Hindi News »Punjab »Jalandhar» Mummy Assault On The Mother At Home

बिजनेसमैन की मां पर घर में घुसकर कातिलाना हमला, बेडरूम में मिलीं खून से लथपथ

दो बीवियों को लेकर तनाव चल रहा है। हमला रात 6.45 से लेकर 8 बजे के बीच हुआ है।

bhaskar news | Last Modified - Dec 30, 2017, 06:13 AM IST

  • बिजनेसमैन की मां पर घर में घुसकर कातिलाना हमला, बेडरूम में मिलीं खून से लथपथ

    जालंधर.करोलबाग में शुक्रवार रात मोबिल ऑयल व्यापारी विनीत अग्रवाल की 70 साल की मां मीरा रानी अग्रवाल पर घर में घुसकर जानलेवा हमला किया गया। हमला तब हुआ जब उनके पति घर से मोहल्ले में कहीं गए हुए थे। घर से किसी चीज की लूट की जानकारी नहीं है। अग्रवाल फैमिली में बेटे विनीत अग्रवाल की दो बीवियों को लेकर तनाव चल रहा है। हमला रात 6.45 से लेकर 8 बजे के बीच हुआ है।

    पुलिस को शक है कि मामला सुपारी किलिंग से जुड़ा हो सकता है। मीरा को रामामंडी स्थित जौहल अस्पताल भर्ती करवाया गया है। मीरा के सिर में किसी भारी वस्तु से तीन ब्लंट इंजरी हैं। एडीसीपी मनदीप सिंह गिल का कहना है कि मामला लूट से जुड़ा नहीं लगता।

    करोल बाग में रात आठ बजे 74 साल के दुर्गादास अग्रवाल चिल्लाते घर से बाहर गए। लोग भागकर आए तो घर में देखा कि उनकी पत्नी मीरा खून से लथपथ बैडरूम में पड़ी थीं। सांसें चल रही थीं। उन्हें अस्पताल पहुंचाया गया। एसीपी सतिंदर चड्डा फॉरेंसिक टीम के साथ मौके पर पहुंचे। लोगों ने अग्रवाल से पूछा कि आप कहां थे तो बोले - 15 मिनट पहले घर से कहीं गया था। पुलिस से कहा कि वह सवा घंटे पहले घर से कहीं गए थे। अग्रवाल ने कहा कि 6.45 पर वह प्रधान से मिलने गए थे। तब पत्नी लॉबी में मटर छील रही थीं। उनका फैमिली विवाद है। एमएलए राजिंदर बेरी से मिलने के लिए प्रधान के जरिए बात करने गए थे। फोन लगने के कारण वे आठ बजे घर लौटे थे। तब देखा कि लॉबी से खून की धार बेडरूम की तरफ जा रही है। बहू संध्या की अलमारी खुली थी। मैंने बेटे को कॉल की। बेटे विनीत ने पुलिस से कहा कि मेरी मां पर हमला एक साजिश है।

    पहली बहू सेंट्रल टाउन, तो दूसरी होशियारपुर की
    दुर्गादास के बेटे विनीत की 1997 में सेंट्रल टाउन निवासी संध्या से शादी हुई थी। शादी से एक 18 साल का बेटा है। पति-पत्नी के बीच तनाव हुआ तो विनीत ने होशियारपुर की राज से 2012 में दूसरी शादी कर ली। इस शादी से भी विनीत का एक बेटा है। पहली पत्नी संध्या ने पति पर दहेज उत्पीड़न का केस एक साल पहले ही दर्ज करवाया था। दुर्गादास कहते हैं कि बेटा लम्मापिंड चौक में मोबिल ऑयल की शॉप करता है और वे उनके साथ ही बैठते हैं। बहू संध्या घर में रहती है। जबकि दूसरी बहू बेटे के साथ नूरपुर कॉलोनी में अलग रहती है। 24 दिसंबर को संध्या बेटे को लेकर मायके चली गई थी। पुलिस जांच में ये बात सामने आई है कि संध्या हिस्सा मांग रही थी और घर विनीत के नाम पर था। कहा जा रहा है कि मकान की रजिस्ट्री को लेकर अग्रवाल फैमिली में कुछ दिन से तनाव चल रहा था।

    मौके पर जब एसीपी मीरा के पति दुर्गा दास के ब्यान ले रहे थे तो दुर्गा दास बोला कि उसके बेटे विनीत की पहली पत्नी अमृतसर शादी में गई हुई है। मगर पुलिस के जोर डालने पर पति बोला कि संध्या सेंट्रल टाउन रहते अपने मायके घर गई थी। इसलिए एसीपी ने एहतियातन रेड करने के लिए पुलिस पार्टी को कई जगह भेज दिया है। उधर एसीपी सतिंदर चड्‌डा ने बताया कि इलाके के सीसीटीवी में दो संदिग्ध कैद हुए हंै।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Jalandhar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×