भारत विश्व का दूसरा सबसे बड़ा मेडिसिनल व ऐरोमेटिक प्लांट्स का एक्सपोर्टर : डॉ. पंकज

Jalandhar News - जालंधर| दोआबा कॉलेज के बायोटेक्नोलॉजी विभाग द्वारा डीबीटी स्टार कॉलेज स्टेटस स्पांसर्ड सारथी प्रोग्राम के तहत...

Bhaskar News Network

Sep 14, 2019, 08:07 AM IST
Jalandhar News - india is the world39s second largest exporter of medicinal and aromatic plants dr pankaj
जालंधर| दोआबा कॉलेज के बायोटेक्नोलॉजी विभाग द्वारा डीबीटी स्टार कॉलेज स्टेटस स्पांसर्ड सारथी प्रोग्राम के तहत प्रेक्टिकल एप्लीकेशंस ऑन एग्री बायोटेक्नोलॉजी पर सेमिनार व वर्कशाप करवाई गई। बतौर मुख्य वक्ता डाॅ. पंकज कुमार एसईआरबी-पोस्ट डॉक्टोरल फैलो सीएसईआर- आईएचबीटी पालमपुर ने शिरकत की। उन्होंने प्लांट टिश्यू कल्चर के फंडामेंटल कांसेप्ट व एप्लीकेशंस के बारे में जानकारी दी। उन्होंने कहा कि भारत विश्व का दूसरा सबसे बड़ा मेडिसिनल व ऐरोमेटिक प्लांट्स का एक्सपोर्टर है। इसके तहत 7500 प्लांट्स की प्रजातियां आती हैं। डाॅ. पंकज ने बताया कि उन्होंने ब्रोकली व हरी गोभी पर अपने शोध के दौरान पाया कि उसमें सलफोराफेन नाम का पदार्थ होता है। इसमें कैंसर से लड़ने की क्षमता होती है। इसलिए इस सब्जी का इस्तेमाल वर्तमान समय में लोग ज्यादा कर रहे हैं। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि वर्तमान समय में वह जंगली लहसुन व बुलबुअस ट्रिटीलारिया राॅयलस पर शोध कर रहे हैं जोकि अश्टवर प्रजाति का पौधा है। इसका ट्यूबर क्लोसिस या टीबी के ईलाज में इस्तेमाल किया जाता है।

उन्होंने कहा कि 2030 में भारत देश की जनसंख्या 1.5 बिलियन हो जाएगी और ज्यादा लोगों को भोजन उपलब्ध करवाने के लिए एग्रीबायोटेक्नाोलॉजी से ही खाद्य पदार्थ उगाकर हम लोगों की खाद्य पदार्थ की मांग की आपूर्ति कर पाएंगे। यहां प्रिंसिपल डाॅ. नरेश कुमार धीमान, विभागाध्यक्ष डाॅ. राजीव खोसला, स्टाफ सेक्रेटरी प्रो. संदीप चाहल, प्रो. केके यादव, डाॅ. अर्शदीप सिंह, डाॅ. अश्वनी, डाॅ. राकेश, डॉ. शिविका, डॉ. पूनम भगत, प्रो. प्रभज्योति,`डॉ. सुनिल मलिक और डॉ. जसकिरण मौजूद रहे।

डॉ. पंकज ने प्लांट टिश्यू कल्चर के फंडामेंटल कांसेप्ट व एप्लीकेशंस के बारे में जानकारी दी। -भास्कर

X
Jalandhar News - india is the world39s second largest exporter of medicinal and aromatic plants dr pankaj
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना