पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

हत्यारे से हुई थी पूजा की झड़प, चेहरे पर नाखूनों के निशान

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
भास्कर न्यूज | फिरोजपुर / जालंधर

बस्ती टैंकावाली में पूजा हत्याकांड मामले में शव के पोस्टमार्टम की रिपोर्ट के लिए यूटिलिस विसरा को जांच के लिए केमिकल एग्जामिनर लैब खरड़ भेजा गया है। पोस्टमार्टम के लिए गठित पैनल के डाॅक्टर के अनुसार पूजा की हत्या पोस्टमार्टम से 24 घंटे के भीतर किसी बारीक तार या रस्सी से गला दबाकर की गई थी, जिसके निशान उसके गले पर पाए गए हैं। अंदेशा जताया जा रहा है कि पूजा की हत्या दोपहर को करीब 2 से 3 बजे के बीच में की गई है। वहीं हत्या के समय हत्यारे के साथ पूजा की झड़प होने की भी आशंका है। मृतका के चेहरे व गले पर नाखूनों के निशान मिले हैं। इसके बाद उस पर तेजधार हथियार से वार किया गया। वहीं पुलिस की ओर से रेप की संभावना को लेकर रिपोर्ट की मांग की गई थी। उसके लिए विसरा जांच के लिए खरड़ लैब में भेजा गया है, जिसकी रिपोर्ट आने के बाद ही मामले से पर्दा उठ पाएगा।

उल्लेखनीय है कि पूजा के शव का पोस्टमार्टम बुधवार दोपहर करीब 2.30 बजे गठित पैनल ने किया था। और शव परिजनों को सौंप दिया गया था।

बारीक तार या रस्सी से गला दबा की गई थी हत्या, रेप की आशंका को लेकर पुलिस ने मांगी थी रिपोर्ट, जांच के लिए यूटिलिस (विसरा) भेजा खरड़ लैब, तीसरे दिन पुलिस ने पूजा के ससुर व एक पड़ोसी से की पूछताछ
तीसरे दिन पुलिस ने आस-पास के 3 घरों में जाकर पड़ोसियों से हत्याकांड से संबंधी की पूछताछ
पड़ोस की सहेली बोली-मेरे बेटे तन्मय को कुछ बनाना चाहती थी पूजा
परिजन लौटे जालंधर | बुधवार को मृतका पूजा के संस्कार के बाद उसके परिजन वापिस जालंधर लौट गए थे। भाई ने बताया कि पुलिस ने बुधवार को पोस्टमार्टम से पूर्व उनके बयान दर्ज किए थे। उसके बाद से कोई बातचीत नहीं हुई है। वहीं वीरवार को बस्ती टैंकावाली स्थित मनमोहन ठाकुर के घर शोक व्यक्त करने के लिए लाेगों का आना-जाना लगा रहा। लोगों ने पूजा के पति मनमोहन ठाकुर व पिता सुभाष चंद को सांत्वना दी। पूरे मोहल्ले में गमगीन माहौल है। हर तरफ पूजा के मर्डर को लेकर चर्चाएं हैं कि आिखर पूजा की हत्या करने वाला कौन है?

बेड बॉक्स में मिली थी पूजा की लाश।

बस्ती टैंकावाली की गली नंबर 24/3 में मनमोहन ठाकुर के घर के सामने रहने वाली सोनिया, जिसके साथ गली में पूजा की सबसे ज्यादा बनती थी। सोनिया ने बताया कि पूजा का बहुत ही अच्छा व्यवहार था। वह मेरे 6 साल के बच्चे को ट्यूशन पढ़ाती थी व मेरे बेटे को कुछ बनाना चाहती थी। जब भी उनकी आपस में बात होती तो वह यही कहती थी कि तन्मय को पढ़ाकर बड़ा आदमी बनाना है। वहीं सोनिया ने बताया कि वह सोमवार को अपने मायके जा रही थी तो उस समय अंतिम बार सोमवार को पूजा से मुलाकात हुई थी और अगले दिन मंगलवार को पूजा की हत्या फोन पर समाचार मिला तो उसके पैरों तले से जमीन निकल गई। सोनिया ने बताया कि अकसर महिलाएं सर्दी में धूप सेंकने के लिए गली में बैठती थीं, लेकिन पूजा ज्यादा घर से बाहर नहीं निकलती थी। उनके घर का दरवाजा हमेशा बंद रहता था।

हत्याकांड के तीसरे दिन वीरवार को पुलिस ने आस-पास के 3 घरों में जाकर पारिवारिक सदस्यों से हत्याकांड से संबंधी पूछताछ की। वहीं आस-पास के लोगों ने बताया कि वीरवार को सुबह पुलिस आई थी व आस-पास के लोगों से पूछताछ करने के बाद वे मृतका पूजा के ससुर सुभाष चंद व सामने के घर में रहने वाले लाडी को अपने साथ ले गई। दोनों को सीआईए थाना में ले जाकर उनसे पुलिस ने पूछताछ की। करीब 2-3 घंटे हुई पूछताछ के बाद दोनों वापस घर लौट आए । वहीं पुलिस सूत्रों के अनुसार हत्याकांड की गुत्थी सुलझने के नजदीक है, जिसके चलते पुलिस कुछ ज्यादा डिसक्लॉज नहीं कर रही है ताकि हत्यारोपी मौका पाकर फरार न हो जाए।

पुलिस अभी अपनी जांच कर रही है। अभी इस मामले में कुछ नहीं कहा जा सकता। शुक्रवार को अस्पताल से पोस्टमार्टम रिपोर्ट की मांग की जाएगी, उसके बाद कड़ी से कड़ी जोड़कर मामले को सुलझाया जाएगा। जसबीर सिंह, कैंट थाना इंचार्ज

खबरें और भी हैं...