गुरुजी ने समाज में बराबरी का संदेश दिया : डॉ. बेदी

Jalandhar News - पंचनद शोध संस्थान जालंधर अध्याय की ओर से श्री गुरु नानक देव जी के 550वें प्रकाश पर्व को समर्पित विचार गोष्ठी का...

Bhaskar News Network

Nov 11, 2019, 08:00 AM IST
Jalandhar News - guruji gave a message of equality in society dr bedi
पंचनद शोध संस्थान जालंधर अध्याय की ओर से श्री गुरु नानक देव जी के 550वें प्रकाश पर्व को समर्पित विचार गोष्ठी का आयोजन किया गया। इसका मुख्य विषय ‘आज का भारत श्री गुरु नानक देव जी की देन’ था।

मुख्य वक्ता सेंट्रल यूनिवर्सिटी हिमाचल प्रदेश के कुलपति डॉ. हरमहेंद्र सिंह बेदी और मुख्य मेहमान नरेंद्र सिंह भारज थे। डॉ. बेदी ने श्री गुरु नानक देव जी के उस समय के भारत और आज के समय के भारत में चल रही समस्याओं का विश्लेषण करते हुए बताया कि गुरु नानक देव जी ने उस समय समाजवाद और पूंजीवाद से हटकर लोगों को गुरबाणी का रास्ता बताया, जिससे वे जीवन को संवार सकें।

उन्होंने कहा कि गुरु जी ने समाज में बराबरी का संदेश देकर लोगों को बांट कर खाने के लिए प्रेरित किया और मानवीय जीवन को व्यवहारिक रूप प्रदान करते हुए नैतिक कदर कीमतों को सेवा के कंसेप्ट के साथ जोड़ दिया। आरपी सिंह ने गुरु नानक देव जी द्वारा किए संदेशों का आधुनिक समय में व्यावहारिकता रूप देने के लिए सभी को प्रेरित किया। मंच संचालन पंचनद के सेक्रेटरी कनकेश गुप्ता ने किया। संस्थान की ओर से डॉ. बेदी को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया। यहां संस्थान के प्रधान विक्रम अरोड़ा, अमरजीत सिंह अमरी, गुरनाम सिंह, डीएवी कॉलेज के प्रिंसिपल डॉ संजीव वर्मा, एनआईटी रजिस्ट्रार डॉ. एसके मिश्रा, रमन पब्बी, डॉक्टर आरके सेठ, बलवंत ठाकुर, कश्मीरी लाल खन्ना, जसवंत सिंह, एडवोकेट अमित संधर, एडवोकेट अनिल वर्मा, गुरप्रीत सिंह, प्रोफेसर अजय त्रेहान, हरविंदर सिंह चिटकारा, प्रो. अजय बंसल और एडवोकेट भूपेंद्र सिंह मौजूद थे।

विचार गोष्ठी के मुख्य वक्ता को सम्मानित करते हुए।

भास्कर न्यूज | जालंधर

पंचनद शोध संस्थान जालंधर अध्याय की ओर से श्री गुरु नानक देव जी के 550वें प्रकाश पर्व को समर्पित विचार गोष्ठी का आयोजन किया गया। इसका मुख्य विषय ‘आज का भारत श्री गुरु नानक देव जी की देन’ था।

मुख्य वक्ता सेंट्रल यूनिवर्सिटी हिमाचल प्रदेश के कुलपति डॉ. हरमहेंद्र सिंह बेदी और मुख्य मेहमान नरेंद्र सिंह भारज थे। डॉ. बेदी ने श्री गुरु नानक देव जी के उस समय के भारत और आज के समय के भारत में चल रही समस्याओं का विश्लेषण करते हुए बताया कि गुरु नानक देव जी ने उस समय समाजवाद और पूंजीवाद से हटकर लोगों को गुरबाणी का रास्ता बताया, जिससे वे जीवन को संवार सकें।

उन्होंने कहा कि गुरु जी ने समाज में बराबरी का संदेश देकर लोगों को बांट कर खाने के लिए प्रेरित किया और मानवीय जीवन को व्यवहारिक रूप प्रदान करते हुए नैतिक कदर कीमतों को सेवा के कंसेप्ट के साथ जोड़ दिया। आरपी सिंह ने गुरु नानक देव जी द्वारा किए संदेशों का आधुनिक समय में व्यावहारिकता रूप देने के लिए सभी को प्रेरित किया। मंच संचालन पंचनद के सेक्रेटरी कनकेश गुप्ता ने किया। संस्थान की ओर से डॉ. बेदी को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया। यहां संस्थान के प्रधान विक्रम अरोड़ा, अमरजीत सिंह अमरी, गुरनाम सिंह, डीएवी कॉलेज के प्रिंसिपल डॉ संजीव वर्मा, एनआईटी रजिस्ट्रार डॉ. एसके मिश्रा, रमन पब्बी, डॉक्टर आरके सेठ, बलवंत ठाकुर, कश्मीरी लाल खन्ना, जसवंत सिंह, एडवोकेट अमित संधर, एडवोकेट अनिल वर्मा, गुरप्रीत सिंह, प्रोफेसर अजय त्रेहान, हरविंदर सिंह चिटकारा, प्रो. अजय बंसल और एडवोकेट भूपेंद्र सिंह मौजूद थे।

X
Jalandhar News - guruji gave a message of equality in society dr bedi
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना