमिली की निकली 5 लाशें
    +7और स्लाइड देखें
    हादसे में जान गंवाने वाली सिम्मी और उसका बेटा ( फाइल फोटो)
  • इतना भयानक हादसा कि ट्राली के नीचे घुसी कार, एक ही फैमिली की निकली 5 लाशें
    +7और स्लाइड देखें
    हादसे में जान गंवाने वाला नूर ( फाइल फोटो)
  • इतना भयानक हादसा कि ट्राली के नीचे घुसी कार, एक ही फैमिली की निकली 5 लाशें
    +7और स्लाइड देखें
    कुछ दूर जाने पर ट्रैक्टर का ट्रॉली से हुक टूट गया और गन्नों से लदी ट्रॉली अलग हो गई।
  • इतना भयानक हादसा कि ट्राली के नीचे घुसी कार, एक ही फैमिली की निकली 5 लाशें
    +7और स्लाइड देखें
    हादसे के काफी देर बाद कार से लाशें निकाली जा सकी।
  • इतना भयानक हादसा कि ट्राली के नीचे घुसी कार, एक ही फैमिली की निकली 5 लाशें
    +7और स्लाइड देखें
    हादसे में जान गंवाने वाला जपनजोत। (फाइल फोटो)
  • इतना भयानक हादसा कि ट्राली के नीचे घुसी कार, एक ही फैमिली की निकली 5 लाशें
    +7और स्लाइड देखें
    हादसे में जान गंवाने वाले सुरजीत सिंह
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Jalandhar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×