पंजाब / ट्रेन की चपेट में आने से स्टेशन मास्टर की मौत, 4 घंटे ट्रैक पर पड़ा रहा शव-ट्रेन गुजरती रही



station master of Kartarpur died in suspected conditions by cutting under the train
station master of Kartarpur died in suspected conditions by cutting under the train
X
station master of Kartarpur died in suspected conditions by cutting under the train
station master of Kartarpur died in suspected conditions by cutting under the train

  • सुबह 6 बजे के करीब दूर ट्रैक पर एक व्यक्ति की लाश मिली, पास जाकर देखा तो अमनदीप के रूप में हुई पहचान
  • एसएचओ ने कहा-ये रेल एक्सीडेंट, स्टाफ से पूछा हर रोज रात को करते थे ट्रैक पर चेकिंग

Dainik Bhaskar

Aug 26, 2019, 08:25 PM IST

जालंधर. जालंधर जिले के करतारपुर रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म पर रविवार देर रात करीब ढाई बजे करतारपुर के ही स्टेशन मास्टर अमनदीप सिंह (31) की ट्रेन की चपेट में आने से मौत हो गई। सारी रात स्टेशन मास्टर के शव से ट्रेनें गुजरती रही।

 

स्टेशन मास्टर जेवी पटेल ने बताया कि वह छुट्‌टी पर थे। उन्हें सूचना मिली थी कि स्टेशन पर कोई नहीं है। उन्होंने आकर ट्रेनों की लिस्ट चेक की। करतारपुर के दोनों तरफ के फाटक आधे घंटे से बंद पड़े हुए थे। सिग्नल की लाइटें बंद होने के कारण ही फाटकों को खोला नहीं जा रहा था। स्टेशन पर पहुंचकर उन्होंने सबसे पहले लाइटें शुरू करवाई और फाटक खुलवाए।

 

स्टेशन मास्टर जेवी पटेल ने बताया कि जब उन्होंने स्टेशन मास्टर अमनदीप सिंह को ढूंढना शुरू किया तो वह मिले नहीं। सुबह 6 बजे के करीब दूर ट्रैक पर एक व्यक्ति की लाश देखी। जब पास जाकर देखा तो उसकी पहचान अमनदीप के रूप में हुई। उन्होंने उसी समय इसकी जानकारी डीओएम ऐके सलारिया, जीआरपी एसएचओ धर्मेंद्र कल्याण को दी, जिन्होंने मौके पर आकर जांच शुरू की। रेलवे अधिकारियों का कहना है कि मृतक अमनदीप सिंह के पिता पहले रेलवे में नौकरी करते थे। उनके गुजरने के बाद अमनदीप सिंह को नौकरी दी गई। मां और पिता की पहले ही मौत हो चुकी थी और अमनदीप अपनी बहन के साथ सूरानुस्सी रेलवे क्वार्टर में रहते थे। अमनदीप सिंह की अभी शादी नहीं हुई।

 

जीआरपी एसएचओ ध्रमेंद्र कल्याण ने कहा कि जांच में ऐसा कुछ सामने नहीं आया है। स्टेशन मास्टर अमनदीप सिंह का व्यवहार बहुत ही शांत और मिलनसार था। ये रेल एक्सीडेंट है। स्टाफ से पूछा तो पता लगा कि अमनदीप हर रोज ट्रैक की चेकिंग करता था। ट्रेन के आने का पता नहीं लगा। इस कारण वह ट्रेन की चपेट में आ गए।

 

DBApp

 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना