--Advertisement--

मार्केट में टीचर का पर्स लूटकर भागे, बाइक रिक्शे से टकराई तो पकड़े गए 2 स्नेचर

लुटेरे तेजी से निकले तो उन्होंने चुनमुन मॉल चौक पर रेड लाइट जंप कर दी।

Dainik Bhaskar

Jan 09, 2018, 08:20 AM IST
People caught two snatcher

जालंधर. न्यू जवाहर नगर मार्केट में शाम करीब 4.15 बजे पल्सर पर आए दो लुटेरे टीचर प्रवीण पाल कौर बिंदरा का पर्स छीन कर फरार हो गए लेकिन उन्होंने गुरु गोबिंद सिंह स्टेडियम के पास रिक्शा को टक्कर मार दी। पब्लिक ने उन्हें पकड़ा तो लुटेरे ने लूटा गया पर्स रिक्शा पर टांग दिया। जब पुलिस आई तो उनकी पोल खुल गई।

पकड़ा गया एक स्नेचर आबादपुरा का अरविंदर कुमार जॉनी पेशेवर लुटेरा है और दो महीने पहले बेल पर आया था। उसके पिता यूके में कारपेंटर हैं। पुलिस जॉनी और गढ़ा के सागर को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। इनके तीसरे साथी की गिरफ्तारी के लिए देर रात तक रेड जारी थी। एसएचओ बिमलकांत का कहना है कि दोनों लुटेरों को मंगलवार कोर्ट में पेश करके रिमांड पर लिया जाएगा।


आदर्श नगर की रहने वाली प्रवीण पाल कौर ने कहा कि उनके पति लक्की बिंदरा बिजनेसमैन और वे कैंट में सरकारी स्कूल में टीचर हैं। सोमवार को ऑटो की हड़ताल होने के कारण घर के लिए रिक्शा पर निकली थी। जब उनकी रिक्शा न्यू जवाहर नगर मार्केट के पास पहुंची तो पीछे से काले रंग के पल्सर पर दो लुटेरे आए और उनका पर्स छीन कर भाग निकले। उन्होंने स्कूटी वाले से लिफ्ट लेकर पीछा किया, मगर वह तेजी से निकल गए थे। लेकिन पुलिस आ गई। लूट के पैसों से वे नए कपड़े खरीदते थे और नशे भी करते थे।

रेड लाइट जंप करके रिक्शा में मारी टक्कर


लुटेरे तेजी से निकले तो उन्होंने चुनमुन मॉल चौक पर रेड लाइट जंप कर दी। गुरु गोबिंद सिंह स्टेडियम के पास उन्होंने बाइक से रिक्शा को टक्कर मार दी। इससे रिक्शा चालक को चोट लग गई। वहां से निकल रहे अमृतसर के जसपाल सिंह ने बाइक की चाबी निकाल ली। जसपाल ने कहा कि इलाज करवा दें। इतने में एसएचओ बिमल कांत मौके पर पहुंच गए। एसएचओ ने देखा कि टीचर ने जैसी बाइक बताई थी, बाइक पर लुटेरे उसी तरह के थे। लुटेरे जॉनी ने कहा कि उनसे से गलती हो गई है तो वे रिक्शे वाले का इलाज करवाने के लिए तैयार हैं। रिक्शा पर टंगा हुआ पर्स देख कर रिक्शा वाले से पूछा तो उसने कहा कि रिक्शे पर तो कोई सवारी नहीं थी। पर्स बाइक वालों का ही है। पर्स खोल कर चेक किया तो वह टीचर का निकला। दोनों लुटेरे को हिरासत में लेकर पुलिस थाने लेकर आई।

स्नेचिंग के लिए 5 दिन पहले खरीदी बाइक

आरोपी जॉनी ने माना कि उसके पिता यूके में हैं तो बड़ी बहन की शादी होने वाली है। दो महीने पहले बेल पर आया था। वह पहले फरार एक अन्य साथी की स्कूटी पर स्नेचिंग करते थे। पापा से 15 हजार रुपये मांगे थे। इसलिए वीरवार को ऑटो डीलर से नई बाइक खरीदी थी। हर महीने 3100 रुपये की किश्त देनी थी। उसने स्नेचिंग करके किश्त देने की सोची थी। सागर पहले उनके मोहल्ले में रहता था तो उसे भी साथी बना लिया। दोपहर को वे बाइक पर निकले थे। बाइक का नंबर पढ़ा न जा सके, इसलिए टेंपररी नंबर की स्लिप लगा दी। सागर ने पर्स छीना तो उसने बाइक दौड़ा दी। जब आंटी ने शोर मचाया तो घबरा गए थे। इसलिए उसने रेड लाइट जंप कर दी और रिक्शा से टक्कर हो गई।

People caught two snatcher
X
People caught two snatcher
People caught two snatcher
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..