ट्रस्ट को मोहलत मिलने से राहत, कार्रवाई न करने को लेकर चल रहा है अवमानना का केस

Jalandhar News - जालंधर | लतीफपुरा में कब्जा खाली नहीं करवाने को लेकर हाईकोर्ट में दायर अवमानना के केस में एक बार फिर मोहलत मिल जाने...

Bhaskar News Network

Sep 14, 2019, 08:10 AM IST
Jalandhar News - relief from trust getting deferment contempt case for not taking action
जालंधर | लतीफपुरा में कब्जा खाली नहीं करवाने को लेकर हाईकोर्ट में दायर अवमानना के केस में एक बार फिर मोहलत मिल जाने से चेयरमैन और अधिकारियों को राहत मिली है। साथ ही केस की सुनवाई अब दो साल बाद होने के कारण लतीफपुरा के कब्जाधारी को भी राहत मिली है। कारण अब इंप्रूवमेंट ट्रस्ट प्रशासन पर निर्भर करता है कि वे कब कब्जे के खिलाफ कार्रवाई करते हैं। शुक्रवार को हुई सुनवाई में कोर्ट ने विपक्ष के वकील की जिरह सुनने के बाद दो साल के लिए लंबित कर दिया अर्थात अब दो साल बाद इस केस की सुनवाई का नंबर आएगा।

जेआईटी चेयरमैन दलजीत सिंह आहलुवालिया का कहना है कि अगली सुनवाई से पहले लतीफपुरा में कब्जा खाली करवा लिया जाएगा।

पुलिस फोर्स न मिलने के कारण सुनवाई से पहले नहीं हो सकी कार्रवाई

इसके लिए पुलिस कमिश्नर जीएस भुल्लर और डीसी वरिंदर कुमार शर्मा के साथ पहले ही मीटिंग हो चुकी है। केस की सुनवाई से पहले ही कार्रवाई की योजना बनाई गई थी, लेकिन पहले पंजाब बंद और फिर सोढल मेले के कारण कार्रवाई के लिए विशेष पुलिस बल उपलब्ध नहीं होने के कारण लतीफपुरा में कार्रवाई नहीं हो सकी। हालांकि 7 माह पहले भी निगम कमिश्नर दीपर्व लाकड़ा के चेयरमैन रहते हुए इंप्रूवमेंट ट्रस्ट ने कब्जा खाली करवाने की कार्रवाई की थी, लेकिन तब लतीफपुरा के लोगों द्वारा डिच मशीन पर ईंट-पत्थर बरसाने के बाद कार्रवाई रोक दी गई थी। बाद में रोहन कुमार ने इंप्रूवमेंट ट्रस्ट के खिलाफ हाईकोर्ट में अवमानना का केस दायर किया गया, जिसमें कहा गया कि साल 2012 में हाईकोर्ट ने ट्रस्ट को लतीफपुरा का कब्जा लेने को कहा गया था, लेकिन ट्रस्ट ने कब्जा नहीं लिया। चेयरमैन का कहना है कि जल्द ही पुलिस और प्रशासन से तालमेल कर लतीफपुरा में कब्जा खाली करवाने की कार्रवाई की जाएगी।

X
Jalandhar News - relief from trust getting deferment contempt case for not taking action
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना