• Home
  • Punjab
  • Jalandhar
  • गदईपुर वासियों ने कहा, निगम ने नहर खोदकर डाले पाइप को डिस्कनेक्ट किया, निकाला नहीं
--Advertisement--

गदईपुर वासियों ने कहा, निगम ने नहर खोदकर डाले पाइप को डिस्कनेक्ट किया, निकाला नहीं

गदईपुर नहर में अवैध रूप से डाली गई पाइप को निगम अधिकारियों ने डिसकनेक्ट तो कर दिया है, लेकिन पाइप को बाहर नहीं...

Danik Bhaskar | Apr 01, 2018, 03:15 AM IST
गदईपुर नहर में अवैध रूप से डाली गई पाइप को निगम अधिकारियों ने डिसकनेक्ट तो कर दिया है, लेकिन पाइप को बाहर नहीं निकाला गया। इस कारण इलाके के लोगों में रोष है। उनका कहना है कि अगर देर रात दो उद्योगपति चोरी-छिपे अवैध रूप से पाइप डाल सकते हैं, तो उन्हें पाइप का कनेक्शन दोबारा जोड़ने में कितना समय लगेगा। सुखदेव सिंह बाठ ने कहा कि इलाके में किसी तरह का अवैध काम नहीं होने देंगे। जिन लोगों ने नहर के बीच से पाइप डलवाई थी, उन पर प्रशासन कार्रवाई क्यों नहीं करता है। अगर इसका पता न चलता तो अाने वाले दिनों में स्वर्ण पार्क, कालिया कॉलोनी, गुरु अमरदास नगर इलाके में गंदगी का माहौल पैदा हो जाता।

अमूल्य यादव टीनू ने कहा कि अवैध रूप से डाले सीवरेज के कारण जो नुकसान हुआ है, प्रशासन उसकी भरपाई करवाए। जिन लोगों ने गलत ढंग से सीवरेज पाइप डलवाए थे उनके खिलाफ कार्रवाई क्यों नहीं की गई। अगर ऐसे लोगों पर कार्रवाई न की गई तो आगे उनका हौसला बुलंद होगा। नहर में से पाइप डालते वक्त इलाके के 50 के करीब बीएसएनएल कनेक्शन तोड़ दिए गए थे। इन्हें बीएसएनएल कर्मचारियों ने कड़ी मशक्कत के साथ जोड़ा।

लीगल एक्शन होगा | नहरी विभाग के जेई सुखदेव सिंह ने कहा कि जिन लोगों ने नहर को खोदकर पाइप डाले हैं उन पर सोमवार को लीगल एक्शन लिया जाएगा। थाने में पर्चा दर्ज करवाया जाएगा। छुट्टी आने के कारण रिपोर्ट नहीं की जा सकी।

गदाईपुर में नहर के नीचे से डाली गई सीवर लाइन को तोड़ते मुलाजिम

जो नुकसान हुआ उसकी भरपाई करे प्रशासन