गो-कार्ट में फंसे बच्ची के बाल, अलग हुई स्किन

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
जालंधर| कैंट एरिया में शनिवार देर शाम गो-कार्ट के एक हादसे में अाठ साल की बच्ची की जान पर बन अाई। पिता के साथ गो-कार्ट राइड इंजॉय कर रही बच्ची के बाल मोटर की गरारी में फंसने से बाल स्किन समेत उखड़ गए। बच्ची को नजदीकी प्राइवेट अस्पताल ले जाया गया जहां उसकी हालत गंभीर बनी हुई है। एम्यूजमेंट पार्क में आए लोगों ने हादसे के फाेटाे खींच पुलिस काे सूचित किया। मौके पर पहुंचे एएसआई कुलदीप सिंह ने कहा कि उनके पास किसी ने अाैपचारिक कंप्लेंट नहीं की है। बच्ची के पैरेंट्स लिखित कंप्लीट देते हैं तो निश्चित तौर पर कार्रवाई करेंगे।

पुलिस ने कहा- पैरेंट्स की कंप्लेंट मिलने पर पार्क मैनेजमेंट पर लेंगे एक्शन

कैंटोनमेंट बोर्ड का है पार्क...पार्क को कैंटोनमेंट बोर्ड चलाता है। पहले गो-कार्ट आर्मी के जवानों द्वारा संचालित की जाती थी। अब पार्क का संचालन निजी ठेकेदार को दिया गया है जो इस सर्विस को भी चलाता है।

गो-कार्ट राइड में सुरक्षा की अनदेखी... जालंधर कैंट में बच्चों के मनोरंजन के लिए गो-कार्ट की सुविधा है पर प्राइवेट ठेकेदार सुरक्षा पर काेई ध्यान नहीं दे रहे। शनिवार शाम राइड के दाैरान अचानक हादसा हाे गया। खोपड़ी का मांस उखड़ने पर पैरेंट्स बच्ची काे निजी अस्पताल लेकर पहुंचे। गो-कार्ट के पीछे इंजन वाले हिस्से काे पूरी तरह कवर नहीं करने के कारण हादसा हुअा। जिक्रयाेग है कि इससे पहले चंडीगढ़ में एेसा ही हादसा हाे चुका है।

अभी बोर्ड को सिर्फ इतना पता चला है कि पार्क में बच्ची को चोटें आई हैं। हम पूरे मामले का पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं।

- राजेश अटवाल, पीआरओ कैंट बोर्ड

खबरें और भी हैं...