--Advertisement--

केरल की एक और नन का मसला भी है सुर्खियों में, जालंधर के पादरी पर दर्ज है यौन शोषण का केस

नन की तरफ से जालंधर स्थित रोमन कैथोलिक चर्च के बिशप पर दुष्कर्म के आरोप लगाए गए थे।

Danik Bhaskar | Sep 09, 2018, 08:05 PM IST

जालंधर। केरल में रविवार सुबह 55 साल की नन का शव कुएं में पड़ा मिला। घटना कोल्लम जिले के माउंट टाबोर कॉन्वेंट की है। पुलिस जांच के दौरान कुएं के आसपास खून के धब्बे भी मिले। मृत नन 12 साल से कोट्टायम स्थित ऑर्थोडॉक्स चर्च द्वारा संचालित पठानपुरम के सेंट स्टीफेंस स्कूल में पढ़ा रही थी। यही नहीं, इन दिनों कोट्‌टायम जिले के एक कॉन्वेंट में एक और नन के साथ दुष्कर्म का मामला भी गरमाया हुआ है। इसमें जालंधर डाइसिस के बिशप फ्रैंको मुलक्कल आरोपी हैं। आरोप है कि नन का 14 बार यौन शोषण किया गया।

नन की तरफ से जालंधर स्थित रोमन कैथोलिक चर्च के बिशप पर दुष्कर्म के आरोप लगाए। जानकारी के मुताबिक, केरल पुलिस के पास दर्ज शिकायत के मुताबिक बात 2014 की है, जब नन यहां इस चर्च के अंतर्गत एक संस्था में काम कर रही थी। संस्थान की कमान चर्च के बिशप फ्रैंको मुलक्कल के हाथ है। आरोप है कि पहले 2014 में जिले के कुरावलंगद क्षेत्र में एक अनाथालय के नजदीक एक गेस्ट हाउस में उसका यौन शोषण किया गया।

जालंधर आ केरल पुलिस ने की थी पूछताछ

इस मामले की जांच-पड़ताल के लिए अगस्त में केरल पुलिस की टीम जालंधर आई थी। पहले 9 अगस्त फिर 13 अगस्त को बिशप से पूछताछ हुई। इस दौरान उनसे 70 से ज्यादा सवाल किए गए। इससे पहले केरल पुलिस करीब 40 नन और तीन पादरियों का स्टेटमेंट ले चुकी है। वहीं, फादर पीटर से भी पुलिस लाइन में दो घंटे पूछताछ की गई। रात 9 बजे स्थिति उस समय तनावपूर्ण हो गई, जब 2-2 करके उनके समर्थक बिशप हाउस पहुंचने लगे। बाद में पुलिस ने चौकसी बढ़ा दी थी।

पीआईएल पर कोर्ट को केरल पुलिस ने कहा-जांच के बाद होगी गिरफ्तारी

इससे पहले केरल कैथोलिक चर्च रिफोर्मेशन मूवमेंट ने हाईकोर्ट में पीआईएल दाखिल कर केरल पुलिस पर सवालिया निशान लगाते हुए पूछा था कि पुलिस मामले की जांच इतनी धीरे क्यों कर रही है। जवाब में केरल की कोट्टयम पुलिस के डीएसपी के. सुभाष ने कोर्ट को सूचना दी थी कि उनकी टीम मामले की जांच प्रभावी और निष्पक्ष ढंग से कर रही है। इसके बाद कोर्ट मे पीआईएल को खारिज करते हुए कहा था कि पुलिस मामले में सही तरीके से जांच कर रही है। इसी तरह केरल सरकार के काउंसिल ने जस्टिस बी. सुधींदरा कुमार को सूचित किया था, बिशप डॉ फ्रेंको मुलक्कल की गिरफ्तारी उनसे पूछताछ करने और सभी सबूतों को जांचने के बाद ही होगी।

अब आया मामले में नया मोड़

रविवार को इस मामले में उस वक्त नया मोड़ आ गया, जब केरल में सुबह 55 साल की एक नन का शव कुएं में पड़ा मिला। इस बीच, केरल की एक और नन के खिलाफ वहां के निर्दलीय विधायक पीसी जॉर्ज ने आपत्तिजनक टिप्पणी की है, जो कथित तौर पर दुष्कर्म पीड़ित है। विधायक ने आरोप लगाया कि नन ने जालंधर के बिशप के साथ रजामंदी से संबंध बनाए थे, इसके बाद आपत्ति दर्ज कराई। वहीं राष्ट्रीय महिला आयोग ने रविवार को बयान पर संज्ञान लेकर डीजीपी से विधायक के खिलाफ कार्रवाई की मांग की। आयोग की प्रमुख रेखा शर्मा ने कहा, 'मैं शर्मिंदा हूं कि महिला की मदद करने की बजाय विधायक ऐसे बयान दे रहे हैं।'