--Advertisement--

शादी के दूसरे दिन से ही टॉर्चर करने लगे थे बहू को, डेढ़ साल बाद बेरहमी से मार डाला

पंजाब के बलाचौर में मंगलवार को एक ससुर ने राइफल से बहू की गोली मारकर हत्या कर दी।

Danik Bhaskar | Jun 01, 2018, 08:25 AM IST

होशियारपुर. पंजाब में मंगलवार को एक बहू की बेरहमी से हत्या कर दी गई। उसकी शादी को करीब डेढ़ साल ही हुए थे कि ससुर ने लाइसेंसी राइफल से बहू के सीने व चेहरे पर गोलियां दाग दी। वजह बना एक फोर व्हीलर। जानकारी के मुताबिक, आरोपी ससुर रतन सिंह फौज में रह चुका है। बेटा कमल राणा इंजीनियर है। इटली में बतौर मैनेजर काम करता है। लेकिन एक कार के लिए किसी की लाडली की जान ले ली। आरोप है कि शादी के दूसरे ही दिन से बहू को उन्होंने टॉर्चर करना शुरू कर दिया था। लड़के वाले हर दिन ताना मारते थे कि तेरे घरवालों ने कुछ नहीं किया। गाड़ी भी नहीं दी। मंगलवार के दिन भी नॉनवेज की डिमांड की...

- जानकारी के मुताबिक, मृतका अनीता के पिता जसपाल सिंह होशियारपुर में एक गांव के रहने वाले हैं। वे रिटायर्ड फौजी हैं। उनकी तीन बेटियां और एक लड़का है, जो स्पेन में रहता है। इसमें से अनीता (जिसे घरवाले प्यार से नीतू कहकर भी बुलाते थे) की शादी 25 अक्टूबर, 2016 को ठठियाला बेट के रहने वाले रतन सिंह के बेटे कमल से हुए थी।

- अनीता के भाई संदीप कुमार ने बताया - 'नीतू की शादी से दो दिन पहले लड़के वाले नॉनवेज भी रखने को लेकर अड़ गए। फिर मजबूरन हमें वो अरेंज करना पड़ा। इसके अलावा ड्रिंक की भी व्यवस्था की।'

- 'शुरू में नीतू ने ससुराल वालों के तानों को सीरियसली नहीं लिया। फिर कुछ दिन बाद उसने वहां (ससुराल) हो रहे टॉर्चर के बारे में हमें बताया। लड़के वाले उसे फोर व्हीलर नहीं देने को लेकर टॉर्चर करते थे। जबकि, गाड़ी छोड़कर हमने उन्हें सबकुछ (फ्रिज, एसी, एलईडी, बेड, गहने समेत कई लग्जरी चीजें) दिया था। शादी में लगभग 22 लाख रुपए खर्च हुए थे।'

'वीडियो कॉल कर बहन को पीटते हुए कहा- मुझे गाड़ी क्यों नहीं दी'

- अनीता की शादी के लगभग 9 महीने बाद उसका भाई स्पेन से घर लौटा था। 18 अगस्त, 2017 को उसने एक स्विफ्ट खरीदी। जिसके बाद से ही बहनोई कमल का व्यवहार और भी ज्यादा खराब हो गया। उसी दिन उसने रात 10 बजे के करीब संदीप को वीडियो कॉल कर अनीता के साथ मारपीट करने लगा। संदीप के मुताबिक, वह कह रहा था कि उसे दहेज में कार क्यों नहीं दी।

- इसके बाद अनीता के घरवालों ने कमल और उसके परिवार के खिलाफ दो बार पुलिस से शिकायत की। लेकिन दोनों बार सुलह हो गई। संदीप ने बताया कि लड़के के पिता ने राजीनामा किया कि वो उससे (कमल) कहेंगे कि नीतू का पासपोर्ट बनवाए, उसे साथ ले जाए। साथ ही भरोसा दिलाया कि आगे उसके साथ ऐसा कुछ नहीं होगा।

फिर ससुर ने ले ली अनीता की जान

- मंगलवार, 29 मई को आरोपी ससुर किसी बात पर नाराज हो गया और शाम से ही अनीता को अपशब्द कहने लगा। ससुर हाथ में लाइसेंसी राइफल लेकर घूम रहा था। अनीता बचने के लिए अपने कमरे की ओर भागी। लेकिन कमरा बंद न हो पाने के चलते ससुर ने उस पर राइफल से 2 गोलियां दाग दी। हत्या से ठीक पांच मिनट पहले अनीता ने अपने पिता को फोन पर कहा था- मुझे यहां से जल्दी ले जाओ पापा। ये मुझे मार देंगे।

ससुराल में अनीता की लाश ससुराल में अनीता की लाश
ससुराल में अनीता की लाश ससुराल में अनीता की लाश
ससुराल में अनीता की लाश ससुराल में अनीता की लाश
ससुराल में अनीता की लाश ससुराल में अनीता की लाश