--Advertisement--

नशा केस में फंसाने की धमकी दे रहा था ASI, हवलदार 50 हजार रिश्वत लेते अरेस्ट

दोनों मुलाजिमों ने 2 लाख और मांगे। कहा, केस की जिमणी में उसका नाम फिर से बोल रहा है।

Dainik Bhaskar

Nov 18, 2017, 05:58 AM IST
घटना के बारे में जानकारी देते विजिलेंस के डीएसपी पलविंदर सिंह। घटना के बारे में जानकारी देते विजिलेंस के डीएसपी पलविंदर सिंह।

मोगा. तस्करी केस में नाम निकालने के बदले 50 हजार रिश्वत लेते नारकोटिक सेल के एएसआई और हवलदार को विजिलेंस ने रंगे हाथ पकड़ा है। आरोपी मुलाजिम पहले भी पीड़ित से 1.20 लाख ले चुके थे। दोबारा 2 लाख मांगे तो पीड़ित ने शिकायत विजिलेंस को कर दी।

विजिलेंस के डीएसपी पलविंदर सिंह के मुताबिक बंद फाटक के निकट रहने वाले अंडे बर्गर का काम करने वाले बलजिंदर सिंह ने शिकायत दी थी कि 9 नबंवर को वह दोस्तों के साथ लौहारा स्थित बाबा दामूशाह की मजार पर जा रहा था। रास्ते में एएसआई बलजिंदर सिंह हवलदार हरभजन सिंह ने रोक लिया। कहा, 270 ग्राम नशे के साथ पकड़े गए तस्कर सुखदेव सिंह पम्मा ने पूछताछ में उसका नाम लिया है। अगर केस से बचना चाहता है तो दो लाख दो। बलजिंदर के मुताबिक डर के मारे उसने उसी शाम 1.20 लाख दोनों को दिए। इसके बाद दोनों मुलाजिमों ने 2 लाख और मांगे। कहा, केस की जिमणी में उसका नाम फिर से बोल रहा है।

अगर नाम निकलवाना है तो उसके लिए अलग से दो लाख देने होंगे। इससे तंग आकर उसने तीन दिन पहले विजिलेंस को शिकायत कर दी। विजिलेंस के कहने पर आरोपी मुलाजिमों को शुक्रवार दोपहर पैसे देने को कोटकपूरा बाईपास रोड पर बुलाया था। दोनों बोलेरो से पहुंचे। जैसे ही पीड़ित ने दोनों को 50 हजार रुपए लिफाफे में डालकर पकड़ाए, विजिलेंस ने दोनों को गिरफ्तार कर लिया। दोनों ने जीप से भागने की कोशिश भी की लेकिन कामयाब नहीं हो सके।

X
घटना के बारे में जानकारी देते विजिलेंस के डीएसपी पलविंदर सिंह।घटना के बारे में जानकारी देते विजिलेंस के डीएसपी पलविंदर सिंह।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..