जालंधर

--Advertisement--

पंजाब में पहली बार एक साथ बनेंगे 22 हजार थानेदार, पहले चरण में 7500 हवलदार होंगे प्रमोट

पहले चरण में 15 अगस्त को 1077 एएसआई, 251 एसआई होंगे प्रमोट

Dainik Bhaskar

Aug 13, 2018, 06:22 AM IST
first time more than 22 thousand police personnel will be promote

चंडीगढ़. पंजाब पुलिस के इतिहास में पहली बार एक साथ 22 हजार हवलदार प्रमोट होकर थानेदार (एएसआई) बनने जा रहे हैं। इसके अलावा 1077 एएसआई को सब इंस्पेक्टर और 251 सब इंस्पेक्टर्स को इंस्पेक्टर बनाया जाएगा। इतनी बड़ी संख्या में हवलदारों को एक साथ थानेदार बनाने के लिए इन्हें तीन चरणों में प्रमोट किया जाएगा। पहले चरण में 7500 हवलदारों को 15 अगस्त तक प्रमोट कर एएसआई बना दिया जाएगा। सभी सब इंस्पेक्टर और इंस्पेक्टर भी इनके साथ ही प्रमोट होंगे। उसके बाद एक-एक महीने के अंतराल के बाद बाकी हवलदारों को एएसआई प्रमोट कर दिया जाएगा।

डीजीपी सुरेश अरोड़ा का कहना है कि जिन पुलिसकर्मियों की लंबे समय से प्रमोशन लंबित थी, ऐसे सभी मामलों का निपटारा करते हुए उनको प्रमोट करने का फैसला किया गया है। इनमें सबसे ज्यादा हेड काॅन्स्टेबल से एएसआई बनने वाले कर्मचारी हैं। इसके लिए काम शुरू कर दिया है। इसके अलावा एएसआई से सब इंस्पेक्टर और सब इंस्पेक्टर से इंस्पेक्टर्स की परमोशन्स भी की जा रही हैं।

तीन चरणों में होगा प्रमोशन: पंजाब में 22 हजार हवलदारों को तीन चरणों में थानेदार बनाया जा रहा है। ऐसा इसलिए किया जा रहा है, क्योंकि संख्या ज्यादा होने के कारण सभी हवलदारों को थानेदार प्रमोट करने के लिए रिकार्ड आदि की जांच-पड़ताल में काफी समय लग सकता है। इसके साथ ही सब इंस्पेक्टर और इंस्पेक्टर भी प्रमोट होने हैं। ऐसे में 7500 हवलदारों, 1077 एएसआई और 251 सब इंस्पेक्टर्स को पहले चरण में ही 15 अगस्त तक प्रमोट करने का फैसला किया गया है, जबकि बाकी हवलदारों को एक-एक महीने के अंतराल के बाद प्रमोट किया जाएगा।

विभाग को अदालतों से भी मिलेगी निजात : पुलिस विभाग के अधिकारियों के अनुसार विभाग ने तमाम केसों का निपटारा करते हुए यह फैसला किया है कि जो भी कर्मचारी नॉन गजटेड अफसर है, उसकी ड्यू प्रमोशन उसे दे दी जाए, ताकि वो न अदालत जाए और उसे समय पर प्रमोशन मिल जाए।

गृह विभाग ने जिलों को भी दिए अधिकार :हवलदार से एएसआई प्रमोट करने के लिए गृह विभाग ने जिला अफसरों को भी अथारिटी दे दी है। गृह विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव एनएस कलसी ने जिला पुलिस अफसरों को ये अधिकार दे दिए हैं। प्रमोट होने वाले हवलदारों की संख्या ज्यादा होने के कारण यह फैसला लिया गया है, ताकि काम जल्दी निपटाया जा सके।

सिनियोरिटी के हिसाब से होगा प्रमोशन: हवलदारों को थानेदार प्रमोट करने के लिए तीन चरणों में काम किया जा रहा है। इनमें सिनियोरिटी के हिसाब से प्रमोशन किया जाएगा। पहले चरण में 29-30 साल के हवलदारों को प्रमोट किया जाएगा। उसके बाद 24-25 साल के हवलदारों को प्रमोट किया जाएगा।

X
first time more than 22 thousand police personnel will be promote
Click to listen..