खाकी पर दाग / पंजाब पुलिस का हवलदार और होमगार्ड जवान हेरोइन का नशा करते गिरफ्तार, पुराने वीडियो से हुए ट्रेस



a Head Constable of Punjab Police arrested with home-guard Jawan using Heroine
X
a Head Constable of Punjab Police arrested with home-guard Jawan using Heroine

  • जालंधर के मिट्‌ठू बस्ती इलाके में किराये के कमरे में नशा कर रहे थे दोनों वर्दीधारी
  • 6 महीने पहले नशा न करने का यकीन दिलाने पर बहाल हुआ था हवलदार अमरजोत, अब डिसमिस

Dainik Bhaskar

Sep 15, 2019, 03:15 PM IST

जालंधर. जालंधर में किराये के एक कमरे में पंजाब पुलिस का हवलदार और एक होमगार्ड जवान नशा करते पकड़े गए हैं। असल में इन दोनों का हेरोइन का नशा करने का एक पुराना वीडियो वायरल हुआ था। पुलिस ने दोनों को ट्रेस कर लिया। एनडीपीएस एक्ट की धारा-27 के तहत केस दर्ज किया है। अदालत ने दोनों आरोपी जेल भेज दिए हैं। हवलदार अमरजोत को डिसमिस कर दिया गया है, जबकि होमगार्ड के जवान निर्मल के खिलाफ सख्त एक्शन की सिफारिश की गई है।

 

मामला मिट्‌ठू बस्ती एरिया का है। पुलिस तंत्र में उस समय सनसनी फैल गई, जब सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हुआ। इसमें वर्दी पहना जवान चिट्टा पी रहा था। फिर एक और वीडियो सामने आया, जो सिटी पुलिस का बताया गगया। पुलिस कमिशनी गुरप्रीत सिंह भुल्लर ने मामले को गंभीरता से लेते हुए वर्दीधारी को ट्रेस करने के आदेश दिए तो जांच में पता चला कि वर्दीवाला युवक बस्ती बाबा खेल थाने में तैनात हवलदार अमरजोत सिंह तो दूसरा थाना डिवीजन नंबर-2 में तैनात होमगार्ड का जवान निर्मल सिंह है। जब पुलिस ने मिट्ठू बस्ती के किराये के मकान में रेड की तो दोनों बड़े आराम से चिट्टा पी रहे थे। दोनों को गिरफ्तार कर लिया गया। उनके रूम की अच्छी तरह से तलाशी ली गई, मगर चिट्टा नहीं मिला। उनके कपड़े तक उतारकर चेक किए गए। कमरे से चिट्टा पीने में इस्तेमाल सिगरेट पेपर, माचिस और लाइटर मिला है।

 

बस्तियात से निर्मल लेकर आया था चिट्टा
पकड़े जाने पर अमरजोत ने कहा कि गलती हो गई। मुझे माफ कर दे। जांच में यह बात आई कि इनके कमरे में नशेड़ी आते थे। इलके साथ मिलकर दोनों नशा करते थे। इनमें से किसी एक ने दाेनाें की वीडियो बनाकर वायरल कर दी। चिट्टा पीने का साथ छूटने के बाद वीडियो वायरल कर दिया गया। अमरजोत ने कहा कि चिट्टा निर्मल लाया था। निर्मल ने माना कि वह भी लंबे समय से चिट्टा ले रहा है। यह चिट्टा वह बस्तियात क्षेत्र के रहने वाले एक तस्कर से लेकर आया था। पुलिस तस्कर का नाम सार्वजनिक नहीं कर रही है। तस्कर को पकड़ने की काेशिश की जा रही है।

 

पांच महीने पहले हुई थी नई पोस्टिंग

पूछताछ में यह बात सामने आई कि फिल्लौर के मोहल्ला उच्ची घाटी का रहने वाला अमरजोत करीब दो साल पहले भी फिल्लौर में चिट्टा पीते पकड़ा गया था। फैमिली ने उसका इलाज करवाया था। अमरजोत के दो बच्चे हैं। अमरजोत ने फैमिली को यकीन दिलाया था कि वह दोबारा चिट्टा कभी नहीं पीएगा। अमरजोत ने अपने सीनियर्स को भी आश्वस्त किया था कि वह इलाज करवा रहा है और भविष्य में कभी चिट्टा नहीं लेगा, इसलिए उसे करीब 6 महीने पहले बहाल कर दिया गया था। पांच महीने पहले उसकी नई पोस्टिंग थाना बस्ती बाबा खेल में हुई थी। वह जरनल ड्यूटी कर रहा था। रात हो जाने के कारण उसने आराम करने के लिए मिट्ठू बस्ती में एक कमरा किराये पर लिया था।

 

नशे की सप्लाई की जांच जारी

पुलिस ने हवलदार अमरजोत सिंह और रत्न नगर के रहने वाले होमगार्ड के जवान निर्मल सिंह के खिलाफ थाना बस्ती बाबा खेल में एनडीपीएस एक्ट की धारा-27 के तहत केस दर्ज किया है। अदालत ने दोनों आरोपी जेल भेज दिए हैं। पुलिस कमिश्नर गुरप्रीत सिंह भुल्लर ने कहा कि हवलदार अमरजोत को डिसमिस कर दिया गया है जबकि होमगार्ड के जवान निर्मल के खिलाफ सख्त एक्शन की सिफारिश की गई है। नशे के केस में लिप्त किसी भी को नहीं बख्शा जाएगा। चिट्टा जवान कहां से लाते थे, इसकी जांच डीसीपी (इन्वेस्टिगेशन) गुरमीत सिंह की सुपरविजन में करवाई जा रही है।

 

 

DBApp

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना