• Hindi News
  • Punjab
  • Kapurthala
  • गेहूं का रेट तय करने के लिए किसानों ने की नारेबाजी
--Advertisement--

गेहूं का रेट तय करने के लिए किसानों ने की नारेबाजी

Dainik Bhaskar

Feb 02, 2018, 02:40 AM IST

Kapurthala News - भारतीय किसान यूनियन (कादियां) ने मांगों को लेकर डीसी दफ्तर के सामने जिलाध्यक्ष जसबीर सिंह लिट्‌टा की अध्यक्षता...

गेहूं का रेट तय करने के लिए किसानों ने की नारेबाजी
भारतीय किसान यूनियन (कादियां) ने मांगों को लेकर डीसी दफ्तर के सामने जिलाध्यक्ष जसबीर सिंह लिट्‌टा की अध्यक्षता में पंजाब सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। किसानों ने डीसी मोहम्मद तैयब को ज्ञापन भी दिया। किसानों की मांग की कि डीजल का रेट कम किया जाए। गेहूं का रेट 4000 रुपए प्रति क्विंटल रखा जाए। कीटनाशक दवाइयों और बीजों पर सब्सिडी दी जाए। किसानों ने चेतावनी दी कि यदि उनकी मांगें पूरी न हुई तो वह 23 फरवरी को दिल्ली में घेराव करेंगे।

किसानों की मोटरों पर बिजली मीटर लगाकर बिजली बिल लगाने की तैयारी की जा रही है, इसे रोका जाए, स्वामीनाथन रिपोर्ट लागू की जाए। फसलों के रेट स्वामीनाथन रिपोर्ट के मुताबिक तय किए जाए। कीटनाशक दवाइयों और बीजों के रेटों पर सब्सिडी दी जाए। किसानों का वायदें के मुताबिक पूरा कर्ज माफ किया जाए। मक्की का रेट 2000 रुपए, आलू का एक हजार रुपए और गन्ने का 400 रुपए प्रति क्विंटल किया जाए। किसानी औजारों से जीएसटी खत्म की जाए। उन्होंने चेतावनी दी कि यदि सरकार ने उनकी मांगें पूरी न की तो भारतीय किसान यूनियन और अन्य किसान जत्थेबंदियां 23 फरवरी को दिल्ली में घेराव करेगी। इस अवसर पर सर्बजीत सिंह बाठ, दलबीर सिंह नानकपुर, प्रेम सिंह कमराएं, जसविंदर सिंह, सुरिंदर सिंह शेरगिल, कर्म सिंह, कुलबीर सिंह, निर्मल सिंह, दलजीत सिंह, गुरमीत सिंह, कुलदीप सिंह, महिंदर सिंह, गुरचरण सिंह, तिरलोक सिंह, रविंदर सिंह, बलविंदर सिंह मौजूद थे।

डीसी कार्यालय के सामने सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते किसान।

X
गेहूं का रेट तय करने के लिए किसानों ने की नारेबाजी
Astrology

Recommended

Click to listen..