• Hindi News
  • Punjab
  • Jalandhar
  • In Punjab, the doctor's planner son, who was injured in the wounds of the injured 'AAP', will make the Captain 'King'

राजनीति / दिल्ली के बाद पंजाब जीतने को उत्साहित है 'आप', प्रशांत किशोर से कैंपेन कराने की चर्चाएं

दिल्ली विधानसभा चुनाव की कैंपेन के दौरान मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के साथ प्रशांत किशोर। दिल्ली विधानसभा चुनाव की कैंपेन के दौरान मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के साथ प्रशांत किशोर।
X
दिल्ली विधानसभा चुनाव की कैंपेन के दौरान मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के साथ प्रशांत किशोर।दिल्ली विधानसभा चुनाव की कैंपेन के दौरान मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के साथ प्रशांत किशोर।

  • 2014 के लोकसभा चुनाव में 4 सीटों पर जीतने वाली आम आदमी पार्टी, 2019 में सिर्फ संगरूर की सीट ही बचा पाई
  • रणनीतिकार प्रशांत किशोर दिसंबर 2019 में दिल्ली में पार्टी के कैंपेन में उतरे थे

Dainik Bhaskar

Feb 13, 2020, 08:31 PM IST

जालंधर. दिल्ली विधानसभा चुनाव में जीत के बाद आम आदमी पार्टी अब 2022 में पंजाब फतह करने के लिए खासी उत्साहित नजर आ रही है। इसी बीच चर्चा है कि दिल्ली में पार्टी का कैंपेन करने जाने-माने रणनीतिकार प्रशांत किशोर की मदद से पंजाब में भी काम किया जा सकता है। हालांकि इन चर्चाओं के बाद कांग्रेस के खेमे से भी प्रतिक्रियाओं का दौर शुरू हो चुका है। दूसरी ओर, इससे पहले प्रशांत किशोर ने न सिर्फ 2014 के लोकसभा चुनाव को भाजपा की झोली में डालकर मोदी को प्रधानमंत्री बनाने में अहम भूमिका निभाई, बल्कि 2017 में कैप्टन अमरिंदर को मुख्यमंत्री पद का चेहरा प्रस्तुत कर कांग्रेस का कैंपेन किया। इसके अलावा बिहार समेत कई अन्य चुनावों के लिए प्रशांत जाने जाते हैं।

2014 के लोकसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी ने लगभग चौथे हिस्से या यूं कहिए कि 24.39 प्रतिशत वोट हासिल चार सीटें जीती थी। इनमें पटियाला से डॉक्टर धर्मवीर गांधी, फतेहगढ़ साहिब से हरिंदर सिंह खालसा, फरीदकोट से प्रोफेसर साधु सिंह और संगरूर से भगवंत मान रिकॉर्ड वोटों से जीते थे। इसके तीन साल बाद 2017 में हुए विधानसभा चुनाव में पार्टी को 23 प्रतिशत वोट मिले, लेकिन राज्य की विधानसभा में बैठने वाले 117 में से 20 विधायक अपने भेजे। इसके बाद मई 2019 में लोकसभा चुनाव में सिर्फ संगरूर से भगवंत मान पार्टी की इज्जत बचा पाने में कामयाब रहे। अब जबकि दिल्ली में जीत के बाद पार्टी का नेतृत्व पूरे उत्साह में है तो इसी बीच जहां नवजाेत सिंह सिद्धू के आम आदमी पार्टी में जाने की चर्चाएं पिछले कुछ दिनों से आम हैं, वहीं माना यह भी जा रहा है कि प्रशांत किशोर पंजाब में भी आम आदमी पार्टी के बैनर से प्रदेश को नया मुख्यमंत्री दे सकते हैं।

जरा भी चिंतित नहीं हैं कांग्रेस के नेता

दूसरी ओर इन कयासों को लेकर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता व कैबिनेट मंत्री ब्रह्म मोहिंदरा ने कहा, 'प्रशांत किशोर प्रोफेशनल हैं, उन्हें कोई भी हायर कर सकता है। यह उन पर है कि वह किसके साथ काम करना चाहते हैं।' इसके अलावा आम आदमी पार्टी के पास प्रदेश की 117 सीटों पर चुनाव लड़ाने के लिए चेहरे ही नहीं हैं। पार्टी के अध्यक्ष सुनील जाखड़ ने कहा कि वह तो पहले से ही आम आदमी पार्टी के साथ हैं।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना