--Advertisement--

हसबैंड और वाइफ की लाश पड़ी थी रोड पर, इंग्लैंड से काम कर लौटा था 14 साल बाद

14 साल इंग्लैंड में काम करने के बाद 21 नवंबर को जसवंत सिंह अपने गांव लौटे थे।

Danik Bhaskar | Dec 28, 2017, 04:54 AM IST

माहिलपुर (होशियारपुर). गांव हंदोवाल के पास स्कूटी सवार दंपती को टक्कर मार तेज रफ्तार ट्रैक्टर-ट्राली सड़क किनारे खाई में पलट गया। हादसे में दंपती और ट्रैक्टर चालक की मौके पर ही मौत हो गई। बताया जा रहा है कि ट्रैक्टर-ट्राली पर दो अन्य व्यक्ति भी बैठे हुए थे जो मौका मिलते ही घटनास्थल से भाग खड़े हुए है। सूत्रों के मुताबिक मृतक ट्रैक्टर चालक से कुछ दवाइयां मिली हैं और उसने नशा किया हुआ था। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक वह पीछे से ही ट्रैक्टर को लहराते हुए आ रहा था।

ये था हादसा
दोपहर लगभग 11.45 बजे हरियाना निवासी जसवंत सिंह (47) पुत्र दीदार सिंह अपनी पत्नी परमजीत कौर के साथ स्कूटी पर होशियारपुर से माहिलपुर की तरफ जा रहे थे। जब वह गांव हंदोवाल कलां के पुल के नजदीक पहुंचे तो माहिलपुर की तरफ से आ रहे तेज रफ्तार ट्रैक्टर-ट्राली ने उनको टक्कर मार दी। टक्कर के बाद ट्रैक्टर चालक वाहन पर नियंत्रण नहीं रख सका और सड़क किनारे लगी लोहे की रेलिंग को तोड़ते हुए खाई में जा गिरा। ट्रैक्टर-ट्राली पलटने से चालक की भी मौत हो गई। मृतक ट्रैक्टर चालक की पहचान अमरीक सिंह पुत्र मंगल सिंह निवासी काजी कोट रोड तरनतारन के रूप में हुई है। चब्बेवाल पुलिस ने वाहनों और शवों को कब्जे मे लेकर कार्रवाई शुरू कर दी है। ट्रैक्टर चालक सैला खुर्द की पेपर मिल से ट्राली खाली करके लौट रहा था।

14 साल बाद इंग्लैंड से लौटा था जसवंत सिंह

हादसे में काल का ग्रास बने जसवंत सिंह के बहनोई कुलविंदर सिंह निवासी हरियाना ने बताया कि 14 साल इंग्लैंड में काम करने के बाद 21 नवंबर को जसवंत सिंह अपने गांव लौटे थे। उनके दो बच्चे हैं जिनमें एक दसवीं और दूसरा आठवीं में पढ़ता है। वह पत्नी के साथ माहिलपुर के पास जठेरों में माथा टेकने लिए जा रहे थे।