पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Jalandhar
  • Passenger Said We Were In Deep Sleep, Suddenly Some People Shouted Fire, When They Came Down, Three Coaches Were Burning

यात्री बोले- हम गहरी नींद में थे, अचानक कुछ लोग आग-आग चिल्लाने लगे, नीचे उतरे तो तीन कोच धू-धू कर जल रहे थे

8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
ट्रेन में लगी आग।
  • देर रात 1:20 पर फिरोजपुर डिवीजन के डीआरएम का ट्वीट- यात्री सुरक्षित, सभी को अमृतसर पहुंचाया जा रहा

जालंधर/करतारपुर (सुरिंदर सिंह). करतारपुर रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म पर रात 10:30 बजे सरयू-यमुना एक्सप्रेस में आग लगी तो अफरा-तफरी मच गई। चारों तरफ चीखें गूंजने लगीं। लोग आग-आग चिल्लाने लगे। दैनिक भास्कर ने ट्रेन से उतरे लोगों से बात की तो उन्होंने बताया कि जिन तीन कोचों में आग लगी, उनमें करीब 100 यात्री सवार थे जबकि पूरी ट्रेन में 400 यात्री थे।


यात्री अमृतपाल ने बताया कि वे संगरूर से अमृतसर जा रहे थे और डिब्बे में सो रहे थे कि अचानक आवाजें आने लगीं कि आग लग गई है। ट्रेन जैसे ही करतारपुर स्टेशन पर रुकी तो अफरा-तफरी मच गई। सभी यात्री उतर कर बाहर भागने लगे। देखते-देखते आग की लपटों ने तीन बोगियों को पूरी तरह घेर लिया। 

स्टेशन मास्टर जंग बहादुर के मुताबिक हादसे के कारण ट्रैक नंबर 1, 3 और 4 पूरी तरह प्रभावित रही। करीब 1:20 बजे फिरोजपुर डिवीजन के डीआरएम ने ट्वीट करके जानकारी दी कि सभी यात्री सुरक्षित हैं और सभी को अमृतसर पहुंचाया जा रहा है।


इसके बाद रात करीब 1:30 बजे ट्रैक नंबर 2 और 3 को अन्य ट्रेनों की आवाजाही के लिए क्लियर कर दिया गया। थाना जालंधर जीआरपी के एसएचओ धर्मेंद्र कल्याण मौके पर पहुंचे। रेलवे अधिकारियों का कहना है कि मामले की फोरेंसिक जांच वीरवार सुबह की जाएगी।

यात्रियों की सुरक्षा में तैनात रही पुलिस
हादसे के बाद यात्रियों की सुरक्षा के लिए प्लेटफार्म पर पुलिस तैनात कर दी गई। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि प्लेटफार्म पर बड़ी गिनती में ऐसे यात्री थे, जो दूर-दराज से आए थे। उनके पास आगे जाने का कोई साधन नहीं था तो उन्हें प्लेटफार्म पर सुरक्षा मुहैया करवाई गई ताकि इस घटना का कोई असामाजिक तत्व फायदा न उठा ले। 1:20 बजे फिरोजपुर डिवीजन के डीआरएम ने किया ट्वीट- सभी यात्री सुरक्षित, सभी को अमृतसर पहुंचाया जा रहा।

जान बची तो चेहरों पर दिखी मुस्कुराहट
रात करीब 1:25 बजे तक जिन यात्रियों को आगे जाने का कोई साधन नहीं मिला, वे कंबल आदि लेकर बच्चों के साथ प्लेटफार्म पर ही रुक गए। इस दौरान सभी के चेहरों पर इस बात की खुशी थी कि किसी का जानी नुकसान नहीं हुआ।


हालांकि कई बच्चे इस गंभीर हादसे के अंजाम से वाकिफ नहीं थे लेकिन उन्हें प्लेटफार्म पर अलग ही आनंद मिल रहा था। यात्री जतिंदर कुमार ने बताया कि वे एस-1 कोच में बच्चों के साथ सो रहे थे। एक महिला दौड़कर आई और उसने बताया कि आग लग चुकी थी। 

0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज आपका कोई सपना साकार होने वाला है। इसलिए अपने कार्य पर पूरी तरह ध्यान केंद्रित रखें। कहीं पूंजी निवेश करना फायदेमंद साबित होगा। विद्यार्थियों को प्रतियोगिता संबंधी परीक्षा में उचित परिणाम ह...

और पढ़ें