पंजाब / आम आदमी पार्टी के नेता हरपाल चीमा की सिद्धू को सलाह-कांग्रेस छोड़ हमारे साथ आ जाएं



AAP leader Harpal Cheemah admired Navjot Singh Sidhu decision for resigning
X
AAP leader Harpal Cheemah admired Navjot Singh Sidhu decision for resigning

  • चंडीगढ़ में पार्टी मुख्यालय में मीडिया के जरिये किया आप नेता चीमा ने सिद्धू के फैसले का स्वागत
  • बिजली मंत्री के तौर पर काम नहीं संभालने को लेकर कहा-गंवा दिया बादल राज में विभाग में हुए घपले को खोलने का मौका

Dainik Bhaskar

Jul 14, 2019, 06:58 PM IST

जालंधर. पंजाब कैबिनेट से इस्तीफा दे चुके कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू के फैसले का आम आदमी पार्टी के पंजाब नेतृत्व ने स्वागत किया है। पंजाब विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष की भूमिका निभा रहे आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता हरपाल सिंह चीमा ने सिद्धू को सलाह दी है कि उन्हें कांग्रेस छोड़कर उनके साथ आ जाना चाहिए यानि आम आदमी पार्टी ज्वायन कर लेनी चाहिए।

 

चीमा चंडीगढ़ में पार्टी के मुख्यालय में मीडिया के जरिये नेता प्रतिपक्ष चीमा ने कांग्रेस को भ्रष्ट पार्टी और नवजोत सिंह सिद्धू को पंजाब के जवानों, किसानों, दलितों , व्यापारियों, उद्योगपतियों, कर्मचारियों, बेरोजगारों के हक में माफियाराज के खिलाफ खड़ा होने का जज्बा रखने वाला नेता बताया। उन्होंने कहा कि सिद्धू की साफ-सुथरी राजनीतिक छवि और मंत्री के तौर पर उनका बादलों के 10 साल के माफियाराज और समेत बेअदबी के मामले में बादलों के विरुद्ध बेबाकी के साथ बोलना मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह को रास नहीं आ रहा था। आम लोगों में सिद्धू के बढ़ते राजनैतिक कद को कैप्टन अपनी कुर्सी के लिए भी खतरा समझने लगे थे, इसलिए सिद्धू को लगातार अपमानित किया जा रहा था और आखिर उन्हें इस्तीफे के लिए मजबूर कर दिया गया।

 

चीमा ने कहा कि बेहतर होता, अगर सिद्भू बतौर ऊर्जा मंत्री अपना पद संभालकर पिछली बादल सरकार के दौरान सार्वजनिक थर्मल प्लांट बंद करके निजी कंपनियों के साथ किए गए महंगे और नाजायज शर्तों वाले समझौते रद्द करते और बादलों के बिजली माफिया को नंगा करते। इसे भी सामने लाते कि कैप्टन निजी थर्मल कंपनियों के साथ हुए समझौते को रद्द करने से पीछे क्यों हटे। सिद्धू ने प्रदेशवासियों को राहत देने का मौका गंवा दिया है, लेकिन अभी भी देर नहीं हुई है। वह पंजाब के जवानों, किसानों, दलितों, व्यापारियों, उद्योगपतियों, कर्मचारियों, बेरोजगारों के हक में माफियाराज के विरुद्ध डटने का जज्बा रखते हैं। नवजोत सिंह सिद्धू को अब तुरंत भ्रष्ट पार्टी कांग्रेस से भी किनारा कर लेना चाहिए। उनकी पार्टी सिद्धू का स्वागत करेगी।

COMMENT