जिले के सरकारी स्कूलों को हेड टीचर का इंतजार

Jalandhar News - पंजाब के सरकारी स्कूलों में लगभग 30 सालों से पढ़ा रहे मास्टर कैडर के कई टीचर्स को तीन दशकों के इंतजार के बाद प्रमोशन...

Bhaskar News Network

Jul 14, 2019, 07:55 AM IST
Jalandhar News - head teachers waiting for government schools in the district
पंजाब के सरकारी स्कूलों में लगभग 30 सालों से पढ़ा रहे मास्टर कैडर के कई टीचर्स को तीन दशकों के इंतजार के बाद प्रमोशन तो मिली लेकिन उनको संबंधित स्कूलों में जॉइन नहीं करवाया जा रहा, जबकि स्टेशन अलॉट किए हुए 15 दिन से ऊपर हो गए हैं। जिले में कई ऐसे स्कूल हैं जहां हेड टीचर ही नहीं है। कारण यह है कि शिक्षा मंत्री विजय सिंगला शहर से बहार हैं जिस कारण इन सभी प्रमोट हुए टीचर्स की फाइलें अटकी हुई हैं।

इतने सालों से सरकार की अनदेखी का शिकार हुए करीब 600 अध्यापक प्रमोशन के इंतजार में सेवामुक्त भी हो गए और कई टीचर्स की तो डेथ भी हो चुकी है। साल 1988 से 1990 के बीच भर्ती हुए मास्टर कैडर के टीचर्स में से राज्य के 228 अध्यापकों को इसी साल 24 जून को प्रमोशन देकर मुख्य अध्यापक बनाया गया है।

पिछले महीने 228 अध्यापक किए गए पदोन्नत, मनपसंद स्टेशन भी कर दिए अलॉट

26 जून को प्रमोट किए गए मास्टरों को पीएसईबी ऑडिटोरियम मोहाली में मेरिट के आधार पर पर मनपसंद स्टेशन भी अलॉट कर दिए गए, लेकिन अभी तक टीचर्स को सरकारी हाई स्कूल में जॉइन नहीं करवाया गया, जबकि सरकारी नियमों के मुताबिक प्रमोशन मिलने और स्टेशन अलॉट होने के तुरंत बाद टीचर्स स्कूल में अपनी ड्यूटी जॉइन कर सकते हैं। इसके बावजूद जिन टीचर्स को प्रमोशन मिली है वे आज भी अपने पुराने स्कूलों में ही हैं। जालंधर जिले में 79 मास्टर कैडर की प्रोमोशन होनी थी। उनमें से 23 को प्रोमोट कर हेड टीचर बनाया था। 19 को स्टेशन अलॉट कर दिए गए, जबकि 3 टीचर्स की फाइल रिफ्यूज हो गई और एक टीचर का निधन हो गया है।

शिक्षा मंत्री शहर से बाहर, महीना पहले प्रमोट हुए टीचर्स की फाइलें अटकी

‘एक तो इतने देर बाद प्रमोशन और अब सरकार लेटर नहीं जारी कर रही’

मास्टर कैडर यूनियन के जिला प्रधान हरबंस लाल ने कहा कि स्कूल में पढ़ा रहे मास्टर के साथ हमेशा से ही अन्याय रहा है। एक तो इतने देर बाद प्रमोशन दी गई और अब सरकार की ओर से लेटर का इंतजार है। सरकार की ओर से लेटर ही जारी नहीं की जा रही। जबकि इसी साल जून में अध्यापकों की काउंसलिंग भी हो गई है और स्टेशन भी अलॉट कर दिए गए हैं। सरकार की इसी टालमटोल की नीति के खामियाजा टीचर्स को भुगतना पड़ रहा है और सरकार टीचर्स की सिनियोरिटी भी फिक्स नहीं कर पा रही है।

फाइल शिक्षामंत्री के पास, जैसे ही मंजूरी मिलेगी जॉइन करवा देंगे : शिक्षा सचिव

शिक्षा सचिव कृष्ण कुमार ने कहा कि हमारी ओर से प्रोमोट किए टीचर्स को स्टेशन अलॉट कर दिए गए हैं, अब फाइल प्रवानगी के लिए शिक्षा मंत्री के पास गई है। जैसे ही हमें उनसे मंजूरी मिलती है, तुरंत टीचर्स को हाई स्कूल में जॉइन करवा दिया जाएगा।

जिले के 3 टीचर्स की फाइन रिफ्यूज हुई...

शिक्षा मंत्री विजय सिंगला की पीआरओ ने बताया कि वे शहर से बाहर हैं, शायद इसी वजह से देरी हो रही होगी। जालंधर जिले में 79 मास्टर कैडर की प्रोमोशन होनी थी। उनमें से 23 को प्रोमोट कर हेड टीचर बनाया था। 19 को स्टेशन अलॉट कर दिए गए, जबकि 3 फाइल रिफ्यूज हो गई और एक टीचर का निधन हो गया है।

X
Jalandhar News - head teachers waiting for government schools in the district
COMMENT