जालंधर

--Advertisement--

लोगों को 4 से 5 घंटे जाम में फंसा सुखबीर आराम से छकते रहे लंगर-पानी

फिरोजपुर के मल्लांवाला में कांग्रेसियों से झड़प के बाद अकालियों पर दर्ज केस के विरोध में वीरवार को शुरू हुआ शिअद का धरना

Danik Bhaskar

Dec 09, 2017, 07:02 AM IST

जालंधर | फिरोजपुर के मल्लांवाला में कांग्रेसियों से झड़प के बाद अकालियों पर दर्ज केस के विरोध में वीरवार को शुरू हुआ शिअद का धरना शुक्रवार को भी शाम तक जारी रहा। दूसरे दिन तो अकाली नेताओं ने राज्य भर में कई जगह धरने देकर जाम लगा दिये। सुखबीर हरिके के बंगाली पुल पर दिए धरने में आराम फरमाते रहे और लंगर पानी छकते रहे। इधर सूबे भर में घंटों जाम में फंसे लोग परेशान होते रहे। कई किलोमीटर लोगों को पैदल चलना पड़ा। ज्यादा दिक्कत बुजुर्गों, बच्चों और दिव्यांगो को हुईं। लोगों के पास सरकार को कोसने के अलावा कोई चारा नहीं था, पुलिस बेबस दिखी।

चुनाव रद्द के लिए फिर आयोग पहुंचे अकाली

शिअद ने राज्य चुनाव आयोग को मल्लांवाला, मक्खू, बाघापुराना और घनौर में चुनाव रद्द न करने के अपने फैसले पर फिर से विचार करने को कहा है। डॉ. दलजीत िसंह चीमा ने कहा, मल्लांवाला में नामांकन के लिए बढ़ाया समय कम और देर से उठाया गया कदम है, जिससे कोई लाभ नहीं होगा।

जीरा व मल्लांवाला में नए डीएसपी, एसएचओ
चंडीगढ़ में चुनाव आयोग ने देवदत्त को डीएसपी जीरा और फिरोजपुर पुलिस लाइन में तैनात इंस्पेक्टर रंजीत सिंह को मल्लांवाला का एसएचओ लगाया है। फिरोजपुर में हिंसक घटनाओं पर डीसी और घनौर में हुई घटनाओं पर पटियाला के डीसी से 24 घंटों में रिपोर्ट तलब की है।

हरिके के बंगाली पुल पर दिए धरने में सुखबीर आराम से बैठकर साथी विधायकों और नेताओं के साथ बातें करते रहे। वर्करो ने प्रदर्शनकारियों के लिए लंगर पानी का पूरा इंतजाम कर रखा था।

Click to listen..