--Advertisement--

पंजाब / इस बार 29 फीसदी कम रहा प्रदूषण; दिवाली पर जालंधर की हवा सबसे खराब, पटियाला दूसरे नंबर पर



pollution level of 29% has decreased this year in punjab
X
pollution level of 29% has decreased this year in punjab
  • सबसे ज्यादा सुधार लुधियाना और अमृतसर में
  • पीपीसीबी के अनुसार 2017 में अाैसतन 328 पीएम था, अभी तक इस साल 234 पीएम रहा

Dainik Bhaskar

Nov 09, 2018, 07:38 AM IST

पटियाला. पंजाब प्रदूषण कंट्राेल बाेर्ड का दावा है कि 2017 के मुकाबले इस साल 29%  प्रदूषण स्तर घटा है। 2017 में एयर क्वालिटी इंडेक्स अाैसतन 328 पीएम था जबकि इस साल 234 पीएम है। हालांकि, दिवाली पर सबसे प्रदूषित जिला जालंधर और दूसरे स्थान पर पटियाला रहा।

 

बोर्ड के अनुसार जालंधर, अमृतसर, लुधियाना, खन्ना, मंडी गोबिंदगढ़ और पटियाला सबसे ज्यादा प्रदूषित रहे। हालांकि, पिछली बार की अपेक्षा इस बार सबसे ज्यादा सुधार लुधियाना और अमृतसर में हुआ। हवा में दो तरह के पीएम (पार्टिकुलेट मैटर) पाए जाते हैं। पहला पीएम 2.5 और पीएम 10 होता है। पीएम 10 पंजाब में ज्यादा है।

 

बोर्ड के अनुसार दिवाली पर जालंधर 288 पीएम, जबकि पटियाला 264 पीएम रहा। 2017 में पीपीसीबी ने 3 शहरों का डाटा जारी किया था। दिवाली के दिन लुधियाना में एक्यूअाई सबसे ज्यादा 421, अमृतसर में 344 और मंडी गाेबिंदगढ़ में 333 अंक रहा था।

 

छह जिलों में पटाखे चलाने पर 75 पर केस :

पटाखे चलाने के मामले में सुप्रीम कोर्ट के आदेश के उल्लंघन में 6 जिलों में 75 केस दर्ज हुए। होशियारपुर में 32, लुधियाना-जालंधर में 11-11, पटियाला में 5, बठिंडा में 3 व अमृतसर में 13 पर केस दर्ज हुए। ज्यादातर एफआईआर में यही लिखा गया कि जब पुलिस मौके पर पहुंची तो आरोपी भाग निकले।

Bhaskar Whatsapp
Click to listen..