--Advertisement--

प्रेमी ने 7 दिन में किया लव स्टोरी का THE END, पार्क में मिली थी GF की लाश

पुलिस ने कविता मर्डर केस को 48 घंटे में सॉल्व करते हुए इस केस में दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है।

Dainik Bhaskar

Dec 09, 2017, 04:24 AM IST
पुलिस ने कविता की हत्या के आरोप में विशाल उसके मामा को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने कविता की हत्या के आरोप में विशाल उसके मामा को गिरफ्तार किया है।

जालंधर। पुलिस ने कविता मर्डर केस को 48 घंटे में सॉल्व करते हुए इस केस में दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों की पहचान विशाल कुमार और रमन कुमार के रूप में हुई है। इस केस में शामिल दोनों आरोपियों का एक साथी राजन कुमार उर्फ गग्गू अभी पलिस की गिरफ्त से दूर है। बता दें कि दो दिन पहले कविता की अधजली लाश स्पोर्ट्स एंड सर्जिकल कांप्लेक्स पार्क में बरामद हुई थी। पुलिस कमिश्नर पीके सिन्हा ने बताया कि 27 नवंबर को विशाल की कविता से लव स्टोरी शुरू हुई और उसने सात दिन बाद ही स्टोरी का दएंड कर दिया।

कविता की लाश को देखने आया था विशाल का मामा

- स्पोर्ट्स एंड सर्जिकल कांप्लेक्स पार्क में बुधवार सुबह मिली कविता की लाश को देखने के लिए मुख्य आरोपी विशाल का मामा रमन कुमार गया था।

- वह देखने गया था कि कहीं गलती से लाश अधजली तो नहीं रह गई। लाश को देखने के लिए पुलिस ने भीड़ को बुलाया था, उसमें वो भी था।

- पुलिस 12 बजे लाश लेकर चली गई। यहां पर पता चला कि किसी ने कविता की शिनाख्त नहीं की।

- रमन कहता है कि वह देखने आया था कि कोई शिनाख्त न कर दे। रात में अंधेरा था तो यह देखना जरूरी था कि लाश पूरी तरह से जल गई है या नहीं? इसलिए रमन बड़े आराम से ही घर में बैठा था। बृहस्पतिवार को पता चला कि कविता की मां ने लाश की पहचान कर दी है। इसके बाद घर से गायब हो गया।

- बता दें कि बृहस्पतिवार को लाश की पहचान दीपनगर में रहती बबली ने बेटी कविता के तौर पर की थी।

कविता पीछे पड़ गई थी, इसलिए मार डालाः आरोपी विशाल

- इसके बाद विशाल की खोज में जुटी पुलिस को उसका का मोबाइल बंद मिला था। इसके बाद गुप्त सूचना के आधार पर विशाल को फगवाड़ा के एक प्राइवेट अस्पताल से हिरासत में लेकर पूछताछ की गई। विशाल हेपेटाइटिस-सी से पीड़ित है।

- पूछताछ में विशाल ने बताया कि उसने ही अपने भाई राजन और मामा रमन के साथ कविता की पहले गला घोंटकर हत्या की। फिर पेट्रोल डाल आग लगा दी थी। पुलिस ने आरोपी विशाल के साथ-साथ मामा रमन को गिरफ्तार कर लिया। भाई राजन फरार है।

- विशाल ने पुलिस को बताया कि कविता से वह संबंध रखना चाहता था, लेकिन वह गले ही पड़ गई थी। इसलिए वह वारदात वाले दिन उसे मामा के घर लेकर गया था।

- वहीं, पर उसकी हत्या की प्लानिंग की और भाई के साथ मिलकर तीनों ने पहले पार्क में उसकी गला दबाकर हत्या की और डेड बॉडी को जला दिया।

3 दिसंबर को विशाल के साथ भागी थी कविता

- कविता की शादी मार्च 2014 में गढ़ा के कन्यावाली में रहने वाले ड्राइवर रमन कुमार लवला से हुई थी। वह एक महीने पहले ही पति से झगड़ा कर मायके आई थी।

- 27 नवंबर को दीपनगर में मामा अश्वनी कुमार की बेटी की शादी थी। जहां पर उसकी मुलाकात फिल्लौर के विशाल से हुई थी। विशाल अश्वनी के सांढू राजकुमार बिल्ला का बेटी है।

- कविता की मां ने कहा था कि उसकी बेटी 3 दिसंबर को विशाल के साथ भाग गई थी। अपनी बेटी को उसके पास छोड़ गई थी।

- विशाल ने उसी दिन से ही अपना मोबाइल बंद किया था। ताकि उसकी टावर लोकेशन क्राइम सीन पर न सके। पुलिस को गच्चा देने के लिए भी वह हॉस्पिटल में भर्ती हुआ था।

सेक्स रैकेट के केस में रमन जा चुका है जेल

- विशाल का मामा रमन कुमार देह व्यापार के केस में जेल जा चुका है। बीते साल 16 मई को थाना पांच की एसएचओ डी. सुडरविजी (अब एडीसीपी सिटी-2) ने न्यू गीता कॉलोनी में रेड कर दो लड़कियों समेत 7 लोग पकड़े थे।

- इनके नाम धमेंद्र गिल, रमन कुमार, संजीव कुमार, गगन, अमित, ज्योति और कमलेश कुमारी थे। सभी आरोपी बेल पर हैं। रमन को तीन दिन बाद बेल मिल गई थी। मामला अदालत में विचाराधीन है।

कैनी में पेट्रोल बेचने वाले पंप पर भी होगा एक्शन
- लाश जलाने के बाद तीनों कच्चा कोट आ गए। मामा अपने घर रुक गया और वह दोनों फिल्लौर आ गए।

- सीपी ने कहा कि कैनी में पेट्रोल बेचने वाले पेट्रोल पंप के खिलाफ भी एक्शन लिया जाएगा। पोस्टमार्टम के बाद कविता की लाश का अंतिम संस्कार कर दिया गया है।

- पुलिस कमिश्नर पीके सिन्हा ये मामला एडीसीपी सिटी-2 डी. सुडरविजी की सुपरविजन में एसीपी बलविंदर सिंह और एसएचओ सुखविंदर सिंह ने 48 घंटे में ट्रेस किया।

कविता स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स पार्क में अधजली लाश मिली थी। कविता स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स पार्क में अधजली लाश मिली थी।
पुलिस ने 48 घंटे में केस को सॉल्व करने का दावा किया। पुलिस ने 48 घंटे में केस को सॉल्व करने का दावा किया।
5 दिसम्बर को पुलिस को एक जली हुई लाश पार्क में मिली थी। 5 दिसम्बर को पुलिस को एक जली हुई लाश पार्क में मिली थी।
पार्क में पड़ी कविता की लाश। पार्क में पड़ी कविता की लाश।
लाश पूरी तरह जल गई थी, इसलिए उसे पहचानना मुश्किल हो रहा था। लाश पूरी तरह जल गई थी, इसलिए उसे पहचानना मुश्किल हो रहा था।
पोस्टमार्टम के बाद कविता की लाश का अंतिम संस्कार कर दिया गया है। पोस्टमार्टम के बाद कविता की लाश का अंतिम संस्कार कर दिया गया है।
कविता की मां ने अपनी बेटी के लाश की पहचान की थी। कविता की मां ने अपनी बेटी के लाश की पहचान की थी।
X
पुलिस ने कविता की हत्या के आरोप में विशाल उसके मामा को गिरफ्तार किया है।पुलिस ने कविता की हत्या के आरोप में विशाल उसके मामा को गिरफ्तार किया है।
कविता स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स पार्क में अधजली लाश मिली थी।कविता स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स पार्क में अधजली लाश मिली थी।
पुलिस ने 48 घंटे में केस को सॉल्व करने का दावा किया।पुलिस ने 48 घंटे में केस को सॉल्व करने का दावा किया।
5 दिसम्बर को पुलिस को एक जली हुई लाश पार्क में मिली थी।5 दिसम्बर को पुलिस को एक जली हुई लाश पार्क में मिली थी।
पार्क में पड़ी कविता की लाश।पार्क में पड़ी कविता की लाश।
लाश पूरी तरह जल गई थी, इसलिए उसे पहचानना मुश्किल हो रहा था।लाश पूरी तरह जल गई थी, इसलिए उसे पहचानना मुश्किल हो रहा था।
पोस्टमार्टम के बाद कविता की लाश का अंतिम संस्कार कर दिया गया है।पोस्टमार्टम के बाद कविता की लाश का अंतिम संस्कार कर दिया गया है।
कविता की मां ने अपनी बेटी के लाश की पहचान की थी।कविता की मां ने अपनी बेटी के लाश की पहचान की थी।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..