• Home
  • Punjab
  • Jalandhar
  • दलित समाज को जो मान-सम्मान मिला है वह बाबा साहेब डॉ. अंबेडकर की देन
--Advertisement--

दलित समाज को जो मान-सम्मान मिला है वह बाबा साहेब डॉ. अंबेडकर की देन

संविधान निर्माता बाबा साहिब डाॅ. भीम राव अंबेडकर के जीवन को समर्पित तीसरा महान चेतना समागम गांव पक्खोचक्क के मिलन...

Danik Bhaskar | Apr 02, 2018, 03:25 AM IST
संविधान निर्माता बाबा साहिब डाॅ. भीम राव अंबेडकर के जीवन को समर्पित तीसरा महान चेतना समागम गांव पक्खोचक्क के मिलन पैलेस में डॉ. अंबेडकर युवा चेतना मंच तारागढ़ के प्रधान जोगिंदर पाल लब्बा की अध्यक्षता में मनाया गया।

इसमें विधायक जोगिन्द्र पाल मुख्य मेहमान के तौर पर उपस्थित हुए जबकि अत्याचार विरोधी फ्रंट होशियारपुर के चेयरमैन भगवान सिंह चौहान, एडवोकेट हाईकोर्ट जम्मू एंड कश्मीर अशोक कुमार उपस्थित हुए। कार्यक्रम में चेतना समागम से प्रगति कला केंद्र लादड़ा जालंधर द्वारा डॉ. भीमराव अंबेडकर के जीवन पर आधारित मिशनरी नाटक पेश किया। विधायक जोगिन्द्र पाल ने डाॅ. भीमराव अंबेडकर के संघर्ष, ज्ञान, बलिदान, तर्कशीलता, तरक्की और समूचे भारत के लिए प्रगतिशील सोच को समर्पित मार्ग पर चलने पर प्रेरित किया। उन्होंने कहा कि आज समाज में दलित समाज को जो मान समान मिला है वह संविधान निर्माता बाबा साहिब की देन हैं। उन्होंने भारत बंद का समर्थन करते हुए कहा कि वह इस बंद में उनके साथ चट्‌टान की तरह खड़े हैं। इस मौके पर परमजीत बैंस के अलावा कई सदस्य मौजूद रहे।

गांव पक्खोचक्क में करवाए गए चेतना समागम में उपस्थित लोग।