बटाला / घर में रेन वाटर हार्वेस्टिंग रिचार्ज पिट बना बचा रहे पानी



गुरमुख सिंह द्वारा बनाया गया रेन वाटर हार्वेस्टिंग रिचार्ज पिट। गुरमुख सिंह द्वारा बनाया गया रेन वाटर हार्वेस्टिंग रिचार्ज पिट।
Rain water harvesting recharge pit at home
X
गुरमुख सिंह द्वारा बनाया गया रेन वाटर हार्वेस्टिंग रिचार्ज पिट।गुरमुख सिंह द्वारा बनाया गया रेन वाटर हार्वेस्टिंग रिचार्ज पिट।
Rain water harvesting recharge pit at home

  • किसान गुरमुख सिंह ने 3 साल पहले पीएयू का दौरा कर पानी बचाने की देखी थी तकनीक
  • 25 हजार रुपए आई लागत, अब तक लाखों लीटर पानी की बचत कर चुके हैं गुरमुख सिंह

Dainik Bhaskar

Aug 19, 2019, 07:12 AM IST

बटाला (जगनदीप सिंह). बटाला के नजदीक गांव रंगीलपुर का किसान गुरमुख सिंह पानी की संभाल के लिए दूसरे लोगों के लिए मिसाल बना है। गुरमुख सिंह ने 3 साल पहले अपने घर में बरसाती पानी की संभाल के लिए रेन वाटर हार्वेस्टिंग रिचार्ज पिट बनाया था, जिसकी मदद से वह अब तक लाखों लीटर बरसाती पानी को धरती में भेज चुका है। कुदरत से प्यार करने वाले इस किसान गुरमुख सिंह द्वारा जहां अपने खेतों में जहरों रहित कुदरती खेती की जाती है, वहीं यह फसलों की बिजाई में भी पानी की बहुत बचत करते हैं। गुरमुख सिंह दिन प्रतिदिन जमीन के नीचे पानी के कम हो रहे स्तर से बहुत चिंतित हैं और उन्होंने पानी की बचत के लिए अपने यत्न शुरू किए गए हैं। गुरमुख सिंह ने तीन साल पहले खेतीबाड़ी यूनिवर्सिटी लुधियाना का दौरा किया था और वहां से उन्होंने बरसाती पानी बचाने की तकनीक देखी थी। 

 

गुरमुख सिंह ने बताया कि उन्होंने वर्ष 2016 में घर में रेन वाटर हार्वेस्टिंग रिचार्ज पिट तैयार किया था। उन्होंने बताया कि यह डिजाइन पंजाब खेतीबाड़ी यूनिवर्सिटी लुधियाना का है, जिसके तहत उन्होंने घर के बरामदे में 6 बाई 6 फुट का गड्ढा खोद इसे टैंक का रूप दे दिया। इस टैंक के 3 हिस्से कर दिए। टैंक के एक हिस्से में बरसाती पानी गिरता है, दूसरे हिस्से में फिल्टर लगा है और अगले हिस्से में बोर है। यह बोर 60 फुट गहरा है और पाइप की चाैड़ाई 4 इंच की है। 60 फुट के बोर में 55 फुट फिल्ट डाला है, ताकि पानी आसानी से जमीन में जा सके। रेन वाटर हार्वेस्टिंग रिचार्ज पिट तैयार करने में उनकी 25 हजार रुपए लागत आई थी। 

 

पानी बचाने के लिए ओरों को भी कर रहे प्रेरित 
गुरमुख सिंह पानी बचाने का संदेश ओर लोगों तक भी पहुंचा रहे हैं। उन्होंने बताया कि स्कूलों और गुरुद्वारों में संपर्क कर रेन वाटर हार्वेस्टिंग रिचार्ज पिट बनाने के लिए उनकी बात प्रबंधकों से चल रही है। उनका मानना है कि पानी की एक-एक बूंद कीमती है और इसे ऐसे ही वेस्ट नहीं जाने देना चाहिए।

 

अब बरसाती पानी गलियों-नालियों में जाकर वेस्ट नहीं होता, काम आता है

गुरमुख सिंह ने बताया कि रेन वाटर हार्वेस्टिंग रिचार्ज पिट के बहुत फायदे हैं। ऐसा करने से बरसाती पानी आसानी से जमीन में जा सकेगा, जिस कारण जमीन में पानी का स्तर ऊंचा होगा। इसके अलावा बरसाती पानी गलियों-नालियों में जाकर दूषित नहीं होगा। बरसाती पानी नीचले स्थानों में खड़ा होकर मच्छर, मक्खियों और अन्य बीमारियां फैलाने वाले कीड़े-मकौड़ों का कारण भी नहीं बनेगा। उन्होंने बताया कि बरसाती पानी बहुत शुद्ध होता है, जिसकी मिसाल उन्होंने अपने घर के पानी की दी है। गुरमुख सिंह ने बताया कि उनके घर पीने वाले पानी का बोर रेन वाटर हार्वेस्टिंग रिचार्ज पिट के नजदीक है और अब उनका पीने वाला पानी ज्यादा शुद्ध हो गया है और इसका टीडीएस भी कम हो गया है।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना