• Home
  • Punjab
  • Jalandhar
  • खुशियां और प्रेम बांटते हुए जीवन के पथ पर आगे बढ़ते जाएं : संत तेजा सिंह
--Advertisement--

खुशियां और प्रेम बांटते हुए जीवन के पथ पर आगे बढ़ते जाएं : संत तेजा सिंह

समागम में मंच संचालन तीर्थ सिंह ढिल्लो और संगत राम ने किया। -भास्कर जालंधर|गांव रायपुर रसूलपुर में डेरा संत...

Danik Bhaskar | May 18, 2018, 04:15 AM IST
समागम में मंच संचालन तीर्थ सिंह ढिल्लो और संगत राम ने किया। -भास्कर

जालंधर|गांव रायपुर रसूलपुर में डेरा संत प्रीतम दास जी बाबा जोड़ें के संस्थापक संत प्रीतम दास की 29वीं बरसी पर संत समागम व गुरमत समागम हुआ।

संचालक संत बाबा निर्मल दास बाबे जोड़े ने अध्यक्षता की। श्री अखंड पाठ साहिब के भोग उपरांत दीवान सजाया गया। सचखंड श्री दरबार साहिब के हजूरी रागी भाई सुखजिंदर सिंह, भाई चरणजीत सिंह, भाई बलविंदर सिंह, हंसराज हंस ने गुरबाणी कीर्तन किया। संत बाबा तेजा सिंह खुड्ढे वालों ने कहा कि जीवन में सदैव प्रेम ही प्रेम बांटे। क्योंकि प्रेम में ही परमात्मा का वास होता है। नाम सिमरन, प्रभु के गुण गाने से इंसान प्रभु को प्राप्त कर सकते हैं। जब इंसान के हृदय में प्रेम रस आ जाता है। इसके स्वाद और प्रेम की डोर से वह आनंद स्वरूप को प्राप्त करता है। जिससे परमात्मा और इंसान में भेद नहीं रहता। मंच संचालन तीर्थ सिंह ढिल्लो और संगत राम ने किया।

यहां संत रणजीत सिंह डेरा संतपुरा लायलपुर वाले, संत जसविंदर सिंह बशीरपुरा वाले, बाबा कमलजीत सिंह, संत इंदर दास, संत बलवंत सिंह, संत पुरुषोत्तम दास, संत रमेश दास, संत श्याम किशन, संत अमर सिंह, संत बाबा बलवीर सिंह, संत लालदास, संत मोहनदास, संत भगत राम, संत तरमिंदर सिंह, संत बाबा गुरुदेव सिंह, संत हाकम सिंह, विधायक चौधरी सुरिंदर सिंह, कुलवंत सिंह मन्नण, दलविंदर दयालपुरी, गुरिंदर सिंह, हरप्रीत सिंह, अवतार सिंह होठी, अमरजीत सिंह बरमी, महिंदर सिंह केपी थे।