--Advertisement--

थाना सिटी के एसएचओ गब्बर सिंह ने कहा कि रांझा

थाना सिटी के एसएचओ गब्बर सिंह ने कहा कि रांझा के साथ किसी भी तरह की कोई मारपीट नहीं की गई। रांझा का पहले 10 मार्च को...

Danik Bhaskar | Apr 01, 2018, 03:20 AM IST
थाना सिटी के एसएचओ गब्बर सिंह ने कहा कि रांझा के साथ किसी भी तरह की कोई मारपीट नहीं की गई। रांझा का पहले 10 मार्च को मेडिकल करवाया गया। बाद में 12 मार्च को मेडिकल करवा कर उसे जेल भेजा गया है। वह रांझा से मारपीट क्यों करेंगे। उनकी कोई उससे निजी दुश्मनी नहीं थी। अब रिपोर्ट में क्या आया मुझे नहीं पता। अकाली दल के आईटी विंग के नेता विक्की गुजराल ने कहा कि पहले पुलिस ने उनपर झूठा मामला दर्ज कर दिया। 9 मार्च को उसके भाई रांझा गुजराल को चंडीगढ़ खरड़ से गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने मामले में उसकी गिरफ्तारी कपूरथला से दिखाई है। गिरफ्तारी के बाद रांझा गुजराल पर थर्ड डिग्री टार्चर दिया गया। रांझा को जब पुलिस ने अदालत में पेश किया तो उसने अपने पर हुए अत्याचार की बात अदालत में बताई। अदालत के आदेश पर रांझा का मेडिकल करवाया गया। 16 मार्च को सिविल अस्पताल के डॉक्टर ने मेडिकल कर रिपोर्ट जारी कर दी। जिसमें लिखा गया है कि रांझा पर पिछले 7 से 10 दिन में शरीर पर मारपीट के निशान हैं। रांझा गुजराल के भाई विक्की गुजराल और सिविल के एक अधिकारी की बातचीत की ऑडियो वायरल हुई है। ऑडियो में कहा जा रहा है कि रांझा गुजराल की रिपोर्ट को बदलने के लिए कई कोशिशें क लेकिन डॉक्टर ने रिपोर्ट नहीं बदली। ऑडियो में सिविल के वरिष्ठ अधिकारियों का नाम लिया जा रहा है।