लापरवाही / मप्र के पचमढ़ी में आर्मी कैंप से हथियार चुराने वाला बर्खास्त सैनिक होशियारपुर के अस्पताल से फरार

अस्पताल के अंदर कैदियों के लिए बनाए गए इस वार्ड में रखा गया था हरप्रीत। अस्पताल के अंदर कैदियों के लिए बनाए गए इस वार्ड में रखा गया था हरप्रीत।
हरप्रीत के फरार होने पर होमगार्ड के जवानों से पूछताछ करते हुए पुलिस। हरप्रीत के फरार होने पर होमगार्ड के जवानों से पूछताछ करते हुए पुलिस।
आरोपी हरप्रीत दो पुलिस को चकमा देकर हुआ फरार। आरोपी हरप्रीत दो पुलिस को चकमा देकर हुआ फरार।
X
अस्पताल के अंदर कैदियों के लिए बनाए गए इस वार्ड में रखा गया था हरप्रीत।अस्पताल के अंदर कैदियों के लिए बनाए गए इस वार्ड में रखा गया था हरप्रीत।
हरप्रीत के फरार होने पर होमगार्ड के जवानों से पूछताछ करते हुए पुलिस।हरप्रीत के फरार होने पर होमगार्ड के जवानों से पूछताछ करते हुए पुलिस।
आरोपी हरप्रीत दो पुलिस को चकमा देकर हुआ फरार।आरोपी हरप्रीत दो पुलिस को चकमा देकर हुआ फरार।

  • पंजाब के होशियारपुर की जेल में बंद था जवान हरप्रीत, इलाज के लिए सिविल अस्पताल लाया गया था
  • 5 दिसंबर को हरप्रीत ने एक दोस्त के साथ मध्यप्रदेश के पचमढ़ी में सेना के कैंप से हथियार चुराए थे
  • अस्पताल में हरप्रीत पर नजर रखने के लिए चार होमगार्ड की ड्यूटी थी, इसमें से दो ड्यूटी पर नहीं थे

Dainik Bhaskar

Jan 14, 2020, 02:16 PM IST

होशियारपुर (सुखविंद्र सिंह कूनी). मध्यप्रदेश के पचमढ़ी आर्मी कैंप से इंसास राइफल और कारतूस चुराने वाला सेना का बर्खास्त जवान हरप्रीत सिंह मंगलवार तड़के पंजाब पुलिस को चकमा देकर जिला अस्पताल से फरार हो गया। घटना के बाद पुलिस के आला अधिकारी मौके पर पहुंचे। पूरा मामला संदिग्ध बताया जा रहा है। आरोपी होशंगाबाद के सेना शिक्षा केंद्र से 5 दिसंबर 2019 को दो इंसास राइफल और कारतूस चुराने के मामले में पकड़ा गया था। 

अस्पताल में भर्ती हरप्रीत पर निगाह रखने के लिए चार होमगार्ड की ड्यूटी लगाई गई थी। इसमें से दो ड्यूटी पर नहीं थे। पुलिस का कहना है कि मंगलवार तड़के 4 बजे हरप्रीत सिंह ने होमगार्ड के जवान को बाथरूम जाने के लिए कहा। एक जवान उसके साथ गया। हरप्रीत उसे धक्का मारकर फरार हो गया। घटना की सूचना मिलते ही होशियारपुर एसपी परमिंद्र, डीएसपी सिटी जगदीश अत्री, एसएचओ मॉडल टाउन विक्रमजीत मौके पर पहुंचे। पुलिस चारों होमगार्ड से पूछताछ कर रही है। एसपी परमिंद्र का कहना है कि आरोपी को पकड़ने के लिए पुलिस टीमें लगाई गई हैं। आसपास के इलाकों में पुलिस को अलर्ट कर दिया गया।


क्या है पूरा मामला

हरप्रीत हथियार चुराने से पहले आर्मी कैंप से लापता था। उसने 2017-18 के दौरान एक साल तक पचमढ़ी के सेना शिक्षा केंद्र में ट्रेनिंग ली थी। 5 दिसंबर को वह एक साथी को लेकर पचमढ़ी पहुंचा। यहां गार्डों को झांसे में लेकर उसने दो इंसास रायफल और कारतूस चोरी कर लिए। उसकी पहचान मटकुली के ढाबे और पिपरिया में एटीएम लगे सीसीटीवी फुटेज के आधार पर हुई थी। टवेरा के ड्राइवर ने भी चोरों के पंजाबी या हरियाणवी होने की शंका जताई थी। घटना के 5 दिन बाद पंजाब पुलिस ने होशियारपुर के पास मियाणी में आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। पंजाब पुलिस ने उसे कोर्ट में पेश कर 6 दिन के पुलिस रिमांड पर लिया था। इसके बाद होशियारपुर जेल भेज दिया गया था।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना