Hindi News »Punjab »Kapurthala» बुराई को त्याग अच्छाई के मार्ग पर चलें : जोसफ

बुराई को त्याग अच्छाई के मार्ग पर चलें : जोसफ

संत एंथनी कैथोलिक चर्च अजीत एवेन्यू में रविवार को प्रभु यीशु मसीह जी के मरने के उपरांत तीन दिन बाद जी उठने पर ईस्टर...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 02, 2018, 02:35 AM IST

संत एंथनी कैथोलिक चर्च अजीत एवेन्यू में रविवार को प्रभु यीशु मसीह जी के मरने के उपरांत तीन दिन बाद जी उठने पर ईस्टर (पासका) का त्योहार धूमधाम से मनाया गया। इस मौके भारी संख्या में मसीही लोगों ने भाग लिया। चर्च के पैरिस प्रीशट फादर केवी जोसफ ने पाकमास की कुर्बानी चढ़ाई। वहीं पवित्र बाईबल से इस दिन के महत्व संबंधी संगतों को विस्तारपूर्वक जानकारी दी गई। फादर केवी जोसफ ने कहा कि ईस्टर का त्योहार प्रभु यीशु मसीह जी के दुनिया से विदा होने और फिर उनके पुनरुत्थान की याद में मनाया जाता है। ईस्टर ईसाइयों का सबसे बड़ा पर्व है। प्रभु यीशु मसीह मृत्यु के तीन दिन बाद इसी दिन फिर जी उठे थे। उन्होंने कहा कि ईस्टर काल 40 दिनों तक मनाया जाता है। इस दौरान सभी ईसाई उपवास, प्रार्थना और प्रायश्चित करते हैं। ईस्टर काल के मुताबिक ईस्टर से पहले वाले शुक्रवार को गुड फ्राइडे मनाया जाता है। गुड फ्राइडे के दिन ही प्रभु यीशु मसीह को सूली पर लटकाया गया था। फादर जोसफ ने संगत को प्रभु यीशु मसीह जी के दोबारा जी उठने की बधाई देते हुए प्रभु जी के दर्शाएं मार्ग पर चलने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने कहा कि हम सभी को प्रभु यीशु मसीह पर विश्वास रखते हुए बुराईयों का त्याग कर अच्छाई के रास्ते पर चलना चाहिए। इस अवसर पर चर्च के प्रधान डेविड जोन, पूर्व प्रधान कर्मजीत सिंह, देस राज, बाबू लक्खपाल, प्रेम लाल, यूथ प्रधान मरकुस, हरमेश, डेनियल आलौदीपुर, मुकेश लक्खन कलां, भाना मसीह, जोसफ मसीह, रानी, काला, प्रिंस कादूपुर, जोनसन मसीह, लवली, अल्फोसा, जोसफ मसीह, कुमोदिनी सोरेंग, जॉय सोरेंग, विजय, एंथनी, लीली, रोशन, अजय, विनय, इलियास मसीह, रोशन, महिमा, सुहेल, फ्रांसिस के अलावा भारी संख्या में मसीही लोग शामिल थे।

गुड फ्राइडे के दिन ही प्रभु यीशु मसीह को सूली पर लटकाया गया था

संत एंथनी कैथोलिक चर्च में पाकमास की कुर्बानी चढ़ाते फादर केवी जोसफ। (दाएं) चर्च में शामिल संगत।

पैगाम-ए-मुक्ति का त्योहार प्रभु यीशु मसीह जी को समर्पित : डा. थापर

कपूरथला| आत्मिक मसीह संगती चर्च यीशु भवन डोगरांवाल में रविवार को ईस्टर का त्योहार बड़ी धूमधाम से मनाया गया। जिसमें भारी संख्या में संगतों ने भाग लिया। इस मौके बिशप डा. एसएम थापर विशेष तौर पर शामिल हुए। समागम को संबोधित करते हुए डा. थापर ने कहा कि आज का पैगाम-ए-मुक्ति का त्योहार प्रभु यीशु मसीह जी को समर्पित है। प्रभु यीशु मसीह तीसरे दिन मुर्दों में से जी उठे थे। इस दिन को मसीही लोग ईस्टर के रुप में मनाते है। उन्होंने पवित्र वचन बारे बताया कि मौत भी प्रभु यीशु मसीह जी को नहीं रोक सकी। इस अवसर पर सीनियर पास्टर नितिन, विलियम, सोनू अटवाल, जगराज, बोवी, संदीप, एसएच बराड़, भाई पम्मा, जोगिंदरपाल, पीटर खीरांवली, नरिंदर अरोड़ा के अलावा अन्य मौजूद थे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Kapurthala

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×