Hindi News »Punjab »Jalandhar» Singapur Job Froud Woman In Oman

सिंगापुर में काम दिलाने का झांसा देकर महिला को भेजा ओमान; सरकारी कर्मचारी ने घर में बनाया बंदी

पीड़ित महिला की बच्ची और बहन ने आप सांसद भगवंत मान से मुलाकात कर पीड़िता को भारत लाने की लगाई गुहार

​पुनीत गर्ग | Last Modified - Aug 11, 2018, 08:09 AM IST

सिंगापुर में काम दिलाने का झांसा देकर महिला को भेजा ओमान; सरकारी कर्मचारी ने घर में बनाया बंदी

संगरूर. ओमान के एक घर में बंदी बनाकर रखी गई गांव काझली की एक महिला को छुड़वाने के लिए महिला की बच्ची और बहन ने आप सांसद भगवंत मान से मुलाकात कर भारत लाने की गुहार लगाई है। पीड़ित महिला की बच्ची का कहना है कि उसकी मां से दिन रात काम करवाया जा रहा है, मां से गलत काम हो रहा है। मुंह खोलने पर जीभ काटने की धमकी तक दी जा रही है। बच्ची संदीप कौर ने बताया है कि गांव की एक महिला ने उसकी मां रानी कौर को सिंगापुर में होमकेयर का काम दिलाने का झांसा देकर ओमान भेज दिया है। जहां पुलिस में तैनात कर्मचारी ने उसकी मां को अपने घर में बंदी बना रखा है। उसकी मां का पासपोर्ट छीन लिया गया है। मां से दिन-रात घर का काम करवाया जाता है। उसकी मां फोन कर बताती हैं कि उसके साथ बहुत गलत काम किया जा रहा है। यदि उसे न निकाला गया तो उसने सहन नहीं होगा। वह ऐसे ही मर जाएगी। उन्होंने बताया कि उसकी मां से एक हफ्ते बाद फोन पर बात करवाई जाती है। कुछ लोग उसकी मां के पास खड़े हो जाते हैं जिसके बाद उसकी बात करवाई जाती है। घर की पड़ोसन एक महिला उसकी मां की मदद करती है। जब घर में कोई नहीं होता तो उसकी मां की फोन पर बात करवा देते हैं। मां ने फोन पर बताया है कि उसका मुंह खोलने पर उसकी जीभ काटने की धमकी दी जाती है।

पीड़िता की बहन बोली- 50 हजार रुपए लेकर भेजा ओमान :पीड़ित महिला की बहन गुरजीत कौर ने बताया है कि उनके गांव कांझला की ही एक महिला ने उसकी बहन को सिंगापुर भेजने का वादा किया था। इसके लिए हमसे 50 हजार रुपए लिए गए थे। एक दिन पहले ही उन्हें बताया गया कि उनकी फ्लाइट की टिकट आ गई है। अब उस महिला से बहन को वापस बुलाने की गुहार लगाते हैं तो महिला बताती है कि उनका काम भेजने का है। वह वापस नहीं बुला सकती है। बहन 8 माह से वहां फंसी है।

हर माह पिता के खाते में जमा होते हैं 20 हजार :संदीप कौर ने बताया कि वह तीन बहनें और एक छोटा भाई है। मां की हालत से काफी परेशान हैं। वह काफी गरीब हैं। पिता नहीं चाहते हैं कि उनकी मां वापस आए क्योंकि बरनाला का एक व्यक्ति उनके बैंक खाते में हर माह 20 हजार रुपए जमा करवा देता है।

भगवंत मान बोले- पंजाब में रोजगार मिले तो पंजाबी बाहरी देशों में गुलामी क्यों करें:भगवंत मान का कहना है कि ओमान जैसे देशों में भारतीयों का काफी बुरा हाल है। पंजाब में रोजगार मिलता हो तो पंजाब की मां- बहनें और नौजवान बाहरी देशों में गुलामी न करें। भारत की विदेशों में बनी एम्बेसी ठीक ढंग से काम नहीं कर रही हैं। पीड़ित महिला के पासपोर्ट की फोटो कॉपी विदेश मंत्रालय को भेजी जा रही है। मामले संबंधी विदेश मंत्री से बात कर पीड़ित महिला को वापस लाया जाएगा।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Jalandhar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×