पंजाब / रैलियों और रोड शो का दौर खत्म, रविवार को रखे जाएंगे 278 उम्मीदवारों की किस्मत के पिटारे

Dainik Bhaskar

May 18, 2019, 06:52 PM IST



campaigning for Loksabha Election closed and countdown started for the polling
X
campaigning for Loksabha Election closed and countdown started for the polling

  • अमृतसर में सबसे ज्यादा 30 तो होशियारपुर में सबसे कम 8 उम्मीदवार वोट की आस में
  • सूबे के 2 करोड़, 7 लाख, 81 हजार, 211 मतदाताओं में 1 करोड़, 9 लाख 50 हजार 735 पुरुष
  • 98 लाख 29 हजार 916 महिला मतदाता और 560 थर्ड जेंडर के भी

जालंधर (बलराज सिंह). लोकसभा चुनाव के लिए प्रचार में की जा रही रैलियों और रोड शो का दौर शुक्रवार शाम 6 बजे खत्म हो चला। अब उन घंटों की उल्टी गिनती शुरू हो चुकी है, जब 19 मई को नई उम्मीदों की रौशनी लेकर सूरज चाचू आ चुके होंगे और लोग अपनी उम्मीदों के सांसदों के लिए वोट करने लाइनों में लगे नजर आएंगे। सूबे के 2 करोड़, 7 लाख, 81 हजार, 211 मतदाताओं से तमाम 13 सीटों पर चुनाव मैदान में उतरे 278 नेताओं को आस है। अभी तक अमृतसर में सबसे ज्यादा 30 तो होशियारपुर में सबसे कम 8 उम्मीदवार वोट की आस लगाकर वोटर्स को लुभाने के लिए प्रचार पर निकले हुए थे।

 

23213 बूथों पर होगा मतदान

प्रदेश के मुख्य चुनाव अधिकारी डॉ. एस करुण राजू ने बताया कि राज्य में कुल 2 करोड़, 7 लाख, 81 हजार, 211 मतदाता हैं, जिनमें 1 करोड़, 9 लाख 50 हजार 735 पुरुष और 98 लाख 29 हजार 916 महिला मतदाता और 560 थर्ड जेंडर मतदाता हैं। 19 मई को सुबह सात से शाम 6 बजे तक मतदान की प्रक्रिया चलेगी, जिसके लिए पूरे प्रदेश में 23213 मतदान केन्द्र बनाए गए हैं। इनमें से 719 बूथ संवेदनशील, 509 बूथ अति संवेदनशील की श्रेणी में रखे गए हैं। सूबे में चुनाव आचार संहिता के दौरान कुल 283 करोड़ की वस्तुएं और नकदी जब्त की गई है। इसमें 32.73 करोड़ कैश, 22.54 करोड़ का सोना-चांदी, 10 करोड़ की शराब समेत 228 करोड़ का नशा शामिल है। 142 गैर लाइसेंसी हथियार व 873 गोला-बारूद जब्त किया है। 

इसके अलावा राजू ने बताया कि प्रदेश में 19 मई को 12002 बूथों की वेब कास्टिंग होगी। फिर मतगणना 23 मई को सुबह 8 बजे शुरू होगी।

 

कहां कितने उम्मीदवार चुनाव मैदान में

इस बारे में पंजाब के मुख्य चुनाव अधिकारी डाॅ. एस करुणा राजू ने बताया कि प्रदेश की सभी 13 सीटों पर 385 उम्मीदवारों ने पर्चे दाखिल किए थे। जांच के दौरान 297 नामांकन वैध पाए गए थे। कुछ के दस्तावेज सही नहीं थे तो कुछ ने अपना नामांकन वापस ले लिया। अब गुरदासपुर में 15, अमृतसर में 30, खडूर साहिब में 19, जालंधर में 19, होशियारपुर 8, आनंदपुर साहिब 26, लुधियाना 22, उम्मीदवार मैदान में रह गए हैं। फतेहगढ़ साहिब सीट पर 20 उम्मीदवार, फरीदकोट और फिरोजपुर सीट पर 22-22 उम्मीदवार तो बठिंडा में 27, संगरूर में 25 और पटियाला में 25 उम्मीदवार हैं। इस प्रकार कुल 278 उम्मीदवारों के बीच मुकाबला होना है।

 

पिछले लोकसभा चुनाव में कौन कहां था?

पंजाब में पिछले विधानसभा चुनाव में जीत हासिल करने के बाद कांग्रेस की नजर लोकसभा चुनाव-2019 में भी बड़ी जीत हासिल करने पर है। दूसरी ओर भारतीय जनता पार्टी ने पंजाब में अकाली दल के साथ 3-10 का समझौता करके चुनावी मैदान में उतारे हैं। पिछली बार अकाली दल को 4 सीटें और बीजेपी को 2 सीटों पर जीत मिली थी, लेकिन बाद गुरदासपुर लोकसभा सीट पर विनोद खन्ना के निधन के चलते हुए उपचुनाव में यह सीट कांग्रेस के खाते में चली गई।

 

ये है राजनैतिक जोड़-तोड़ और प्रभावित करने वाले बड़े चेहरे

ताजा हालात की बात की जाए तो पंजाब में अकाली दल (बादल) से अलग होकर टकसाली नेताओं ने नई पार्टी बना ली। आम आदमी पार्टी में बिखराव के बाद सुखपाल सिंह खैहरा ने भी पंजाबी एकता पार्टी का गठन कर लिया। कई और दलों के साथ मिलकर पंजाब डेमोक्रेटिक फ्रंट का गठन कर सभी सीटों पर प्रत्याशी उतारे हैं। वहीं अरविंद केजरीवाल की आम आदमी पार्टी अकेले चुनाव लड़ रही है। जहां तक प्रदेश के राजनैतिक माहौल को प्रभावित करने वाले बड़े चेहरों की बात है, इनमें सनी देओल (भाजपा), कैप्टन अमरिंदर सिंह (कांग्रेस), नवजोत सिंह सिद्धू (कांग्रेस), प्रकाश सिंह बादल (शिरोमणि अकाली दल), विजय सांपला (भाजपा), भगवंत मान (आप), हरपाल सिंह चीमा (आप), सुखपाल सिंह खैरा (पंजाब एकता पार्टी) शामिल हैं।

 

105 लोग हाइली एजुकेटिड तो 35 उम्मीदवार दागी भी

प्रदेशभर में 105 कैंडिडेट हायर एजुकेटड यानी डाॅक्टर, इंजीनियर, वकील, एमबीए, पीएचडी और प्राेफेसर हैं। 14 डाॅक्टर, 4 पीएचडी, 2 रिटायर्ड आईएएस, 1 रिटायर्ड जज और 20 वकील हैं। 124 प्रत्याशी चाैथी से 12वीं पास हैं और 36 उम्मीदवार अंगूठाछाप भी हैं। हाई एजुकेशन वाले कैंडिडेट सबसे अधिक पटियाला और संगरूर सीट पर 14-14 हैं। अनपढ़ कैंडिडेट की संख्या 6-6 सबसे ज्यादा अमृतसर और खडूर साहिब में है। पटियाला से चुनाव लड़ रहे रिषभ शर्मा एलएलबी, बलदीप सिंह एमबीए, पीएचडी, धर्मवीर गांधी एमडी, एमबीबीएस, खडूर साहिब से चुनाव लड़ रही जगीर कौर बीए, बीएड, लुधियाना से बृजेश कुमार बीएएमएस, एमडी हैं। इसके अलावा 13 में से 12 सीटों पर मैदान में डटे 35 उम्मीदवारों पर लड़ाई-झगड़े से लेकर रेप और कत्ल तक के 60 केस भी दर्ज हैं। इनमें से ज्यादातर उम्मीदवार जमानत पर हैं, जबकि कुछ मामलों की इन्वेस्टिगेशन चल रही है, कुछ उम्मीदवारों के केस कोर्ट में विचाराधीन हैं।

 

सिमरजीत सिंह बैंस समेत सबसे ज्यादा केस लुधियाना में, पर जालंधर में एक भी नहीं
प्रदेश में सबसे ज्यादा मामले लुधियाना में दर्ज हुए हैं। यहां से लड़ रहे उम्मीदवारों पर 15 केस दर्ज हैं, जबकि जालंधर लोकसभा क्षेत्र से किसी भी उम्मीदवार पर कोई केस दर्ज नहीं है। इसके अलावा कई अन्य जिलों में भी प्रत्याशियों पर क्रिमिनल केस और अन्य तरह के केस दर्ज हैं। व्यक्ति विशेष की बात की जाए तो लुधियाना से चुनाव लड़ रहे सिमरजीत सिंह बैंस पर सबसे ज्यादा 8 मामले दर्ज हैं। इनमें लड़ाई-झगड़े, पब्लिक प्रॉपर्टी को नुकसान पहुंचाने, हाईवे ब्लॉक करने, कत्ल का प्रयास और कई अन्य धाराओं के तहत दर्ज मामले शामिल हैं। बैंस के बाद सबसे ज्यादा 6 केस संगरूर से चुनाव लड़ रहे भारतीय लोकसेवा दल के महिंदर पाल सिंह के खिलाफ दर्ज हैं। इसमें लड़ाई-झगड़े और ट्रेस पासिंग के अलावा अन्य धाराओं के तहत मामले शामिल हैं।

 

कई पर रेप जैसे संगीन आरोप भी

लुधियाना से ही चुनाव लड़ रहे अंबेडकर नेशनल कांग्रेस के उम्मीदवार बिंटू कुमार टांक पर रेप के आरोप में केस दर्ज हैं। सुनवाई लुधियाना कोर्ट में ही चल रही है। उधर, आनंदपुर साहिब से चुनाव लड़ रहे हिंद कांग्रेस पार्टी के कंवलजीत सिंह पर दहेज का मामला दर्ज है। खडूर साहिब से चुनाव लड़ रही अकाली दल की जगीर कौर के खिलाफ किडनैपिंग, साजिश रचने के आरोप में केस दर्ज हैं। इसके अलावा उनके खिलाफ एक कोर्ट केस भी चल रहा है। संगरूर से चुनाव लड़ रही हिंदुस्तान शक्ति सेना की राजबीर कौर के खिलाफ ठगी और ह्यूमन स्मग्लिंग 2012 एक्ट के तहत केस दर्ज हैं।

 

गुरदासपुर उपचुनाव में सामने आई थी ये बात

2017 में गुरदासपुर लोकसभा सीट पर हुए उपचुनाव में भाजपा-अकाली दल गठबंधन के उम्मीदवार रहे स्वर्ण सलारिया बलात्कार का आरोप था। इस वजह से उनकी संभावनाएं कमजोर हो गई तो सहयोगी दल के नेता सुच्चा सिंह लंगाह ऐसे ही आरोप में पार्टी से बाहर कर हो गए थे। दागी प्रतिद्वंद्वी की टक्कर में कांग्रेस के बैनर के साथ उतरे साफ छवि के नेता सुनील जाखड़ काे इसी बात का फायदा मिला।

 

किस सीट पर कितने वोटर हैं फैसला करने को

लोकसभा सीट कुल वोटर्स पुरुष महिला तृतीय लिंग के वोटर
गुरदासपुर 1595284 849761 745479 44
अमृतसर 1507875 801639 766178 58
खडूर साहिब 1638842 867895 770874 73
होशियारपुर 1597500 832025 765445 30
जालंधर  1617018 843598 773400 20
लुधियाना 1683325 903624 779630 71
पटियाला 1739600 914607 824919 74
बठिंडा 1621671 861387 760264 20
फिरोजपुर 1618419 862955 755429 35
फरीदकोट 1541971 818244 723690 37
संगरूर 1529432 814856 714551 25
आनंदपुर साहिब 1698876 889506 809328 42
फतेहगढ़ साहिब 1502861 799731 703099 31
COMMENT