पंजाब / स्‍कूल में शर्मनाक हरकत करने वाला प्रिंसिपल सस्पेंड, महिला टीचर मांगने लगी माफी



principal suspended for embarrassing in school and lady teachers apologized
principal suspended for embarrassing in school and lady teachers apologized
X
principal suspended for embarrassing in school and lady teachers apologized
principal suspended for embarrassing in school and lady teachers apologized

  • वीडियो के वायरल होने के बाद डिप्टी डीईओ राकेश कुमार और सरकारी सीनियर सेकंडरी स्कूल गर्ल्स की प्रिंसिपल की अध्यक्षता में बनी जांच कमेटी
  • कमेटी ने अध्यापिकाओं के बयान दर्ज किए थे। जांच कमेटी ने अपनी रिपोर्ट डीईओ मोहन सिंह लेहल को सौंपी

Dainik Bhaskar

Aug 28, 2019, 06:25 PM IST

होशियारपुर. होशियारपुर जिले के तलवाड़ा ब्‍लॉक के दातारपुर के सरकारी सीनियर सेकंडरी स्कूल में प्रिंसिपल द्वारा दो महिला अध्यापकों के साथ अश्लील हरकतों के मामले ने तूल पकड़ लिया है। प्रिंसिपल और म‍हिला टीचरों की शर्मनाक हरकतों की वीडियो वायरल होने के बाद शिक्षा विभाग ने कड़ा कदम उठाया है। प्रिंसिपल विक्रम सिंह को तत्काल प्रभाव से सस्पेंड कर दिया गया है। महिला टीचरों पर भी कार्रवाई की जा सकती है। बताया जाता है कि महिला अध्‍यापकों ने कहा है, 'हमसे गलती हो गई, माफ कर दो।' उधर, लोगों ने पूरे मामले के विरोध में प्रदर्शन किया। लोगों ने मांग की कि दाेनों महिला शिक्षकों को भी निलंबित किया जाए।

 

दरअसल बीते दिन एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया था, जो दातारपुर के सरकारी सीनियर सेकंडरी स्कूल के प्रिंसिपल और यहीं के महिला शिक्षकों का बताया जा रहा है। इस वीडियो के वायरल होने के बाद डीईओ सेकंडरी मोहन सिंह लेहल ने डिप्टी डीईओ राकेश कुमार और सरकारी सीनियर सेकंडरी स्कूल गर्ल्स सेक्टर तीन तलवाड़ा की प्रिंसिपल सुरेश कुमारी की अध्यक्षता में जांच कमेटी गठित की थी। दोनों अधिकारी स्कूल पहुंचकर करीबन तीन घंटे तक अश्लील हरकतों की वायरल हुई वीडियो की जांच की थी। जांच कमेटी के समक्ष संबंधित महिला अध्यापक भी पेश हुई थीं, लेकिन मेडिकल लीव का बहाना लगाकर प्रिंसिपल विक्रम सिंह स्कूल नहीं आया।

 

कमेटी ने अध्यापिकाओं के बयान दर्ज किए थे। जांच कमेटी ने अपनी रिपोर्ट डीईओ मोहन सिंह लेहल को सौंपी। इसके बाद डीईओ ने कार्रवाई की सिफारिश करते हुए रिपोर्ट को उच्चाधिकारियों को भेजा। जांच रिपोर्ट मिलने के बाद शिक्षा विभाग के सचिव कृष्ण कुमार ने प्रिंसिपल विक्रम सिंह को तत्काल प्रभाव से सस्पेंड करने के आदेश जारी कर दिए। डीईओ मोहन सिंह लेहल ने इसकी पुष्टि की है।

 

हमसे गलती हो गई, माफ कर दीजिए

फिलहाल, सस्‍पेंड किए जाने के बाद प्रिंसिपल की ड्यूटी तरनतारन के जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय में लगाई गई है। प्रिंसिपल के खिलाफ विभागीय जांच भी शुरू कर दी गई है। उधर अपनी सफाई में महिला अध्यापकों ने बचाव करते हुए कहा कि उनसे गलती हो गई है, उन्हें माफ कर दीजिए। हालांकि अभी तक आधिकारिक तौर पर अधिकारी कुछ बताने को तैयार नहीं है, लेकिन सूत्रों की मानें तो जांच कमेटी ने दो महिला अध्यापकों को भी आरोपी करार दिया है। ऐसे में उन पर भी गाज गिरनी तय मानी जा रही है।

 

लोगों ने किया रोष प्रदर्शन

काफी संख्‍या में लोगों ने स्‍कूल के बाहर प्रदर्शन किया और जमकर नारेबाजी की। लोगों का कहना था कि स्‍कूल में हम बच्‍चों को पढ़ने के लिए भेजते हैं, ताकि वे बेहतर इंसान बन सकें। वहां इस तरह की घटनाएं होने से बच्‍चों पर बहुत बुरा असर पड़ता है और इसे किसी हालत में सहन नहीं किया जा सकता। लोगों ने मांग की कि दाेनों महिला शिक्षकों के खिलाफ भी कड़ी कार्रवाई की जाए और उनको व प्रिंसिपल को बर्खास्‍त किया जाए।

 

 

DBApp

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना