--Advertisement--

4 बेटियों की मां ने की तीसरी शादी, नाराज हुआ दूसरा पति तो कर दी चाकू मार कर हत्या

पत्नी ने फोन पर पति से कहा था, आज पार्टी करेंगे

Dainik Bhaskar

Apr 01, 2018, 04:50 AM IST
मृतका शरीफा बेबी मृतका शरीफा बेबी

आदमपुर(जालंधर). गांव दोली के दुहड़े में शनिवार सुबह 10 बजे 15 साल के 9वीं के स्टूडेंट के सामने उसकी मां की हत्या कर दी गई। महिला की हत्या उसके दूसरे पति ने की है। वो तीसरे पति हरजिंदर सिंह के साथ रह रही थी। अपने बेटे का रिजल्ट सुनकर घर लौटते वक्त दूसरे पति मक्खन सिंह ने रास्ते में रोक चाकू मार दिए। ये था मामला...

- मक्खन इस बात से नाराज था कि पत्नी शरीफा ने उसे और उसकी बेटियों को छोड़कर तीसरे से शादी कर ली थी।

- उसने शरीफा को जान से मारने की धमकी दी थी। एसएचओ ने कहा कि हत्यारोपी के पकड़ में आने के बाद ही मर्डर का कारण सामने आएगा।

- पुलिस ने बताया कि आरोपी पति के खिलाफ हत्या का केस दर्ज कर उसकी तलाश की जा रही है।

17 साल पहले हुई थी शरीफा की पहली शादी

- 15 साल के जैम मोहम्मद ने बताया कि वह दोलीके दूहड़े के सरकारी स्कूल में 9वीं कक्षा में पढ़ता है। मां की पहली शादी करीब 17 साल पहले बूटा मोहम्मद से हुई थी। उसके पिता बूटा मोहम्मद हैं।

- मां और पिता के बीच अनबन होने पर मां ने मक्खन सिंह से दूसरी शादी कर ली थी। मां की इस शादी से 4 बेटियां हुईं। वह नानी सरदारा के पास ही रहता है।

- 6 साल पहले मां ने मक्खन सिंह से तलाक लेकर तीसरी शादी महितपुर की पत्ती खुरमपुर के हरजिंदर सिंह से कर ली।

- हरजिंदर ने उनके साथ ही दूहड़े कॉलोनी में रहना शुरू कर दिया। मक्खन इससे नाखुश था और सबक सिखाने की बाते करता था। आज उसने मर्डर कर दिया।

शरीर पर थे छह जख्म


- मक्खन के हमले से शरीफा के शरीर पर चाकू से 6 जख्म थे। बेटा मां की हत्या देख चिल्लाने लगा।

- बच्चे की चीखें सुन लोग आए तो आरोपी भाग निकला। जख्मी महिला को उठाकर आदमपुर के सरकारी अस्पताल में लाया गया मगर उसकी मौत हो चुकी थी।

पति को फोन पर कहा था, आज पार्टी करेंगे

- बेटा पास हो गया था। रिजल्ट से खुश शरीफा ने पति हरजिंदर को फोन कर कहा था कि बेटा पास हो गया। पार्टी की तैयारी करें, हम लोग थोड़ी देर में घर पहुंच रहे हैं।

- जैम मोहम्मद ने बताया वापसी में मक्खन सिंह को हाथ में चाकू लेकर आते देखा। उसने आते ही मां के पेट और शरीर के अन्य हिस्से में चाकू मारने शुरू कर दिए।

- यह देखकर वह डर गया और चिल्लाना शुरु कर दिया। वह मां की मदद तक नहीं कर पाया। उसकी मां जमीन गिर गई। सड़क पर खून ही खून फेल गया।

- बेटे ने पापा को कॉल कर बताया तो हरजिंदर सिंह मौके पर आ गए। यहां से मां को उठा कर अस्पताल में लेकर आए, मगर उनकी मौत हो गई।

मृतका शरीफा का बेटा। मृतका शरीफा का बेटा।
पुलिसकर्मी वारदात के सबूत जुटाते हुए। पुलिसकर्मी वारदात के सबूत जुटाते हुए।
X
मृतका शरीफा बेबीमृतका शरीफा बेबी
मृतका शरीफा का बेटा।मृतका शरीफा का बेटा।
पुलिसकर्मी वारदात के सबूत जुटाते हुए।पुलिसकर्मी वारदात के सबूत जुटाते हुए।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..