घोड़े को साइड लगी तो निह‌ंगों ने पीआरटीसी के बस चालक पर किया नुकीले हथियारों से हमला

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
घोड़े को साइड लगने से भड़के निहंग सिंह ड्राइवर व बस पर किरपाणों से हमला करते व बस का शीशा तोड़ते हुए। - Dainik Bhaskar
घोड़े को साइड लगने से भड़के निहंग सिंह ड्राइवर व बस पर किरपाणों से हमला करते व बस का शीशा तोड़ते हुए।
  • ड्राइवर ने भागकर बचाई जान, कहा- मैंने साइड नहीं मारी, सिंहों ने जानबूझ कर किया हमला
  • जीएम बोले-सिंहों का आरोप है उनके घोड़े को बस की साइड लगी, पुलिस जांच कर रही

कपूरथला. नकोदर से कपूरथला के लिए आ रही पीआरटीसी बस की सुनड़ां पुल के पास सड़क पर जा रहे निहंगों के घोड़े को साइड लग गई। गुस्से में निहंग सिंहों ने किरपाणों व बरछों से बस पर हमला कर बस में तोड़ फोड़ कर दी। पहले तो निहंग सिंह ड्राइवर से धक्का मुक्की करते रहे, फिर उस पर किरपाणों से हमला कर दिया। ड्राइवर ने निहंग सिंहों के बढ़ते हमले को देखकर बस को भगाकर अपनी जान बचाई। जैसे ही ड्राइवर कपूरथला डिपो पर पहुंचा, तो डरा व सहमा हुआ था। घटना की सूचना उसने पुलिस को दी।
 
मौके पर पहुंची कालासंघिया पुलिस मामले की जांच में जुट गई है। लेकिन, पुलिस ने अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की है। निहंग सिंहों के बस पर किरपाणों से हमला करते हुए एक वीडियो भी वायरल हुई है। निहंग सिंह किरपाणों से हमला करते हुए दिख रहे हैं। बस भी काफी समय रुकी रही। इस कारण बस में सवार दर्जनभर यात्री सहमे रहे।
 
पीआरटीसी के जीएम प्रवीन कुमार ने कहा कि उनके विभाग का ड्राइवर निर्मल सिंह बस लेकर नकोदर से कपूरथला आ रहा था। रास्ते में निहंगों ने अचानक बस को रोक लिया, उनका आरोप था कि घोड़े को बस की साइड लगी है, जिससे वह गुस्से में भड़क उठे। ड्राइवर को किरपाण से मारने की कोशिश की। यहां तक कि बस के शीशे तोड़ दिए। जहां से ड्राइवर ने गाड़ी भगाकर अपनी जान बचाई। पुलिस मामले की जांच कर रही है।
 
दूसरी तरफ, पीआरटीसी के ड्राइवर निर्मल सिंह निवासी मलसियां (सीके-382) ने पुलिस को भेजी शिकायत में बताया कि वह पीआरटीसी डिपो में बस (पीबी 09 एक्स 3613) ड्राइवर है। वह हर दिन की तरह नकोदर से कपूरथला को सुबह 7.50 बजे बस लेकर आ रहा था। रास्ते में सुनड़ां पुल के पास निहंग सिंह घोड़ों पर जा रहे थे। अचानक निहंग सिंहों ने बस को आगे से घेर लिया। घोड़े लेकर आगे हो गए। इस दौरान उनको बस रोकनी पड़ी। जैसे ही बस रुकी तो निहंग सिंह किरपाणों से बस पर हमला करने लगे। कारण पूछा तो कहने लगा कि बस ने घोड़े को साइड मारी है। मैंने कहा कि ऐसी कोई घटना नहीं हुई है पर उन्होंने एक नहीं सुनी।
 
 

खबरें और भी हैं...