--Advertisement--

होमगार्ड को 500 रुपए रिश्वत लेते पकड़ा, 2 एएसआई समेत 5 सस्पेंड

शिकायत मिली थी कि पीएपी चौक में तैनात पुलिस कर्मचारी चालान न काटने के बदले लोगों से पैसे ले रहे हैं।

Danik Bhaskar | Mar 13, 2018, 06:58 AM IST

जालंधर. करप्शन के आरोप में पुलिस कमिश्नर प्रवीण कुमार सिन्हा ने ट्रैफिक पुलिस के 2 एएसआई, 2 एचसी और होमगार्ड समेत 5 पुलिसकर्मियों को सस्पेंड किया है। सीपी को इतवार शिकायत मिली थी कि पीएपी चौक में तैनात पुलिस कर्मचारी चालान न काटने के बदले लोगों से पैसे ले रहे हैं। एडीसीपी हेडक्वार्टर गौतम सिंघल के नेतृत्व में जांच टीम बना दी। टीम ने दोपहर 1.30 से 3.30 बजे तक चौक में ट्रैप लगाया।

सिविल ड्रेस में टीम पीएपी चौक पहुंची। इसी दौरान होमगार्ड जगजीत जग्गी ने एक गाड़ी वाले को रोका, उसके कागज चेक किए। बाद में उसे कुछ पैसे लेकर छोड़ दिया। जब गाड़ी वाला पैसे देकर वापस आ रहा था तो टीम ने उससे मामला पूछा। उसने बताया कि - पुलिसकर्मी को चालान न काटने के बदले 300 रुपए दिए हैं। सारा मामला क्लियर होने पर मुलाजिम को पकड़ लिया गया। उस समय ड्यूटी पर जगजीत जग्गी के साथ एएसआई सतनाम और एचसी सुखवंत भी मौजूद थे। शाम को थाने में जब ट्रैफिक पुलिस के लिए मुलाजिम ड्यूटी खत्म करके वापस पहुंचे तो अधिकारियों ने कह दिया कि कल से वे वर्दी नहीं पहनेंगे। उन्हें करप्शन के कारण सस्पेंड किया जा रहा है।

इसके अलावा परागपुर रोड पर एएसआई गुलशन और एचसी मेयर सिंह ने भी हाईवे पर नाकाबंदी दौरान टिप्पर चालक से 200 रुपए लेकर उसे छोड़ा था। दोनों कर्मियों को भी रंगे हाथ काबू किया गया। सीपी प्रवीण कुमार सिन्हा के मुताबिक पांचों कर्मचारियों को सस्पेंड कर दिया है। सभी के विभागीय जांच के आदेश दिए गए हैं।


सिटी के एंट्री पॉइंट्स पर हैं ट्रैफिक पुलिस के फेवरेट नाके

ज्यादातर ट्रैफिक पुलिसकर्मियों के खिलाफ शिकायतें शहर के एंट्री पॉइंट्स नकोदर रोड पर वडाला चौक, पीएपी चौक, पठानकोट चौक और कपूरथला रोड पर लैदर कांप्लेक्स के पास की आती हैं। नाकों पर ट्रक वालों से एंट्री फीस ली जाती है। ज्यादातर शिकायतें पीएपी चौक से आती हैं, क्योंकि पुलिस हेडक्वार्टर के सबसे करीब है। शिकायत मिलने पर पुलिस जल्द पहुंच जाती है। सिटी रेजीडेंट्स ने पिछले एक साल में करीब 5 करोड़ के चालान कटवा कर जुर्माना भरा है। चार सालों का आंकड़ा 14 करोड़ के करीब रहा।



कोई रिश्वत मांगे तो मुझे बताएं : सीपी...मुझे पब्लिक से ही कॉल आई थी कि करप्शन हो रही है। तुरंत एक्शन लिया गया। मैं खुद चाहता हूं कि पब्लिक हमारा साथ थे। अगर कोई रिश्वत मांगता है या आप रिश्वत लेते देखते हैं तो मुझे 9878655000 पर सूचित करें।

टोल फ्री नंबर//वेबसाइट पर करें शिकायत...रिश्वत की शिकायत हेल्पलाइन नंबर 1800-1800-1000 या 0181-2226349 पर एसएसपी विजिलेंस ब्यूरो, जालंधर रेंज में कर सकते हैं। इसके अलावा वेबसाइट www.vigilancebureaupunjab.org पर भी शिकायत कर सकते हैं।