पंजाब / शराब के नशे में सिर पर ईंट मार दोस्त की हत्या की



a youth has been murdered by his friend while they were drinking together
X
a youth has been murdered by his friend while they were drinking together

Dainik Bhaskar

Aug 19, 2019, 12:08 PM IST

जालंधर. थाना रामामंडी के क्षेत्र संतोषी नगर में शराब का नशे में एक व्यक्ति ने अपने दोस्त के सिर पर ईंट मार-मार कर उसकी हत्या कर दी। मृतक की पहचान संतोषी नगर निवासी 47 वर्षीय जोगिंदर सिंह उर्फ बॉबी पुत्र धर्मपाल सिंह के रूप में हुई है। आरोपी की पहचान संतोषी नगर निवासी दीपू उर्फ चिड़ा पुत्र शिव लाल के रूप में हुई है। आरोपी अभी पुलिस की पकड़ से बाहर है।

 

बताते हैं कि घटना 13 अगस्त की रात की है। दोनों दोस्त रोज की तरह राजू करियाना स्टोर से कुछ दूरी पर एक साथ शराब के जाम लगा रहे थे। इसी बीच दोनों में किसी बात को लेकर कहासुनी हो गई। देखते ही देखते दोनों हाथापाई करने लगे। लड़ते हुए दोन बीच सड़क में जग्गू ढाबा के सामने पहुंच गए। इस के बाद आरोपित दीपू ने जोगिंदर को धक्का मार जमीन पर गिरा दिया। इसके बाद पास में ही पड़ी ईंट उठाकर जमीन पर गिरे हुए जोगिंदर के सिर पर हत्या के इरादे से लगातार वार करने शुरू कर दिए। जोगिंदर के सिर से बहुत ज्यादा खून निकलने लगा। उसके चीखने-चिल्लाने का शोर सुन कर इलाके के लोग मौके पर पहुंचे।

 

लोगों के इकट्ठा होने पर दीपू मौके से भाग निकला। लोगों ने तुरंत जोगिंदर को सिविल अस्पताल में दाखिल करवाया। वहां उसकी हालत गंभीर देख उसे पीजीआइ चंडीगढ़ रेफर कर दिया गया, जहां इलाज के दौरान चार दिन बाद रविवार को उसकी मौत हो गई। थाना रामामंडी के एसएचओ इंस्पेक्टर सुखजीत सिंह ने बताया कि वारदात के चश्मदीद रहे करियाना स्टोर मालिक राज कुमार राजू के बयान पर मृतक के आरोपित दोस्त के खिलाफ केस दर्ज किया गया था। रविवार को पीड़ित की मौत होने के बाद पुलिस ने आरोपित के खिलाफ धारा 302 भी जोड़ दी है।

 

शराब के नशे में भूली सालों की दोस्ती
आरोपी के खिलाफ पुलिस बयान दर्ज करवाने वाले राज कुमार राजू ने बताया कि मृतक जोगिंदर और आरोपित दीपू दस साल से भी अधिक समय से संतोषी नगर में रह रहे थे। जोगिंदर रंग रोगन का काम करता था, जबकि पिछले काफी समय से दीपू कोई काम-धंधा नहीं कर रहा था। उन दोनों में इतनी दोस्ती थे कि पिछले पांच-छह सालों से दोनों एक साथ रोज रात को शराब के जाम लगाते थे। दोनों में कई बार कहासुनी भी हुई थी, लेकिन वह जयादा दूर नहीं बढ़ पाती थी। राजू ने बताया कि मंगलवार को वह दोनों उनकी दुकान से कुछ दूरी पर लड़ रहे थे। उन्हें लगा कि यह तो रोज का ही काम हो गया है, कुछ देर बाद ठीक हो जाएगें। लेकिन महज कुछ देर में ही आरोपित दीपू ने इतना भीषण रूप इख्तियार कर लिया, जिस के बारे सोचा भी नहीं जा सकता था।

 

सालों से परिजनों से अलग रह रहा था
इलाका वासी शंकर कुमार ने बताया कि मृतक जोगिंदर का करीब 12 साल पहले अपनी पत्नी के साथ तलाक हुआ था। उसके दो लड़के हैं जो अपनी मां के साथ अमृतसर में रहते हैं। उन्होंने बताया कि तलाक होने के बावजूद मृतक के घर उसकी पूर्व पत्नी का आना-जाना था। करीब चार माह पहले वह जोगिंदर के पास रहकर भी गई थी, लेकिन रविवार को फोन कर जोगिंदर की मौत की सूचना दी गई तो उसने कहा कि उसके तलाक को कई साल हो गए हैं। वह उसकी डेड बॉडी लेकर क्या करेगी। वहीं, जिला अमृतसर के ब्यास के पास स्थित गांव रईया में रहते जो¨गदर के भाई ने कहा कि कई साल पहले लड़कर जोगिंदर घर छोड़कर चला गया था।

 

DBApp

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना