मोगा / सूबे में सिर्फ 5-6 गैंगस्टर रह गए , जिनकी लिस्ट आयोग को भेज दी, इन्हें चुनाव में फटकने नहीं देंगे : डीजीपी



डीजीपी पंजाब दिनकर गुप्ता व अन्य पुलिस अधिकारी बैठक करते। डीजीपी पंजाब दिनकर गुप्ता व अन्य पुलिस अधिकारी बैठक करते।
X
डीजीपी पंजाब दिनकर गुप्ता व अन्य पुलिस अधिकारी बैठक करते।डीजीपी पंजाब दिनकर गुप्ता व अन्य पुलिस अधिकारी बैठक करते।

  • चुनाव में गड़बड़ी रोकने के लिए डीजीपी दिनकर गुप्ता ने मोगा में पुलिस अफसरों से एक घंटा मीटिंग कर दिए निर्देश
  • डीजीपी बोले- ज्यादा कैश लेकर न चलें, पुलिस हर समय आपके साथ नहीं रह सकती

Dainik Bhaskar

Mar 16, 2019, 05:48 AM IST

मोगा. लोकसभा चुनाव शांतिपूर्वक संपन्न कराने और सुरक्षा को लेकर डीजीपी दिनकर गुप्ता ने शुक्रवार को मोगा में पुलिस अधिकारियों के साथ बैठक की। वहीं, प्रेस कान्फ्रेंस में सवालों के जवाब में उन्होंने कहा कि प्रदेश में अब 5-6 गैंगस्टर ही बचे हैं, बाकी का सफाया कर दिया गया है। चुनाव आयोग ने गैंगस्टरों की लिस्ट मांगी थी। इसलिए राज्य में सक्रिय 5-6 गैंगस्टरों के नामों की लिस्ट भेज दी है। उन्होंने कहा कि चुनाव के दौरान इन्हें फड़फड़ाने नहीं दिया जाएगा।

 

सुरक्षा के लिए पूरे राज्य में 81 हजार पुलिस कर्मचारियों तैनात रहेंगे। लगभग एक घंटा चली बैठक में डीजीपी ने बैठक में मौजूद पुलिस अफसरों को सख्त हिदायतें जारी की है कि चुनावों में किसी तरह गड़बड़ी न हो, इसका विशेष तौर ध्यान रखा जाए। मीटिंग में ला एंड आर्डर एडीजीपी ईश्वर सिंह, एसटीएफ चीफ गुरप्रीत दियो, एआईजी एसटीएफ स्नेहदीप शर्मा, आईजी फिरोजपुर मुखबिंदर सिंह छीना, एसएसपी अमरजीत सिंह बाजवा, एसपीडी हरिन्द्र पाल सिंह परमार, एसपी एच समेत जिले के सभी डीएसपी, एसएचओ मौजूद थे। 
 

महिलाएं अकेले बैंक से बड़ी राशि या गहने निकाल कर न लाएं - डीजीपी ने कहा, आज डिजिटल का जमाना है और हमें अपने साथ ज्यादा मात्रा में कैश लेकर नहीं चलना चाहिए। यही नहीं जब हमारे घरों में कोई शादी आदि का कार्यक्रम हो तो महिलाओं को अकेले बैंक से बड़ी राशि या गहने निकाल कर नहीं लाने चाहिएं। उन्हें अपने साथ 1 या दो जानकारों को ले जाना चाहिए ताकि बैंकों में घात लगाकर बैठे शातिरों से बचा जा सके। डीजीपी ने कहा कि हर जगह व हर समय पुलिस आपके साथ नहीं रह सकती।  
 

नशा तस्करों का ब्रेक कर रहे हैं नेटवर्क- डीजीपी दिनकर गुप्ता ने बताया कि राज्य में नशा तस्करों का बड़ा नेटवर्क तैयार हो चुका था। जिसे पिछले दो सालों में पुलिस व उसके विभिन्न विंगों ने ब्रेक किया है। पंजाब बॉर्डर एरिया होने के चलते सीमा पार से हेरोइन की ज्यादा तस्करी हो रही है। इसके अलावा दिल्ली व राजस्थान से भी हेरोइन बठिंडा, मानसा व मुक्तसर इलाके में सप्लाई हो रही है। ऐसे में पुलिस ने बड़ी संख्या में नशा तस्करों को पकड़ा है। तस्करों में प्रमुख सुरिंदर कुमार व उसके पांच साथियों को पुलिस गिरफ्तार कर चुकी है। उनके पास से बड़ी मात्रा में हेरोइन बरामद हुई थी। इसके बाद हेरोइन तस्करी में काफी कमी आई है। हाल ही में पुलिस ने नौ पैकेट और साढ़े 14 किलो हेरोइन पकड़ी थी। धीरे-धीरे तस्करों के हौसले पस्त हो रहे हैं।   
 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना