प्रेम से जपोगे तो मिटेंगे सारे गम, बोलो बम भोले बम भोले बम बम...

Kapurthala News - शिव शंकर को जिसने पूजा उसका ही उद्दार हुआ, अंत कॉल को भव सागर में उसका बेड़ा पार हुआ, भोले शंकर की पूजा करो,‘बम भोले...

Feb 22, 2020, 07:51 AM IST
Kapurthala News - if you chant with love all the grief will disappear say bomb naive bomb naive bomb bomb

शिव शंकर को जिसने पूजा उसका ही उद्दार हुआ, अंत कॉल को भव सागर में उसका बेड़ा पार हुआ, भोले शंकर की पूजा करो,‘बम भोले बम भोले बोलो बम बम, यहीं वो तंत्र है यहीं वो मंत्र है, प्रेम से जपोगे तो मिटेंगे सारे गम, बम भोले बम भोले बोलो बम बम…। यह अदभुत नजारा शुक्रवार को महाशिवरात्रि के उपलक्ष्य में शहर के विभिन्न मंदिरों में देखने को मिला। सुबह से लेकर देर शाम तक सभी मंदिरों में श्रद्धालुओं का तांता लगा रहा। लंबी कतारों में लगे श्रद्धालु जय बम भोले, जय बम भोले के जयकारे लगाते दिखाई दिए। वहीं श्रद्धालुओं ने विभिन्न मंदिरों में जाकर शिवलिंग पर जल, दूध, बेलपत्र, बेर और भांग चढ़ा कर पूजा अर्चना की। मान्यता है कि इस दिन शिवलिंग पर उक्त यह सब कुछ चढ़ाने से भक्तों की सभी मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं और उसे महादेव की विशेष कृपा मिलती है। इसके अलावा शहर के सभी मंदिरों में महाशिवरात्रि के उपलक्ष्य में संकीर्तन व भंडारे का आयोजन किया गया।

}सभी मंदिरों में पुलिस के कड़े सुरक्षा प्रबंध


एसएसपी सतिंदर सिंह ने कहा कि महाशिवरात्रि को लेकर शहर के सभी मंदिरों में धार्मिक समागमों का आयोजन किया है। सभी मंदिरों में हजारों की संख्या में श्रद्धालु नत्मस्तक हुए है। श्रद्धालुओं की सुरक्षा के लिए सभी मंदिरों में पुलिस की ओर से सुरक्षा के कड़े प्रबंध किए गए है। वहीं सिविल में भी पुलिस की टीमें गश्त कर रही है। ताकि कोई भी शरारती तत्व अपनी आपराधिक गतिविधियों को अंजाम न दें सके।

}ब्रह्मकुंड मंदिर में विराजमान चार ज्योति
स्वरूपों के दर्शनों के लिए भी लगी कतारे


ब्रहम्कुंड के प्राचीन शिव मंदिर में महाशिवरात्रि को माता भद्रकाली, श्री काली नाथ कलेेश्वर, त्रियुगी केदारनाथ व श्री महाकलेश्वर उज्जैन की पावन ज्योति स्वरूपों को विराजमान किया गया। जिनके दर्शनों के लिए भी सुबह से देर शाम तक लंबी-लंबी कतारें लगी रही। श्रद्धालुओं ने चारों ज्योति स्वरूप के समक्ष नतमस्तक होकर अपने परिवार की सुख समृद्धि के लिए प्रार्थना की। इस मौके शहर के सभी मंदिरों में श्रद्धालुओं के लिए कई प्रकार के लंगर लगाए गए।


}इन मंदिरों में 5 से 7 हजार तक श्रद्धालुओं ने टेका माथा, पूजा-अर्चना की


शहर के शालीमार बाग स्थित ब्रह्मकुंड के प्राचीन शिव मंदिर में विशाल मेले का आयोजन किया। जहां पर प्रसिद्ध भजन मंडलियों ने भगवान भोलेनाथ जी की महिमा का गुणगान करते हुए भक्तजनों को प्रभु चरणों के साथ जोड़े रखा। इसी तरह श्री शनि धाम मंदिर, श्री प्राचीन पंचमुखी शिव मंदिर कचहरी चौंक, श्री नीलकंठ मंदिर अर्बन एस्टेट, श्री प्राचीन शिव मंदिर कपूरथला-जालंधर बाईपास, श्री मणि महेश मंदिर, श्री रामनाथ मंदिर सिटी हाल, माता शीतला मंदिर जलौखाना, श्री राम मंदिर प्रीत नगर, श्री शिवालय मंदिर शेखूपुर, श्री लक्ष्मी नारायण मंदिर, श्री रानी साहिबा मंदिर और प्राचीन शिव मंदिर अमृत बाजार के अलावा अन्य मंदिरों में भी कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इन सभी मंदिरों में 5 से 7 हजार तक श्रद्धालुओं ने माथा टेक कर भगवान शिव जी की
पूजा अर्चना की।

श्रद्धा : मंदिरों को रंग-बिरंगी लाइटों से सजाया, सुबह 5:00 बजे से लगा तांता

शहर के एक मंदिर में पूजा अर्चना करते पंडित व श्रद्धालु। (दाएं) ब्रह्मकुंड मंदिर में आयोजित महाशिवरात्रि मेले में उमड़ी भीड़।

Kapurthala News - if you chant with love all the grief will disappear say bomb naive bomb naive bomb bomb
Kapurthala News - if you chant with love all the grief will disappear say bomb naive bomb naive bomb bomb
X
Kapurthala News - if you chant with love all the grief will disappear say bomb naive bomb naive bomb bomb
Kapurthala News - if you chant with love all the grief will disappear say bomb naive bomb naive bomb bomb
Kapurthala News - if you chant with love all the grief will disappear say bomb naive bomb naive bomb bomb

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना