--Advertisement--

HIV पॉजिटिव पर डाला जॉब छोड़ने का दबाव, कहा- छोटे बच्चों में फैल जाएगी बीमारी

सफाई कर्मचारी से कहा, ‘छोटे बच्चों में बीमारी फैल जाएगी, तुम अपना हिसाब कर लो’

Dainik Bhaskar

Dec 20, 2017, 05:41 AM IST
Pressure to leave Job put on HIV Positive

जालंधर. स्कूल में काम करने वाली एचआईवी पॉजिटिव एक महिला कर्मचारी पर नौकरी छोड़ने का दबाव बनाया जा रहा है। स्टाफ महिला से कहता है तुम्हारी बीमारी बच्चों में जा सकती है। अपना हिसाब करवा लो। इसका खुलासा मंगलवार को सिविल अस्पताल में डिस्क्रिमिनेशन रिस्पांस टीम की बैठक में अभिव्यक्ति फाउंडेशन ने किया।

एआरटी सेंटर में हुई बैठक की अध्यक्षता सेंटर के इंचार्ज डॉ. स्वयंजीत सिंह ने की। डॉ. सिंह ने बताया कि ऐसे मामलों में स्कूल प्रशासन को समझाने की जरूरत है कि एचआईवी छूने, साथ खाने या चूमने से नहीं फैलता।

स्कूल के पढ़े-लिखे स्टाफ को भी नहीं बेसिक जानकारी
45 वर्षीय पीड़ित महिला के बेटे ने अभिव्यक्ति फाउंडेशन के केयर एंड स्पोर्ट सेंटर से मदद मांगते हुए कहा कि उन्हें बार बार कहा जा रहा है कि तुम्हें छोटे छोटे बच्चों को शौचालय लेकर जाना पड़ता है। उनके हाथ-पैर भी धुलवाने पड़ते हैं। तुम्हारी बीमारी छोटे बच्चों में जा सकती है। स्कूल प्रबंधन यह मानने को तैयार नहीं कि यह बीमारी छूने से नहीं फैलती। जो स्कूल एचआईवी वायरस के बारे में साधारण और बेसिक जानकारी नहीं रखता वह अपने बच्चों को साइंस जैसे विषय कैसे पढ़ा रहा है? सबसे पहले पढ़े-लिखे लोगों को समझाने की जरूरत है।

रिस्पांस टीम जाएगी स्कूल
केयर एंड स्पोर्ट सेंटर की कोऑर्डिनेटर आरती ने बताया कि डिस्क्रिमिनेशन रिस्पांस टीम अस्पताल जाकर प्रबंधन से बात करेगी और अगर फिर भी भेदभाव नहीं रुका तो मानवाधिकार आयोग में शिकायत करेंगे। बैठक में समर्थ एनजीओ के सीईओ दीपक राणा, आईसीटीसी काउंसलर धीरज, प्रदीप कुमार, नीतेश कुमार, कुलविंदर कौर, नवप्रीत कौर, मंजू , वंदना व अन्य सदस्य मौजूद रहे। टीम ने फैसला लिया कि वह स्कूल जाकर वहां के स्टाफ को समझाएंगे कि एचआईवी किसी को छूने, उसे खाना देने या हाथ मिलाने से नहीं फैलता।

X
Pressure to leave Job put on HIV Positive
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..