दुखद / मोहित को जाना था इंफाल, ऐन मौके पर एएन-32 प्लेन में लगा दी गई ड्यूटी: पिता



Flying Lieutenant Mohit Garg of Samana died
X
Flying Lieutenant Mohit Garg of Samana died

  • जिस गली में सवा साल पहले शादी के टेंट लगे थे आज वहां मातम पसरा
  • सुरिंदर गर्ग बोले-शायद बेटे की शहादत ऐसे ही लिखी थी

Dainik Bhaskar

Jun 15, 2019, 05:30 AM IST

समाना (पवन शास्त्री). अरुणाचल प्रदेश में एएन-32 प्लेन क्रैश हादसे में शहीद हुए समाना के फ्लाइंग लेफ्टिनेंट मोहित गर्ग के पिता सुरिंदर गर्ग और चाचा ऋषिपाल 10 दिन बाद जोरहाट से शुक्रवार सुबह लौट आए। उनके आने की सूचना के बाद घर पर शोक जताने वालों का तांता लग गया। विडंबना यह है कि करीब सवा साल पहले अग्रसेन कॉलोनी में घर के पास जिस गली में मोहित की शादी के टेंट लगे थे, आज उसी गली में मातम के टेंट लगे हैं।

 

सुरिंदर गर्ग ने बताया कि बेटे की शहादत ऐसे ही लिखी थी। मोहित ने तो इम्फाल फ्लाइट लेकर जाना था। एएन 32 ट्रांसपोर्ट जहाज का पायलट कहीं और चला गया और इस फ्लाइट में मोहित कि ड्यूटी लगा दी गई। आधे घंटे बाद प्लेन क्रैश हो गया। 

 

8 जून को पत्नी के साथ घर आना था :
सुरिंदर गर्ग ने बताया कि  मोहित ने अभी 8 जून को पत्नी के साथ यहां परिवार से मिलने आना था लेकिन भगवान को कुछ और ही मंजूर था। मोहित का पार्थिव शरीर शनिवार सुबह या दोपहर बाद यहां पहुंचने की उम्मीद है। साथ में पत्नी आस्था तथा एयरफोर्स अधिकारी पहुंचेंगे। सुरिंदर गर्ग ने बताया कि बेटे ने कभी भी चुनौती भरे काम को मना नहीं किया। 
 

COMMENT