• Home
  • Punjab
  • Jalandhar
  • कोर्ट का फैसला दलित विरोधी : फाउंडेशन
--Advertisement--

कोर्ट का फैसला दलित विरोधी : फाउंडेशन

जालंधर | मेघ जागृति फाउंडेशन पंजाब जालंधर ने सुप्रीम कोर्ट के एससी-एसटी एक्ट पर फेरबदल के फैसले के विरोध में दलित...

Danik Bhaskar | Apr 02, 2018, 03:05 AM IST
जालंधर | मेघ जागृति फाउंडेशन पंजाब जालंधर ने सुप्रीम कोर्ट के एससी-एसटी एक्ट पर फेरबदल के फैसले के विरोध में दलित समाज के 2 अप्रैल के भारत बंद को समर्थन दिया है। प्रेस कांफ्रैंस में सदस्यों ने कहा कि एससी-एसटी एक्ट प्रिवेंशन ऑफ एट्रोसिटी एक्ट को कमजोर करने का जो फैसला सुप्रीम कोर्ट ने सुनाया है वो दलित विरोधी है। मेघ समाज के साथ-साथ भगत, कबीर पंथी, जुलाहा समाज के लोग भी इस फैसले का विरोध करते हैं। दलित समाज पहले ही पिछड़ा समाज और इस फैसले से ओर अधिक सैकंडों साल पीछे धकेल दिया जाएगा। मौजूदा सरकार परोक्ष तरीके से दलित समाज के साथ गंभीर अन्याय कर रही है। यहां भगत मनोहर लाल, शिव दयाल माली, बलबीर कुमार भगत और द्वारका दास प्रसाद आदि मौजूद रहे।