--Advertisement--

पांच दोस्तों के एक्सीडेंट का मामला, एक की नहीं मिली लाश, एक का हुआ अंतिम संस्कार

कुल्लू की एसपी शालिनी अग्निहोत्री ने भास्कर को फोन पर बताया कि कार में से कोई बॉडी नहीं मिली।

Danik Bhaskar | Nov 23, 2017, 05:06 AM IST

जालंधर. मणिकरण में शांगना पुल के पास हादसे के शिकार हुए सरबजोत की कार पार्वती नदी से मिल गई है। कार में कोई नहीं था। हादसे के समय कार आबादपुरा का गुरकीरत सिंह चला रहा था जबकि सरबजोत साथ में बैठा था। गुरकीरत का 3 दिन बाद भी कोई सुराग नहीं मिला है।


कुल्लू की एसपी शालिनी अग्निहोत्री ने भास्कर को फोन पर बताया कि कार में से कोई बॉडी नहीं मिली। हो सकता है कि कार ड्राइव कर रहा गुरकीरत बहकर झील में चला गया हो। वीरवार को गोताखोर एक बार फिर गुरकीरत की तलाश करेंगे। हादसे में मारे गए आदर्श नगर में रहने वाले नारंग डेयरी के मालिक अमरजीत सिंह के बेटे सरबजोत सिंह का बुधवार दोपहर हरनामदासपुरा श्मशानघाट में अंतिम संस्कार कर दिया गया। अमरजीत सिंह ने बेटे की चिता को मुखाग्नि दी।

नम आंखों से दी विदाई

नम आंखों से सरबजोत का हरनामदासपुरा श्मशानघाट में अंतिम संस्कार किया गया। पीड़ित परिवार को संवेदना देने के लिए सांसद संतोख चौधरी समेत कई शहरवासी पहुंचे।

पार्वती नदी से मिली कार

पुलिस को पार्वती नदी से कार मिल गई है लेकिन गुरकीरत का अभी पता नहीं चला है।