Hindi News »Punjab »Kapurthala» अपने जिले की 8 लड़कियां 10वीं की मेरिट में रहीं, यहीं के 3 स्कूलों में सभी बच्चे फेल और 2 स्कूलों में 1-1 ही हुआ पास

अपने जिले की 8 लड़कियां 10वीं की मेरिट में रहीं, यहीं के 3 स्कूलों में सभी बच्चे फेल और 2 स्कूलों में 1-1 ही हुआ पास

पंजाब स्कूल शिक्षा बोर्ड की ओर से घोषित 10वीं के परिणामों में जिले की पिछले साल से पास प्रतिशत 52.44 से बढ़कर 63.58 पास...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 18, 2018, 03:35 AM IST

पंजाब स्कूल शिक्षा बोर्ड की ओर से घोषित 10वीं के परिणामों में जिले की पिछले साल से पास प्रतिशत 52.44 से बढ़कर 63.58 पास प्रतिशत हुई है। वहीं, जिले के 10 स्कूलों का परिणाम बेहद चिंताजनक रहा है। इनमें 3 स्कूल ऐसे हैं, जिनका नतीजा सिफर ही आया है। दो स्कूलों में मात्र 1-1 बच्चा ही पास हुआ है। पांच स्कूलों में 2 से 4 तक ही बच्चे पास हुए हैं। नशे से बदनाम माने जाते गांव बूट के स्कूल का परिणाम बेशक चिंताजनक रहा है। स्कूल का सिर्फ 1 ही बच्चा पास हुआ है। स्कूल के 36 बच्चों ने परीक्षा दी थी, इसमें से 35 बच्चे फेल हो गए हैं। इन स्कूलों के चिंताजनक परिणामों के बाद शिक्षा विभाग ने इनकी रिपोर्ट तैयार कर ली है। स्कूलों का परिणाम इतना घटिया कैसे रहा, कहां और किसकी लापरवाही हुई है। यह पता लगाने के लिए शिक्षा विभाग ने टीम गठित कर दी है। विभागीय सूत्रों की मानें तो शिक्षा विभाग चिंताजनक परिणाम वाले स्कूल प्रबंधकों की फेरबदल करने की तैयारी में है। शिक्षा मंत्री भी इसे लेकर सख्ती में है। वहींस गांव बूट कपूरथला जिले का नशे में सबसे बदनाम गांव माना गया है। यह एक ऐसा गांव है, जहां के ज्यादातर लोगों पर कोई न कोई मामला दर्ज है। ज्यादातर एनडीपीएस एक्ट के मामले हैं। यानि के नशे के मामले। यह गांव नशा बेचने और नशा करने के लिए खूब बदनाम रहा है। कांग्रेस सरकार ने सत्ता में आते ही नशा छुड़ाने के लिए इसी गांव से शुरुआत की थी। अब तक गांव से करीब 50 से ज्यादा तस्कर जेल में भेजे गए हैं। नशा खत्म तो नहीं हुआ लेकिन कम हो गया है। गांव बूट के सरकारी सेकेंडरी स्कूल के 36 बच्चों में से सिर्फ 1 बच्चा ही पास हुआ है।

10वीं की कक्षा का जब रिजल्ट आया तो प्रेमजोत सीनियर सेकेंडरी स्कूल में अव्वल आए स्टूडेंट्स का मुंह मीठा करवाकर खुशी मनाई गई लेकिन कई सरकारी स्कूलों में परीक्षा परिणाम बेहतर न आने के कारण अब प्रबंधकों पर गाज गिर सकती है।

इन स्कूलों में सभी बच्चे फेल

स्कूल स्टूडेंट

गवर्नमेंट हाई स्कूल बाउपुर जैदिक 8

गवर्नमेंट सीनियर सेकेंडरी स्कूल फत्तूढींगा 60

शहीद सिपाही अवतार सिंह गवर्नमेंट सीसे स्कूल दियालपुर 42

इन स्कूलों का 1 बच्चा ही पास

स्कूल स्टूडेंट

सरकारी सेकेंडरी स्कूल बूट 36

गवर्नमेंट हाई स्कूल खानेवाल 17

इन स्कूलों में 2 से 3 बच्चे ही पास

स्कूल पास

गवर्नमेंट हाई स्कूल औजला में 10 स्टूडेंट्स 2

गवर्नमेंट हाई स्कूल ढुढियांवाला में 19 स्टूडेंट्स 3

गवर्नमेंट हाई स्कूल आहली कलां में 30 स्टूडेंट्स 3

गवर्नमेंट हाई स्कूल देहलांवाला में 17 स्टूडेंट्स 4

एसएलएन परमजीत सिंह (सेना मॉडल) स्कूल सुरखपुर 36 स्टूडेंट्स 4

सूबे में 11वें स्थान पर पहुंचा कपूरथला

साल 2017 में कपूरथला की सूबे में 11वें स्थान पर पास प्रतिशत आई है। 8 लड़कियां स्टेट मेरिट में आईं। जसमीन कौर ने 97% अंक लेकर जिले में टॉप किया।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Kapurthala

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×