अल्पसंख्यक स्टूडेंट्स को स्कॉलरशिप देने के नाम पर फॉर्म दे वसूल रहे 100 रुपए

Ludhiana News - अल्पसंख्यक समुदाय के स्टूडेंट्स को स्कॉलरशिप का लाभ देने के लिए केंद्र सरकार भरपूर प्रयास कर रही है। संस्था सफल...

Bhaskar News Network

Sep 14, 2019, 08:26 AM IST
Ludhiana News - 100 rupees in the name of giving scholarship to minority students
अल्पसंख्यक समुदाय के स्टूडेंट्स को स्कॉलरशिप का लाभ देने के लिए केंद्र सरकार भरपूर प्रयास कर रही है। संस्था सफल करियर की ओर से इसका लाभ बच्चों तक पहुंचाने के लिए हर बच्चे के फॉर्म भरने का 100 रुपए ले रही है। इसके लिए उनकी ओर से टीमें बनाई गई हैं, जोकि स्कूलों में जाकर फॉर्म मुहैया करवाए जा रहे हैं। यह प्रोसेस ऑनलाइन होने की बात की जा रही है। स्टूडेंट्स फॉर्म भरने के नेशनल स्कॉलरशिप पोर्टल और इंस्टीट्यूट नोडल अफसर रजिस्ट्रेशन फॉर्म ऑनलाइन भर सकते हैं। जब ऑनलाइन सुविधा है तो मैनुअल फॉर्म भरवाकर पैसे किस बात के लिए जा रहे हैं। जिन स्कूलों में फॉर्म दिए गए, उन्होंने इसका विरोध भी किया। गौर हो कि शुक्रवार को सफल करियर की टीम ने पूर्वी हलके के स्कूलों में विजिट किया और स्कूलों में फॉर्म दे दिए और कहा कि बच्चों के फॉर्म भरवाकर रख लें और हर बच्चा 100 रुपए लें। अगली बार आएंगे और पैसे ले लेंगे।

फॉर्म में इन शर्तों का जिक्र

सफल करियर संस्था की टीम ने जो स्कूलों में फॉर्म जमा करवाए जा रहे हैं, उनमें ऑनलाइन फॉर्म भरने की बात लिखी है। इसके बाद प्री-मैट्रिक स्कॉलरशिप स्कीम में परिवार की सालाना आमदन एक लाख से कम होनी चाहिए। पहली से 10वीं तक के स्टूडेंट को 1000 से 5700 की सालाना मदद मिलेगी। पोस्ट मैट्रिक स्कॉलरशिप स्कीम में परिवार की सालाना आमदन दो लाख से कम होनी चाहिए। इसमें 11वीं से कॉलेज की पढ़ाई तक 6 हजार से 9300 सालाना मदद मिलेगी। इसमें स्टूडेंट्स से आधार कार्ड, स्टूडेंट के बैंक अकाउंट की कॉपी, पासपोर्ट साइज फोटो, पिछली कक्षा का रिजल्ट, अगस्त की फीस रसीद की फोटो कॉपी मांगी गई है। अंत में जरूरी नोट के साथ 100 रुपए लेने की बात भी लिखी है।

स्टूडेंट्स बाहर फॉर्म भरने जाएंगे तो वहां भी पैसे देंगे

सफल करियर ऑर्गेनाइजेशन की मोटिवेशनल स्पीकर हरजीत कौर ने बताया कि सभी स्कूलों में अल्पसंख्यक समुदाय के लोग स्कॉलरशिप का लाभ ले सके इसके लिए उन्हें टीमें बनाकर स्कूलों में भेजी है। बच्चे बाहर भी ऑनलाइन फॉर्म भरने के पैसे देंगे। इसमें कैफे वाले कई बार गलतियां भी कर देते हैं। इसलिए स्कूल वाले भी यह फॉर्म ऑनलाइन भर सकते हंै और पैसे ले सकते हंै। स्कूल बच्चों के बारे में जानते हैं और सही फॉर्म भरेंगे।

जिस स्कूल में ऐसा हुआ है उसका फॉर्म भेजें: डीईओ

डिस्ट्रिक्ट एजुकेशन अफसर स्वर्णजीत कौर ने बताया कि स्कूलों की ओर से उन्हें फॉर्म ऑनलाइन भरे जा सकते हैं, क्योंकि वह नोडल अफसर हैं। कोई बड़ी बात नहीं है, जब डीईओ से फॉर्म के पैसे को लेकर बात की गई तो उन्होंने कहा कि आप स्कूल का नाम बताएं, उसके बाद देखेंगे क्या करना है। इसके बाद डीईओ से दोबारा पूछा गया तो उन्होंने मीटिंग का कह कर फोन काट दिया और उसके बाद फोन उठाना तक जरूरी नहीं समझा।

X
Ludhiana News - 100 rupees in the name of giving scholarship to minority students
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना