पलकों व कोर कार्निया को नुकसान पहुंचाता है ट्रेकोमा : डॉ. संदीप धवन

Kapurthala News - सिविल सर्जन डॉ. बलवंत सिंह के आदेशानुसार व नेशनल ब्लाइंडनेस कंट्रोल प्रोग्राम के तहत आंखों के रोग ट्रेकोमा पर...

Bhaskar News Network

Jun 14, 2019, 08:05 AM IST
Kapurthala News - trachoma damage to the eyelids and the core carnia dr sandeep dhawan
सिविल सर्जन डॉ. बलवंत सिंह के आदेशानुसार व नेशनल ब्लाइंडनेस कंट्रोल प्रोग्राम के तहत आंखों के रोग ट्रेकोमा पर मेडिकल व पैरा-मेडिकल स्टाफ को ट्रेनिंग दी जा रही है। इस संबंधी नेशनल ब्लाइंडनेस कंट्रोल प्रोग्राम अधिकारी व आंखों के विशेषज्ञ डॉ. संदीप धवन ने बताया कि इस ट्रेनिंग का उद्देश्य लोगों को आगे जाकर ट्रेकोमा रोग के बारे में जागरूक करना है और समय-समय पर स्क्रीनिंग करके इलाज के लिए रेफर करना है।

उन्होंने कहा कि ट्रेकोमा एक लाग का रोग है जो आंखों की पलकों पर असर करता है। इस कारण पलक अंदर की ओर मुड़ जाती है जिस कारण पलक के बाल कॉर्निया पर नुकसान पहुंचाते हैं। ट्रेकोमा होने से आंखों में रड़क पैदा होती है। आंखों में पानी आता है, लाली हो जाती है और पलक के बाल अंदर की ओर पलट जाते हैं। यदि ऐसे लक्षण नजर आने तो तुरंत माहिर डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए। उन्होंने स्टाफ को कहा कि वे फील्ड में जाकर लोगों को इस संबंधी जागरूक करे और यदि कोई ऐसा मरीज जिसमें ट्रेकोमा के लक्षण नजर आते हैं तो उसे तुरंत माहिर डॉक्टर के पास रेफर किया जाए।

ट्रेनिंग मौके उपस्थित मेडिकल व पैरा-मेडिकल स्टाफ।

डॉक्टरी सलाह के बिना आंख में न डालें दवा

डॉ. धवन ने ट्रेनिंग लेने आए मेडिकल व पैरा-मेडिकल स्टाफ को ट्रेकोमा की स्क्रीनिंग के बारे में विस्तार से जानकारी देते बताया कि किस तरह सर्जरी, एंटीबायोटिक दवाइयों का प्रयोग व निजी साफ-सफाई रखकर इस बीमारी से बचा जा सकता है। उन्होंने यह भी कहा कि अकसर लोग आंखें खोल कर छींटे मारते हैं जो गलत है और ट्रेकोमा का कारण बनता है। साथ ही डॉक्टरी सलाह के बिना आंखों में कोई भी दवा डालना गलत है।

X
Kapurthala News - trachoma damage to the eyelids and the core carnia dr sandeep dhawan
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना