जालंधर

--Advertisement--

हाईवे पर कुत्ते को बचाने में पलटी कार, विधायक के भतीजे समेत दो की मौत

पचरंगा में एक्सीडेंट की खबर विधायक सुशील रिंकू और परिवार को फोन पर मिली।

Dainik Bhaskar

Mar 14, 2018, 06:31 AM IST
Two die in road accident including nephew of MLA

जालंधर/करतारपुर/भोगपुर. पठानकोट रोड पर पचरंगा के पास कुत्ते को बचाते कार बेकाबू होकर पलटकर सड़क किनारे गड्ढे में जा गिरी। दुर्घटना में विधायक सुशील रिंकू के भतीजे समेत दो लोगों की मौत हो गई। हादसा सुबह 9 बजे हुआ। कार में बस्ती दानिशमंदा और दिलबाग नगर रहने वाले चार लोग सवार थे, जो जम्मू में शादी अटेंड करके लौट रहे थे। जख्मियों को काला बकरा के सिविल अस्पताल ले जाया गया, जहां दो को मृत घोषित कर दिया गया। एक्सीडेंट में तजिंदर सिंह पुत्र गुरदेव सिंह और सुरजीत की मौत हुई है जबकि प्रेमनाथ और गुरदेव सिंह घायल हुए हैं।


दुर्घटना में घायल स्पोर्ट्स कारोबारी गुरदेव सिंह निवासी दिलबाग नगर ने बताया कि वे सांढू की लड़की की शादी अटेंड करके तड़के 4.15 बजे जम्मू से जालंधर के लिए निकले थे। उनके साथ बेटा तेजिंदर सिंह, साला प्रेमनाथ और सुरजीत कुमार उर्फ शीतल भी थे। गाड़ी को सुरजीत कुमार चला रहा था। वे आगे सीट पर बैठे थे जबकि प्रेमनाथ और तजिंदर सिंह पिछली सीट पर थे। सुबह करीब 8:50 पर पचरंगा से थोड़ा आगे निकले तो अचानक कार के आगे कुत्ता आ गया। उसे बचाने की कोशिश में सड़क पर बनी पुली की दीवार से जा टकराई और पलटकर गड्ढे में गिर गई। पचरंगा पुलिस चौकी ने कार्रवाई कर दी है। विधायक रिंकू सिविल अस्पताल पहुंचे हुए थे। उन्हें पुलिस ने सूचना दी थी कि जालंधर के दो युवक हादसे में मौत के शिकार हुए हैं। बाद में उन्हें पता लगा कि इनमें से एक उनका भतीजा सुरजीत भी है।

परिवार को फोन पर मिली खबर


पचरंगा में एक्सीडेंट की खबर विधायक सुशील रिंकू और परिवार को फोन पर मिली। सुरजीत और तजिंदर के रिश्ते के भाई अभि ने बताया कि जब एक्सीडेंट हुआ तो थाना करतारपुर पुलिस ने विधायक सुशील रिंकू को फोन किया कि उनके इलाके के लोगों का एक्सीडेंट हो गया है। सुशील रिंकू जब काला बकरा पहुंचे और जब सुरजीत और तजिंदर की लाशें देखीं तो हैरान रह गए। उन्होंने बताया कि सुरजीत तो उनका भतीजा है। सिविल अस्पताल जालंधर में लाशें वे साथ ही लेकर आए।

आगे बैठे पिता की जान बची, बेटे की मौत

सिंह ने सीट बेल्ट लगाई हुई थी। गुरदेव का बेटा तजिंदर पीछे बैठा था। कार की ड्राइवर साइड में टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि कार चला रहे सुरजीत और उसके पीछे बैठे तजिंदर की जान चली गई। तजिंदर के पिता गुुरदेव आगे बैठे थे। हादसे के समय सुरजीत और तजिंदर की सांसें चल रही थीं लेकिन अस्पताल पहुंचते ही उन्हें मृत घोषित कर दिया गया। पीछे बैठे प्रेम कुमार को कार का कुछ हिस्सा काट कर बाहर निकाला गया। डिप्टी मेयर हरसिमरनजीत सिंह बंटी अन्य कांग्रेसी नेता भी सिविल अस्पताल पहुंचे। सुरजीत के पिता फुटबाल की ठेकेदारी का काम करते हैं जबकि सुरजीत खुद जूतों का कारोबार करता था। सुरजीत सिंह और तेजिंदर दोनों दो-दो भाई हैं।

मैं तां आपणे मुंडे दे सिर ते उडदा फिरदा सी


अस्पताल पहुंचे मृतक सुरजीत के पिता हरबंस को संभालना मुश्किल हो रहा था। कह रहे थे कि मैनूं वी मेरे मुंडे शीते (सुरजीत) नाल जाण दिओ। आपणी नूंह ते आपने पोते नूं की कहांगा मैं। मैं घर खाली जावागां तां सारे पुछणगे कि सुरजीत नूं कित्थे छड्ड आया हैं। मेरा तां परिवार ही उजड़ गया। मैं तां आपणें मुंडे दे सिर ते ही उडदा फिरदा सी। उधर सूचना मिलते ही विधायक रिंकू भी काला बकरा पहुंच गए।



Two die in road accident including nephew of MLA
Two die in road accident including nephew of MLA
Two die in road accident including nephew of MLA
Two die in road accident including nephew of MLA
Two die in road accident including nephew of MLA
X
Two die in road accident including nephew of MLA
Two die in road accident including nephew of MLA
Two die in road accident including nephew of MLA
Two die in road accident including nephew of MLA
Two die in road accident including nephew of MLA
Two die in road accident including nephew of MLA
Click to listen..