पंजाब / 'सरबत दा भला' एक्सप्रेस के पायलट को पीटने के मामले में चीफ लोको पायलट सस्पेंड, चार कर्मियों से मांगा जवाब



जालंधर रेलवे स्टेशन पर लोको पायलट से मारपीट करते विभागीय कर्मचारी। फाइल फोटो जालंधर रेलवे स्टेशन पर लोको पायलट से मारपीट करते विभागीय कर्मचारी। फाइल फोटो
X
जालंधर रेलवे स्टेशन पर लोको पायलट से मारपीट करते विभागीय कर्मचारी। फाइल फोटोजालंधर रेलवे स्टेशन पर लोको पायलट से मारपीट करते विभागीय कर्मचारी। फाइल फोटो

  • शुक्रवार को पहले दिन ही ट्रैक पर निकली ट्रेन आ गई थी विवाद में
  • लुधियाना से गाड़ी लेकर पहुंचे पायलट सुशील को उतार चढ़ाया था दूसरा
  • चेतावनी: जब तक वो अपना जवाब नहीं देंगे, तब तक ड्यूटी ज्वाइन नहीं कर सकेंगे

Dainik Bhaskar

Oct 08, 2019, 05:11 PM IST

जालंधर. नई दिल्ली से लोहियां खास तक चलाई गई ट्रेन 'सरबत दा भला' एक्सप्रेस के पायलट की नियुक्ति के विवाद में पायलट को पीटने के मामले में कार्रवाई शुरू हो चुकी है। रेलवे ने चीफ लोको इंस्पेक्टर बरिंदर को सस्पेंड किया गया है, जबकि सीनियर सेक्शन इंजीनियर (एसएसई) किरणपाल, लोको पायलट (एलपी) हरजिंदर यादव, सहायक लोको पायलट (एएलपी) आदित्य आनंद से जवाबतलबी की है।

 

दरअसल गुरु नानक देव महाराज के 550 वें प्रकाश पर्व को समर्पित नई दिल्ली से लोहियां खास तक 'सरबत दा भला' एक्सप्रेस शुक्रवार को चलाई गई थी। ट्रेन के जालंधर स्टेशन पर पहुंचने पर ही उसे चलाने को लेकर विवाद खड़ा हो गया। लोको स्टाफ का आरोप था कि ट्रेन का इंजन यहीं पर बदला जाना था तो ड्राइवर भी यही का होना चाहिए था, जबकि इसका लोको पायलट लुधियाना से बिठाया गया था। इसका सभी ने ऐतराज किया था। धक्का-मुक्की के बाद स्टाफ ने ट्रेन के आगे प्रदर्शन शुरू कर दिया था। विरोध करने वाले रेलवे कर्मचारियों ने ट्रेन से चीफ लोको इंस्पेक्टर (सीएलआई) विजय कुमार को उतार दिया गया था।

 

मंगलवार को प्रकाश में आई जानकारी के अनुसार रेलवे ने अब चीफ लोको इंस्पेक्टर बरिंदर को सस्पेंड कर दिया है। इसके अलावा सीनियर सेक्शन इंजीनियर (एसएसई) किरणपाल, लोको पायलट (एलपी) हरजिंदर यादव, सहायक लोको पायलट (एएलपी) आदित्य आनंद से जवाब मांगा है। इन कर्मचारियों को चेतावनी भी दी गई है कि जब तक वो अपना जवाब नहीं देंगे, तब तक ड्यूटी ज्वाइन नहीं कर सकेंगे।

 

 

DBApp

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना