आत्महत्या / मैथ्स में बार-बार फेल होने से परेशान था युवक, फंदा लगा गंवाई जान

Dainik Bhaskar

Feb 11, 2019, 03:21 PM IST


a student of 10th class committed suicide by hanging himself
X
a student of 10th class committed suicide by hanging himself
  • comment

  • जालंधर के न्यू जवाहर नगर इलाके 14-15 साल से केयरटेकर के रूप में रह रहा है हिमाचल का परिवार
  • मां गई हुई गांव में, पीछे से अकेले छात्र ने लगाया लिया फंदा
  • एक सप्ताह में मैथ्स के दबाव की वजह से यह दूसरी आत्महत्या

जालंधर. जालंधर में एक युवक द्वारा फंदा लगाकर आत्महत्या किए जाने का मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि वह 10वीं क्लास में बार-बार एक ही विषय गणित में फेल होने की वजह से मानसिक तनाव में था। पुलिस ने परिजनों के बयान दर्ज कर लाश को पोस्टमॉर्टम के लिए भिजवा आगे की कार्रवाई शुरू कर दी है। दूसरी ओर खास बात यह भी है कि मैथ्स के प्रेशर की वजह से जान देने का पिछले एक सप्ताहभर में आज सामने आया यह दूसरा मामला है।

 

घटना जालंधर के न्यू जवाहर नगर इलाके की है, जहां हिमाचल प्रदेश के गगरेट से आकर एक परिवार पिछले करीब 14-15 साल से केयरटेकर के तौर रह रहा है। परिवार के मुखिया गुरबचन सिंह की मौत हो जाने के चलते कई साल से विधवा महिला भी मानसिक रूप से बीमार रहने लग गई। अब घर में लड़का रॉबिन और उसकी मां रह रहे थे। मिली जानकारी के अनुसार रविवार को महिला मूल निवास गगरेट गई हुई थी और पीछे से रॉबिन नामक इस युवक ने घर में फंदा लगा लिया। इस बात का पता महिला के लौटने के बाद उस वक्त चला, जब दरवाजा कई बार भी खटखटाने के बाद नहीं खोला। पड़ोसी दीवार फांदकर घर में घुसा तो अंदर रॉबिन की लाश फंदे पर लटकी हुई थी।

 

आनन-फानन में सूचना मिलने के बाद थाना-6 की पुलिस मौके पर पहुंची, जिसने परिजनों के बयान दर्ज करने के बाद सांयोगिक रूप से मौत हो जाने की धाराओं में कार्रवाई करते हुए शव को पोस्टमॉर्टम के लिए सिविल अस्पताल के माेर्चरी में भिजवा दिया है। इस बारे में मृतक 21 वर्षीय युवक रॉबिन की मौसी सरोज ने बताया कि रॉबिन प्राइवेट तौर पर पंजाब बोर्ड से दसवीं कर रहा था। पिछले वर्ष हुए पेपरों में मैथ्स के पेपर में उसकी कंपार्टमेंट आई थी। बार-बार पेपर देने पर भी वह पास नहीं हो पाया। इस कारण वह हमेशा परेशान रहता था।

 

चार दिन पहले भी एक लड़की ने लगाया था फंदा: चार दिन पहले दिन पहले ही संस्कृति केएमवी स्कूल की 10वीं की छात्र तनवी मेहता (15) ने गले में फंदा लगा अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली थी। सुसाइड नोट में उसने लिखा था कि वह इतना बड़ा कदम सिर्फ मैथ्स टीचर की प्रताड़ना के कारण उठा रही है। हालांकि इस मामले में आरोपी टीचर का दावा है कि तनवी मैथ्स में कमजोर थी, सिर्फ इसीलिए डांटता था।

COMMENT
Astrology
Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन