Hindi News »Punjab »Jalandhar» मेयर राजा ने कहा- हाउस मीटिंग में तय करेंगे प्रोजेक्ट का फ्यूचर, कंपनी बोली- कोर्ट जाएंगे

मेयर राजा ने कहा- हाउस मीटिंग में तय करेंगे प्रोजेक्ट का फ्यूचर, कंपनी बोली- कोर्ट जाएंगे

रोड स्वीपिंग प्रोजेक्ट पर मेयर ने कहा कि काम को रिव्यू कर तय करेंगे कि प्रोजेक्ट चलाना है या नहीं? मेयर जगदीश राज...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 17, 2018, 03:30 AM IST

रोड स्वीपिंग प्रोजेक्ट पर मेयर ने कहा कि काम को रिव्यू कर तय करेंगे कि प्रोजेक्ट चलाना है या नहीं? मेयर जगदीश राज राजा ने कहा कि रोड स्वीपिंग प्रोजेक्ट के काम की जांच के लिए कमेटी बनाएंगे। यह देखेंगे कि कंपनी ने जितना काम तय किया था उतना हो भी रहा है या नहीं। यह मामला हाउस में भी रखेंगे कि प्रोजेक्ट को आगे बढ़ाना है या नहीं। वहीं, कंपनी के स्थानीय प्रतिनिधि अभिलाष चौधरी ने कहा है कि अगर पेमेंट न हुई तो वह कोर्ट जाएंगे। कंपनी को करीब 3 करोड़ रुपया बकाया है। पिछले 6 महीने से कंपनी को भुगतान नहीं हो रहा है। अगर भुगतान न हुआ तो काम करना आसान न होगा। अकाली-भाजपा सरकार ने प्रोजेक्ट शुरू किया था और निगम में पास होने के बाद नवंबर 2016 में काम शुरू हुआ था। मेयर जगदीश राजा तब विपक्ष में थे और प्रोजेक्ट का पुरजोर विरोध करते थे। राजा प्रोजेक्ट के खिलाफ कोर्ट में गए थे लेकिन हार गए थे।

रोड स्वीपिंग प्रोजेक्ट मोहाली में भी चल रहा है। वहां इसका रिजल्ट बेहतर है क्योंकि पूरे शहर में कंपनी ही सफाई कर रही है। जालंधर में सिर्फ सेंटर वर्ज वाली सड़कें ही मशीन से साफ हो रही हैं। जालंधर निगम के पास इतने फंड नहीं है कि सारी सफाई के लिए मशीन का खर्च उठा सके। हर महीने 50 लाख रुपये कंपनी को देने हैं। निगम के पास सैलरी के लिए भी फंड नहीं हैं। यह प्रोजेक्ट पूर्व डिप्टी सीएम सुखबीर बादल के निर्देश पर पास किया गया। कंपनी दिल्ली के एक अकाली नेता के करीबियों की बताई गई है। रोड स्वीपिंग मशीनें इटली से मंगवाई गई थीं।

नगर निगम के विवादित प्रोजेक्ट

50किलोमीटर

लंबी सड़कों की सफाई का कांट्रेक्ट।

मशीन कितने किमी. चली, जीपीएस

से चेकिंग

29

करोड़, 50

लाख रुपए महीना पेमेंट

44किलोमीटर सड़कों पर की जा रही है सफाई।

शहर के इन इलाकों में रोड स्वीपिंग मशीन से हो रही सफाई

बीएससी टू एचएमवी चौक

पटेल चौक से कपूरथला चौक

बीएमसी फ्लाईओवर

बसस्टैंड से जीपीओ

बीएमसी से ज्योति नगर

नकोदर चौक से वडाला चौक

गुरु रविदास चौक से कपूरथला चौक

गुरु रविदास चौक से डेयरी चौक

कपूरथला चौक से कनाल रोड

फुटबाल चौक से बस्ती नौ चौक

बीएमसी से लाडोवाली चौक

नामदेव चौक से माल रोड

मैनब्रो चौक से कूल रोड

पीएपी चौक से मकसूदां चौक

बीएसएफ चौक से भगत सिंह चौक

पटेल चौक से शास्त्री चौक

दोआबा चौक से टांडा चौक

दोआबा चौक से सोढल चौक

दोआबा से पठानकोट चौक बाइपास

दोआबा चौक से किशनपुरा चौक

पीएनबी चौक से भगत सिंह चौक

रेलवे क्राॅसिंग से लम्मा पिंड चौक

बीएसएफ से खालसा काॅलेज रोड

खालसा काॅलेज से गड़ा रोड

अड्डा होशियारपुर से भगत सिंह चौक

बस स्टेंड फ्लाईओवर

सड़कों की सफाई के लिए शुरू किया गया रोड स्वीपिंग प्रोजेक्ट बंद होने के कगार पर

कब्जों, पार्किंग के कारण कई सड़कों पर नहीं होती सफाई

कई सड़कों पर सफाई का काम इसलिए नहीं हो रहा क्योंकि सड़कों पर कब्जे हैं। डाॅ. बीआर अंबेडकर चौक से वडाला चौक तक फोरलेन पर सफाई होनी चाहिए लेकिन सेंटर वर्ज के साथ डबल लेन ही साफ हो रही है। दोनों तरफ फुटपाथ के साथ वाली सड़कें कब्जे के कारण साफ नहीं हो रहीं। नकोदर रोड पर ट्रैक्टर-ट्रालियों के कारण भी ज्यादा परेशानी है। सड़कों पर रेत-बजरी की सेल का काम चल रहा है। 120 फुट रोड पर सड़क निर्माण हो रहा है। कपूरथला रोड से जुड़ने से पहले सड़क काफी खराब है। लाडोवाली रोड के एक हिस्से पर कबाड़ हुई गाड़ियों के कारोबारियों के कब्जे से काम में रुकावट रही है। वर्कशॉप चौक से होटल डाल्फिन रोड पर सफाई में प्रॉब्लम है। शाम होते ही सड़कों पर ट्रक खड़े हो जाते हैं। ऐसे में रोड स्वीपिंग मशीन नहीं चल पा रही है। फुटबाल चौक से बस्ती नौ चौक की बजाए झंडियावाला पीर तक ही सफाई हो रही है।

‘कांग्रेस कौंसलरों ने एप्रिसिएशन लेटर दिए’

कांग्रेस कौंसलरों को प्रोजेक्ट पसंद है। सबसे ज्यादा एप्रिसिएशन लेटर कांग्रेस कौंसलरों के हैं। विधायक अपने हलकों की कई सड़कों पर रोड स्वीपिंग प्रोजेक्ट में शामिल करवाना चाहते हैं। पेमेंट न होने से काम प्रभावित होगा। पेमेंट न हुई तो कोर्ट जाएंगे।

- अभिलाष चौधरी,

लायंस सर्विसेज कंपनी का प्रतिनिधि

जितना काम होना है उतना नहीं हो रहा

कंपनी के काम को रिव्यू करना जरूरी नहीं है। जांच करवाएंगे और रिपोर्ट हाउस में रखेंगे। हाउस तय करेगा कि प्रोजेक्ट चलाना है या नहीं। मेरे वार्ड में सड़कें मशीन की सफाई से ज्यादा साफ हैं। जल्द कमेटी बना देंगे। जांच के आधार पर ही फैसला लेंगे।

- जगदीश राज राजा मेयर

कांग्रेस से काम नहीं संभल पा रहा

रोड स्वीपिंग प्रोजेक्ट शहर के लिए जरूरी है। कांग्रेस की परेशानी यह है कि उनसे फंड अरेंज नहीं हो रहे हैं। इसलिए काम से भाग रहे हैं। प्रोजेक्ट बंद नहीं किया जाना चाहिए। शहर को बेहतर बनाने के लिए जो काम किए जाने चाहिए वह नहीं हो रहे।

- सुनील ज्योति, पूर्व मेयर

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Jalandhar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×